शराब छुड़ाने की जड़ी बूटी । दारू छुड़ाने के 11 घरेलू उपाय

Sharab chhudane ki jadi buti

शराब छुड़ाने की जड़ी बूटी । दारू एक ऐसी लत हैं जो एक बार लग जाने के बाद छोड़ने का नाम ही नहीं लेती हैं । यह जानते हुए भी कि शराब जैसा नशा सेहत के लिए हानिकारक होता है । जब इनके तमाम दुष्प्रभाव भोग कर या किसी को बर्बाद होते देखकर शराब छोड़ने की जिद्द करते हैं ।

फलस्वरूप विभिन्न प्रकार की दवाओं या शराब छोड़ने की जड़ी बूटी की तलाश करते हैं । ये बात अलग है कि ये जड़ी बूटियां हमारे आस पास होती हैं जिनकी हमे पहचान एवं सेवन करने की विधि पता नहीं होती हैं ।

वैसे आपको बता दें कि शराब, बीड़ी, सिगरेट व अफीम एक सामाजिक बुराई है । कुछ लोग परंपरा से जोड़कर देखते हैं । लेकिन आज के सभ्य समाज में इन बुराइयों को जड़ से मिटाना आवश्यक है । नशा इंसान को मानसिक रूप से आदी बना लेता है जिससे इंसान को नशा करना ही पड़ता है । यदि आप नशा छोड़ने का दृढ़ संकल्प लें चुके हैं और नशा मुक्ति के लिए जड़ी बूटी की तलाश कर रहे हैं तो आप सही लेख पढ़ रहे हैं तो चलिए जानते है – शराब छुड़ाने जड़ी बूटी –

पढ़े – अश्वशक्ति पाउडर के फायदे नुकसान । Ashwashakti powder ke fayde.

शराब पीने के नुकसान

जैसा कि हम सभी जानते है शराब में एल्कोहल की मात्रा पाई जाती हैं जो सेहत के लिए हानिकारक होता हैं । इसी प्रकार बीड़ी, सिगरेट भी तम्बाकू उत्पाद हैं जिससे हानिकारक एंजाइम बनाता हैं । कुलमिलाकर देखा जाए तो नुकसान ही नुकसान हैं ।

सेहत की दृष्टि से बात करें तो शराब या अन्य नशा हमारे स्नायु तंत्र को प्रभावित करता है । इनसे उत्पन्न होने वाले हानिकारक एंजाइम कैंसर, लिवर को क्षतिग्रस्त करना एवं फेफड़ों को जबरदस्त नुकसान पहुचाते हैं ।
अब बात करें आर्थिक दृष्टि से तो नशा इंसान को आर्थिक दृष्टि से कमजोर करके दिवालिया बना देता है । काम की जितनी फिक्र नहीं होती हैं उतनी शराब पीने की लत लगी हुई होती हैं । लिहाजा कामना तो दूर उल्टा कर्ज़दार बन जाता है ।

मौज मस्ती और अमीरी लत या नासमझी की हदें शराब या अन्य नशे की आदत से शुरू होने वाली यह लत आखिर में इंसान को हर प्रकार बर्बाद कर देती हैं । 206 हड्डियों वाले मानव शरीर में हड्डियां तो होती हैं मगर उन्हें जंग लग जाता है । लिहाजा इस नशे को छोड़ने में भलाई है ।

पढ़े – इज़ोल टॉनिक के फायदे । Eazol health tonic uses in hindi.

शराब छुड़ाने की जड़ी बूटी से घरेलू उपचार

जब एक बार शराब पीने की या किसी भी नशे जैसे बीड़ी, सिगरेट, तम्बाकू या अफीम आदि जिसे छोड़ना काफी मुश्किल हो जाता है । क्योंकि इनके 2 कारण होते है जैसे शरीर नशे का आदी हो जाता हैं और दूसरा कारण नशे से बॉडी को नई ऊर्जा मिलती हैं । ऐसे में नशा छोड़ने का सबसे पहला पॉइंट हैं – दृढ़ संकल्प और फिर कारगर दवा, खानपान ।

यदि आप दृढ़ निश्चय कर लेते हैं कि मुझे आज के बाद शराब नहीं पीना हैं या कोई भी नशा नहीं करना है तो यकीन मानिए 50% तक आपने दवा का काम कर दिया । अब यदि आप युवा हैं तो आपको किसी भी दवाई की आवश्यकता नहीं है बस थोड़ा खानपान बदल दीजिये । ताकि बॉडी को जिस एनर्जी की आवश्यकता होगी वो भोजन से पूरी हो जाती हैं ।

पिछले लेख ( पतंजलि शराब छुड़ाने की दवा ) के बारे में आप पढ़ चुके हैं । आज के लेख में उन जड़ी बूटियों के बारे में बताने जा रहे है जो शराब को छुड़ाने में कारगर है तो चलिए जानते है – Sharab chhudane ki jadi buti.

अश्वगंधा ( Ashwagandha ) –

यह एक प्रकार की आयुर्वेदिक जड़ी बूटी हैं । इनका उपयोग विभिन्न प्रकार के रोगों के लिए किया जाता है । आयुर्वेद के अनुसार अश्व यानी घोड़ा, गंधा यानी गंध अर्थात यह एक ऐसा पौधा है जिनकी जड़े एवं पत्तियों में घोड़े जैसी गंध आती हैं । इसलिए अश्वगंधा कहा जाता है ।

दूसरी बात आयुर्वेदिक एक्सपर्ट के अनुसार अश्वगंधा का सेवन करने से घोड़े जैसी ताकत आती हैं । यह औषधि विभिन्न प्रकार के यौन विकारों जैसे शीघ्रपतन, स्वप्नदोष, धातु रोग एवं शारीरिक दुर्बलता दूर करने के लिए किया जाता है । इसी प्रकार इस औषधि का सेवन करने से शराब की लत को छोड़ने में आसानी होगी । यह जड़ी बूटी शरीर को ताकत देती हैं । शारिरिक थकान व कमजोरी दूर होती हैं । पढ़े – महिलाओं के लिए अश्वगंधा के फायदे

ब्राम्ही – शराब छुड़ाने की जड़ी बूटी

यह एक आयुर्वेदिक जड़ी बूटी हैं । यह दिमाग को शांत रखने की कारगर औषधि मानी जाती है । इनके अलावा इनका उपयोग बालो की प्रॉब्लम के लिए किया जाता हैं ।

शराब जैसे बुरी लत से बचने के लिए इस जड़ी बूटी का सेवन भी फायदेमंद होता है। क्योंकि एक शोध के अनुसार ज्यादातर लोग किसी टेंशन या ठीस के कारण शराब पीते हैं। ब्राम्ही का नियमित रूप से उपयोग से दिमाग शांत रहता है। और शराब पीने की इच्छा नहीं होती ।

पढ़े – पतंजलि बवासीर क्रीम एवं 5 सबसे बेस्ट आयुर्वेदिक दवा

करेले के पत्ते – शराब छुड़ाने की जड़ी बूटी

आमतौर पर इनका उपयोग सब्जी बनाने में किया जाता है । यह अनेकों बीमारियों के लिए कारगर औषधि है जैसे डायबिटीज आदि । यह बॉडी को डिटॉक्स करने में उपयोगी होता हैं । शराब छुड़ाने के लिए भी इस औषधि का इस्तेमाल किया जाता है ।

इनके लिए करेले के पत्तों का अर्क के साथ 2 चम्मच छाछ मिलाकर रोजाना खाली पेट सेवन करने से शराब पीने जैसी गंदी लत से निजात मिलती हैं । इसी प्रकार करेले का जूस भी शराब छोड़ने का अच्छा विकल्प होता हैं । यह बॉडी में अपशिष्ट पदार्थों को बाहर निकालने के साथ साथ शराब पीने की इच्छा को भी कम करता है ।

पढ़े – ब्रेस्ट बढ़ाने की दवा हिमालय । 5 बेस्ट स्तन बढ़ाने की टेबलेट व क्रीम

तुलसी से शराब छुड़ाने के उपाय

भारतीय संस्कृति में तुलसी के पौधे का बहुत महत्व है । अगर वैज्ञानिक आधार पर भी बात करें तो यह एक औषधीय गुणों से भरपूर पौधा है । जिसमे एंटीऑक्सीडेंट एवं एंटी इंफ्लेमेटरी जैसे गुण पाए जाते हैं । जो हमारी बॉडी में रोग प्रतिरोधी क्षमता को बढ़ाते हैं । यह बॉडी के अपशिष्ट पदार्थों को साफ करने के साथ साथ मन की गंदगी को भी क्लीन करने में उपयोगी होती है ।

शराब जैसी गंदी नशीली लत को छोड़ने के लिए तुलसी एक बेहतर विकल्प हो सकता है । इनके लिए नशेड़ी को सुबह उठकर खाली पेट रोजाना 5 – 7 तुलसी के हरे पत्तों का सेवन करना होगा । ऐसा करने से तन मन में ताज़गी बनी रहेगी बल्कि शराब पीने की इच्छा भी नहीं होगी । इनके अलावा तुलसी के पत्तों का सेवन चाय के साथ भी किया जा सकता है ।

अदरक रस व शहद – शराब छुड़ाने की जड़ी बूटी

अदरक एक एंटीऑक्सीडेंट के गुणों से भरपूर होती हैं । इनका उपयोग रसोई में चाय में डालकर किया जाता है । यह चाय को स्वादिष्ट बनाने के साथ साथ सेहतमंद भी बनाती हैं । सूखने के उपरांत इनका उपयोग सौठ के रूप में किया जाता है ।

शराब जैसी गंदी लत को छोड़ने के लिए अदरक रस में 2 – 4 शहद की बूंदे मिलाकर सेवन करने से शराब पीने की इच्छा नहीं होती हैं । यानी इसमे उपस्थित तत्व शराब पीने की इच्छा पर लगाम लगाकर नशेड़ी की लत को दूर करने में सहायक होते हैं ।

अजवाइन से शराब छुड़ाने के उपाय

आयुर्वेद के अनुसार अजवाइन पेट सम्बंधित प्रॉब्लम के लिए कारगर औषधि है । आमतौर इनका उपयोग डिलीवरी के बाद महिलाओं को हलवा बनाकर खिलाया जाता है । यह पेट की गैस व कब्ज दूर करने की रामबाण दवा है । इसी प्रकार शराब पीने की इच्छा पर लगाम कसने के लिए भी कारगर है ।

अजवाइन से शराब छुड़ाने के उपाय करने के लिए सबसे पहले 150g अजवाइन 2 लीटर पानी में उबालें । यह कार्य तब तक जारी रखे जब तक यह 1 लीटर रहे । अब ठंडा होने के उपरांत इस पानी को छानकर प्रतिदिन एक एक कप पानी का सेवन करें । ऐसा करने से शराबी को शराब पीने की इच्छा न होगी और बॉडी में ताजगी बनी रहेगी ।

जमालगोटा से शराब कैसे छुड़ाए

आयुर्वेद के अनुसार जमालगोटा एक आयुर्वेदिक औषधि है । इसे परगेटिव क्रोटन नाम से जाना जाता है । एक्सपर्ट के अनुसार इनका उपयोग पेट की सम्बंधित रोगों के उपचार के लिए किया जाता है । वही यह शराब जैसे बुरी लत को छुड़ाने के लिए भी कारगर औषधि है जिनका उपयोग आप घर पर आसानी से कर सकते है ।

Husband को शराब छुड़ाने के लिए जमालगोटा के बिज को 2 भागो में बांटकर कम से कम 3 घण्टे तक गाय के दूध में भिंगोकर रख दे ।

उपरोक्त अवधि के उपरांत इन बीजों को दूध से बाहर निकाल कर तब तक सुखाए जब तक पूर्ण रूप से सुख न जाएं । अच्छी तरीके सूख जाने के बाद रोजाना सुबह शाम आधा आधा चम्मच सेवन करें । ध्यान रखें अनुशासित मात्रा में सेवन करें ।

ऐसा करने से बहुत कम समय में सकारात्मक परिणाम देखने को मिलेंगे और शराब पीने की लत से निजात मिल जाएगी ।

कुडजू ( Kudzu ) – शराब छुड़ाने की जड़ी बूटी

यह चीनी आयुर्वेदिक पौधा है । ज्यादातर इनका उपयोग चीनी दवाओं का निर्माण किया जाता है । जिसमें लिवर, हार्ट डिजीज एवं डायबिटीज जैसे रोगों का उपचार किया जाता है । हाल ही में वर्ष 2015 में हुए नए अध्ययन के मुताबिक एल्कोहल रिएक्शन के लिए कारगर है ।

इसमे उपस्थित एंटीऑक्सीडेंट नामक तत्व दिमाग को शांत करने के साथ साथ जोड़ो के दर्द से भी राहत प्रदान करते हैं । वही शराब पीने की इच्छा शक्ति को कम करते हैं । इनका उपयोग हर्बल सप्पलीमेंट एवं कैप्सूल के रूप में किया जाता है ।

पढ़े – मा हुनाग क्या है उपयोग एवं नुकसान | Maa huang in hindi.

हर्बल च्यूइंगम से दारू छुड़ाने का रामबाण उपाय

एक्सपर्ट के अनुसार च्यूइंगम शराबी लत को छुड़ाने के लिए कारगर उपाय हो सकता है । क्योंकि इसमें उपस्थित विभिन्न प्रकार के आयुर्वेदिक जड़ी बूटी जैसे पुनर्नवा, ब्राह्यी एवं अश्वगंधा के अवयवों का उपयोग किया जाता है । जो डिप्रेशन दूर करने, बॉडी की डिटॉक्स करने एवं थकान मिटाने के लिए उपयोगी होते है ।

हाल ही में हुए एक प्रयोग के अनुसार च्यूइंगम चबाने से केवल 7 दिन में शराब की लत से निजात पाई जा सकती है । हालांकि इसका पूर्ण रूप से पुष्टिकरण नहीं हुआ है । डॉक्टर के अनुसार 10 – 15 रुपये की च्यूइंगम का पैकेट शराब की इच्छा को कम करने में कारगर है । साथ ही इसमें मौजूद आयुर्वेदिक तत्व एल्कोहल के प्रभाव को कम करने में सहायक है ।

देसी दारू छुड़ाने के रामबाण घरेलू उपाय

Husband को छुड़ाने के लिए आप अपने घर पर ही कुछ उपाय कर सकते है । ऊपर बताई गई जड़ी बूटियों का सेवन करवा सकते है । इनके अलावा कुछ उपाय आपको बताने जा रहे हैं –

  • दृढ़ निश्चय – शराब, बीड़ी, सिगरेट आदि नशे की लत छोड़ने के लिए आपका दृढ़ निश्चय ही आपकी सबसे बड़ी दवाई हैं । परिणाम चाहे जो भी नशा छोड़ देंगे । यही दृढ़ संकल्प मन में लेना होगा ।
  • मन से नशा करने की आदत को दे मुक्ति – दिल से दृढ़ संकल्प लेने के बाद जब नशा करने की बात आए तो तुरंत डाइवर्ट करके अपने आपको दूसरे कार्यो में लिप्त रखें ताकि शराब पीने का ख्याल भी न आए ।
  • उचित खानपान – नशा छोड़ने के बाद बॉडी में थकान आ आए इसलिए खानपान जैसे फल, सब्जियां आदि का सेवन करें ।
  • इसी प्रकार रोजाना 4 – 5 किशमिश खाने शराबी लत से निजात मिलती हैं ।
  • खजूर को कद्दूकस करके पानी मे मिलाकर दिन में 3 बार पीने से शराब पीने की इच्छा नहीं होती है । इसी प्रकार गाजर का जूस भी उपयोगी है ।

अंतिम शब्द – आज के लेख शराब छुड़ाने की जड़ी बूटी ( Sharab chhudane ki jadi buti ) में दी गई जानकारी का उद्देश्य उन आयुर्वेदिक औषधियों के बारे में बताना है । इनका सेवन करने से योग्य वैध से परामर्श लें एवं नशा छोड़ने का दृढ़ निश्चय करे ।