हठ योग की परिभाषा । Benefits of hatha yoga in hindi

What is hatha yoga.


Benefits of Hatha yoga in hindi. हठयोग यह एक योग का प्रकार है । हठयोग भारत के योगियों द्वारा अभ्यास किया गया है । जो मानसिक विकास और शारीरिक विकास की प्रणाली है । इसमें शरीर स्वस्थ बनता है और मन को शांति मिलती है। हठ योग में कठिन आसन तथा मुद्राएं सिखाई जाती है । हठ योग के मुख्य गुरु मत्संद्रनाथ नाथ तथा गुरु गोरखनाथ माने जाते हैं । गोरखनाथ की भक्ति करने वाले साधक हठयोग करते हैं, जिन्हें नाथ योगी से जाना जाता है ।


हठ योग का महत्व वर्तमान काल में तो महत्वपूर्ण है, वही यह पूर्वा काल से महत्वपूर्ण माना गया है। जैसे एक बालक हठ पकड़ता है और हठ पकड़कर बैठ जाता हैं, वैसे ही हठयोग भी जिद पूर्वक हठ पूर्वक किया जाता है। Global health tricks की Yoga and fitness की इस कड़ी में जानते है – हठ योग की परिभाषा, मुद्रा एवं फायदे । Benefits of Hatha yoga in hindi –

पढ़े – तीसरी आंख कैसे खोले । Third eye activation in hindi.


हठ योग की परिभाषा । What is Hatha yoga in hindi. –

हमारे शरीर में दो मुख्य नाड़ी होती हैं, सूर्यनाड़ी और चंद्र नाड़ी। सूर्य नाड़ी दाएं और चंद्र नाड़ी बाएं ओर होती हैं। दोनों भी शरीर में प्राणवायु पहुंचाने का काम करती हैं। सूर्य नाड़ी ऊष्म तो चंद्र नाड़ी । ठंड होती हैं। दोनों का कार्य अलग अलग हैं । एक शरीर को गरम रखती हैं तो दूसरी शरीर को ठंड रखती हैं।

ह यानि हकार सूर्य नाड़ी ।
ठ यानि ठकार चंद्र नाड़ी ।

हठ योग यह योग कठिन है। इसके लिए निरंतर प्रयास करना साधक को जरूरी है। वह परिश्रमी ओर मेहनती होना चाहिए । तभी वह इस योग में सफलता पा सकता है। विविध ग्रंथों में हठयोग की परिभाषाएं अलग-अलग मिलती है । सिद्ध सिद्धांत संग्रह के अनुसार हठयोग की परिभाषा यह है कि, हकार यानी सूर्य तथा ठकार यानी चंद्र नाड़ी के योग को हठयोग कहते है।
योगशिखोपनिषध में भी हठयोग की परिभाषा के रूप में कहा है, अपान व प्राण, रज व रेतस सूर्य व चंद्र तथा जीवात्मा व परमात्मा का मिलन योग है।

महर्षि पंतजली ने भी हठयोग को महत्वपूर्ण माना है। वे भी हठयोग की परिभाषा में कहते है, हथपूर्वक मोक्ष का भेद हठयोग में किया जाता हैं।


हठयोग का मुख्य उद्देश्य | Benefits of hatha yoga in hindi.

हठ योग ( Benefits of hatha yoga ) से स्वास्थ्य का संरक्षण करना, रोग से मुक्ति दिलाना । अपने अंतर्मन को जागृत करना आदि । हठयोग के नियमित अभ्यास से हम अपना स्वास्थ्य तथा मानसिक शांति प्राप्त कर सकते हैं, परंतु यह योग आसान नहीं, इसमें हठयोग करने वाले का जीवन बहुत कष्टदायक और कठिन परिश्रम वाला होता है।

उसे अपने इंद्रियों पर काबू पाना जरूरी होता है। अगर हम अपने इंद्रियों पर काबू पा सके तो कठिन से कठिन परिश्रम कर सफलता पा सकते हैं । पर यह एक आम आदमी के लिए सहज नहीं क्योंकि मानसिक एकाग्रता से इंद्रियों पर काबू पाना इतना सहज नहीं होता और हठयोग में यह हठपूर्वक किया जाता है।


हठ योग कैसे करें – How to do hatha yoga in hindi. –

हठ योग एक ऐसी प्रक्रिया है जिसे साधक लक्ष्य प्राप्ति के लिए जिद करता है । यानी Benefits of hatha yoga in hindi. तब मिलता है जब साधक अपने उद्देश्य पूर्ति के लिए लगातार प्रयत्नशील रहता है । हठ योग करने के कुछ स्टेप बताने जा रहे है जो इस प्रकार है –

● सबसे पहले सूर्य नमस्कार करें ।

● सूर्य आराधना के बाद आसन करें ।

● अब मन को नियंत्रित करें । यानी आंखे मुनकर बैठ जाए एवं ध्यानासन करें ।

● अब विभिन्न मुद्राओं का प्रयोग करते हुए मन और परमात्मा को मिलाने का प्रयास करें ।

● अब सांस को रोककर बॉडी को स्थिर अवस्था में रखते हुए हठ योग की इस कड़ी में बंध का अभ्यास करें ।

● इंद्रियों को काबू करने के लिए प्रणायाम का अभ्यास करें ।

● अंतिम चरण में मन की गुप्त शक्तियों को जागृत करने के कुंडलिनी जागरण योग करें । इन शक्तियों से मन का आत्मा का मिलन सम्भव होगा ।

Benefits of hatha yoga in hindi.


हठयोग के फायदे – Benefits of hatha yoga in hindi. –

Hatha yoga ke fayde in hindi. योग एक ऐसी क्रिया है जो हमारी मानसिक संतुलन और शारीरिक संतुलन को सक्षम बनाता है साथ ही वह कई गंभीर बीमारियों से हमें बचाने में मदद भी करता है हठयोग का फायदा तभी होगा जब हम किसी प्रशिक्षित गुरु की देखरेख में करें हठयोग में कई प्रकार की मुद्राओं का अभ्यास किया जाता है । जो साधक के विकार तथा समस्या पर निर्धारित कर सिखाया जाता है। जिन्हें कुछ भी विकार नहीं है, उन्हें हठयोग के सारे मुद्राओं तथा योग सिखा कर स्वस्थ, तंदुरुस्त बनाया जाता है। तो चलिए जानते – हठ योग के फायदे –

● हठ योग करने से हमारी प्रतिकार क्षमता बढ़ती है । हठयोग प्रतिकार क्षमता बढ़ाता है।

● तनाव को दूर कर मन शांत करता हैं । चिंता तनाव से मुक्ति दिलाता हैं।

● हड्डियों को मजबूती मिलती हैं हठयोग करने से । कमरदर्द, घुटने का दर्द निकल जाता है । इसके लिए निरंतर प्रयास करना साधक को जरूरी है।

● पीठ दर्द से राहत मिलती हैं। मांस पेशियों को मजबूती मिलती हैं, मांस पेशियों की जकड़, दर्द को दूर करता हैं।

वजन घटाने के लिए हठ योग । Benefits of hath yoga in Hindi.

● हठ योग का सबसे बड़ा benefits of hatha yoga यह है कि हठयोग वजन कम करने का काम हठयोग करता हैं, साथ ही हमारा ब्लड प्रेशर को कंट्रोल में रखता है, जिसके कारण हमारा हृदय स्वस्थ रहता हैं। हार्ट अटैक आने से मुक्ति दिलाता हैं। हार्ट कि बीमारी से हम दूर रहते है।

● त्वचा में चमक आती हैं। रोजाना योग करने से त्वचा बेदाग हो जाती हैं। शरीर में निखार आ जाता हैं।

● हठयोग में सूर्य नमस्कार भी किया जाता है। प्राणायाम कर अपने इंद्रियों पर नियंत्रण करना सिखाया जाता है । इस प्रकार हठयोग के फायदे ( Benefits of hatha yoga ) बहुत पर उसे प्रशिक्षित शिक्षक द्वारा ही सीखना चाहिए ।

● आज के तनाव रहित भाग दौड़ भरी जिंदगी में हठयोग सीखना और करना जरूरी है । जिससे हमारे असंतुलित मन को संतुलित कर, आनंद भरा, तंदुरुस्त जीवन हम जी सकते है।

पढ़े – अनुलोम विलोम के फायदे । Anulom vilom ke fayde nuksan.

हठ योग के प्रमुख आसन । Benefits of hatha yoga in hindi.

हठयोग में निम्न के प्रकार के योग सिखाए जाते हैं :

1. वृक्षासन,

2. ताड़ासन,

3. अधोमुख शवासन,

4. बद्धा कोणासन,

5. पश्चिमोत्तानासन,

6. सेतु बंधासन,

7. बालासन, पढ़े – बालासन के लाभ व विधि । Balasan ke fayde nuksan.

8. शलभासन,

9. उत्तानासन ।

हठ योग के नुकसान | Hatha yog ke nuksaan.

● हठ योग करते समय कुछ सावधानियां बरतनी होगी। जैसे अगर आपकी कमर में दर्द है, तो आप हठयोग नहीं कर सकते ।
● आपकी हड्डियों में कोई सर्जरी हुई है, तो भी आप हठयोग नहीं कर सकते ।
● गर्भवती स्त्रियां भी हठयोग नहीं कर सकती।

पढ़े – मूलाधार चक्र जागृत कैसे करें । Mukaddar chakra in hindi.

अगर आप पहली बार हठयोग करते हैं तो प्रशिक्षित गुरु से ही आपको सीखना चाहिए । वरना आपको तकलीफ हो सकती है। अगर आप किसी की सुनी हुई बातें या किसी को देखकर यह पढ़कर हठयोग करना शुरू करेंगे तो आप सरलता पूर्वक सहजता पूर्वक नहीं कर पाएंगे और आपके मन में इसके प्रति नकारात्मक विचार आएंगे क्योंकि हठयोग यह योग कठिन है इसमें निरंतर प्रयास करना साधक को जरूरी है ।

FAQ

Q1. हठयोग का उद्देश्य क्या है ?

जबाब – स्वास्थ्य का संरक्षण करना, रोगों से मुक्ति दिलाना, अपने अंतर्मन को जागृत करना, शरीर को तंदुरुस्त और तनाव रहित संतुलित बनाना ।


Q2. हठयोग कैसे किया जाता है ? Benefits of Hatha yoga in hindi. 

जबाब – हठयोग करने से पहले वातावरण अल्लाह दायक, शांत व स्वच्छ जगह पर मैट बिछाना चाहिए । मन आनंदी होना चाहिए । योगा करने की इच्छा तथा एकाग्रता होनी चाहिए।


Q3. हठयोग के कितने अंग है ? Benefits of Hatha yoga in hindi. 

जबाब – हठयोग के सात अंग हैं । 1. षट्कर्म, 2. आसन, 3. मुद्रा, 4. प्रत्याहार, 5. प्राणायाम, 6. ध्यान एवं 7. समाधि ।


Q4. जब प्राण हठयोग के अनुसार चलता है तो क्या होता हैं ?

जबान – प्राण गति, बल शक्ति का वाहक है । इसके चलने पर शरीर के विभिन्न क्रिया, इंद्रियां तथा मन, बुद्धि सक्रिय हो जाती हैं । उनमें नई ऊर्जा का संचार होता हैं।


Q5. हठयोग के जनक कौन हैं ?

जबाब – मच्छिंद्रनाथ तथा गौरखनाथ हठयोग के प्रमुख आचार्य माने जाते है ।

पढ़े –  मेडिटेशन के नियम व फायदे । Benefits of meditation in hindi.

Q6. हठयोग का सबसे पुराना ग्रंथ कौन सा है ?

जबाब – हठयोग प्रदीपिका हठयोग का सबसे पुराना ग्रंथ है । जो संस्कृत में लिखा गया है । और इसके रचयिता गुरु गोरखनाथ के शिष्य स्वामी स्वात्माराम थे।


Q7. हठयोग प्रदीपिका के अनुसार कौन सा कपालभाती माना जाता है ?

जबाब – योग में प्राणायाम करते समय रेचक और पूरक करने की क्रिया को कपालभाती कहां जाता है । इसमें श्वास को नासिका के द्वारा तेजी से बाहर और अंदर किया जाता है । यह क्रिया नासिका के द्वारा ही की जाती है। इस प्राणायाम की क्रिया को कपालभाती कहा जाता हैं ।


Q8. हठ कितने प्रकार के होते हैं ?

जबाब – हठ ओर हठयोग में फर्क हैं । हठयोग के सात प्रकार यानि अंग है । हठ तीन प्रख्यात हैं । राजहठ, तिरिया हठ ओर बालहठ ।

मित्रो आज का टॉपिक हठ योग की परिभाषा, मुद्रा एवं फायदे । Benefits of Hatha yoga in hindi. आपको अच्छा लगा होगा । आप अपने विचार हमारे कमेंट बॉक्स में लिखे ।

Leave a Comment

Share via
Copy link