जंक फूड खाने से क्या होता है । Junk food side effects in hindi

What is junk food.

Junk food side effects in hindi. वर्तमान की भाग दौड़ भरी जिंदगी में लोगों के पास इतना समय नहीं है कि वो आराम से घर का खाना खाएं । पति पत्नी दोनों नौकरी या जॉब करने की वजह से घर का खाना बनाने का समय नहीं होता है । जिससे वह घर में या तो नौकर रखते हैं या फिर बाहर ही खाना खाना पसंद करते हैं । इन बाहर के खाने में जंक फूड या फ़ास्ट फ़ूड अधिक use करते है जो स्वादिष्ट होता है ।


वही आज के दौर में रेडीमेड खाने का प्रचलन तेजी से बढ़ रहा है । इन रेडीमेड खाने में ज्यादातर नमकीन मसालेदार भोजन होता है जैसे समोसे, पकोड़े, नमकीन, कुरकुरे वगैरह वगैरह । जन्मदिन की पार्टी में अधिकतर junk food का इस्तेमाल किया जाता है जैसे केक, चॉकलेट एवं कुछ खट्टा मीठा आदि । लेकिन junk food side effects से बेखबर शान से उपयोग करते है ।


लेकिन जब इन Junk food का ज्यादा सेवन करते है तो Junk food side effects यानी आपको नुकसान पहुंचा सकते है । आपको बीमार कर सकते है जैसे एसिडिटी, अस्थमा, अपचन आदि तो तो जानते हैं जंक फ़ूड क्या होता है –

Also Read

फेफड़ों को स्वस्थ कैसे रखे । healthy lungs tips in hindi.

स्वस्थ रहने के आसान टिप्स । Healthy living tips in hindi.

जंक फूड क्या है ? What is junk food –

जंक फूड वह फूड होता है, जो अच्छी सेहत के लिए नहीं अपने स्वाद के लिए लोग खाना पसंद करते हैं । लोग अपनी जीभ के चटकारे को यानी स्वाद का आनंद लेने के लिए खाते हैं । यह बाहर रेस्तरां और दुकानों में आसानी से उपलब्ध होते हैं । आवश्यकता से अधिक खाने से शरीर को नुकसानदेह ( Junk food side effects ) साबित होते हैं । इसमें नमकीन, चिप्स, कुरकुरे समोसे, पकोड़े आदि जैसी चीजें आती है । यह मसालों से बनी हुई होती है । जिसे खाने से कोलेस्ट्रॉल और मोटापा बढ़ता है । जिसमें पोषण न के बराबर होता है।

फास्टफूड और जंक फूड में क्या अंतर है ? What is the difference between fast food and Junk food –

जंक फूड वह फूड है, जो स्वास्थ्य के लिए अच्छा नहीं होता । जबकि फास्ट फूड है जो जल्दी उपलब्ध हो जाता है । चिप्स, कुरकुरे के पैकेट जंक फूड की श्रेणी में आते हैं । तो बर्गर, पिज़्ज़ा आदि फास्ट फूड की श्रेणी में आते हैं । इसमें हम यह समझते हैं कि में जो सेहत के लिए हानिकारक ( junk food side effects ) है जिसे जंग किया जाता है, वह जंग फूड है । फास्ट फूड वह फूड है, जो जंग कर जल्दी खाने के लिए बना लिया जाता है । उन्हें फास्टफूड कहते हैं ।


दोनों भी स्वास्थ्य के लिए अच्छे नहीं है । यह खाने से कोलेस्ट्रॉल और मोटापे की समस्या तो बनती है और भी अन्य रोग जुड़ जाते हैं । फास्ट फूड रेस्टोरेंट में तुरंत बनाने वाले खाने के पदार्थ । फास्टफूड खाने की पहले से तैयारी कर तुरंत गरमा गरम परोसा जाता है । फास्ट फूड खाने में प्रयोग की जाने वाली सामग्री टीन के डिब्बों में बंद होती है । जिसका जरूरत पर इस्तेमाल किया जाता है । जैसे कि बर्गर सॉस, पिज़्ज़ा सॉस, कटी हुई सब्जियां आदि ।


यह एक जगह बड़ी तादाद में बनता है और अलग-अलग शॉप में बेचा जाता है । इसे खाने को एक या छह महिने पहले बनाया होता है । जो प्रिजर्व करके रखा जाता है । इन खानो को खाने के लिए विशेष प्रकार के केमिकल का प्रयोग किया जाता है, जिसमें विटामिन की कमी और कार्बोहाइड्रेड की अधिक मात्रा में होती है । जिससे हमारी सेहत खराब हो जाती है । जंकफूड हो या फास्टफूड हो दोनों भी सेहत के लिए हानिकारक है ।


जंक फूड में क्या क्या आते है । Junk food list in hindi –


Junk food में नमकीन एवं मसाले से भरपूर वह भोजन होते है जिनका उपयोग हम रेडीमेड खाने के रूप में मार्केट से खरीदते है । इनका उपयोग राह चलते कर लेते है । जिनके junk food side effects होते है तो चलिए जानते है जंक फूड में क्या क्या आते है –


• चॉकलेट ( Choclet )
• नमकीन ( Namkeen )
• चिप्स ( Chips )
• कुरकुरे ( Kurkure )
• डोसा ( Dosa )
• पकोड़े ( Pakore )
• पाव-भाजी ( Paw Bhaji )
• बर्गर ( Burger )
• ब्रेड्स ( Braids )
• कटलेट ( Cutlet )
• पेटिस ( Patties )


• पिज़्ज़ा ( Pizza )
• कैंडीज ( Candies )
• स्प्रिंग रोल ( Spring Roll )
• हॉटडॉग ( Hotdog )
• सोडा ( Soda )
• चाऊमीन ( Chowmein )
• अनियन रिंग्स ( Onion Rings )
• सैंडविच ( Sandwich
• फ्रेंच फ्राइज ( French Fries )
• फ्राइड चिकन ( Fried Chicken )
• पानी पूरी ( Pani Puri )
• समोसे ( Samose )
• चाट ( Chat )
• डोनट्स ( Donuts )
• मोमोस ( Momos )


जंक फूड एवं युवा पीढ़ी । Junk food vs younger generation –


आधुनिक दौर में Junk food side effects से बेखबर युवा पीढ़ी तेजी से जंक फूड की ओर अग्रसर हो रही है । आजकल बर्थडे पार्टी एवं छोटे छोटे समारोह में मेहमानों के लिए रेडीमेड खाने का प्रचलन तेजी से बढ़ रहा है । वही मार्केट में समोसे एवं पकोड़े की दुकान पर युवा वर्ग की भीड़ ही भीड़ नजर आती है ।


भारत में मुंबई जैसे शहरों में पावभाजी एवं वड़ा पाव सबसे सस्ता एवं लोकप्रिय खाने में से एक है । या यू कहे कि सबसे ज्यादा बिकने वाला भोजन है । अमेरिका जैसे देशों में पिज़्ज़ा बर्गर जैसे जंक फूड को बड़े आनन्द के साथ खाया जाता है । आज का युवा वर्ग जंक फूड के दुष्परिणाम ( Junk food side effects ) की परवाह किए वगैरह इनका अधिक से अधिक सेवन कर रहा है ।

Junk food side effects in hindi.

जंक फूड खाने से क्या होता है । side effects of junk food –


आज की भाग दौड़ भरी जिंदगी में लोगों को खाना खाने को समय नहीं है । इसलिए वे जंक फूड और फास्टफू की तरफ ज्यादा भागते हैं । जिसका उनके शरीर पर यानी सेहत पर गहरा असर पड़ता है । ज्यादा मात्रा में जंकफूड या फास्ट फूड खाने से कई तरह के रोगों का सामना करना पड़ता है । जैसे हृदय रोग, डायबिटीज, पेट में दर्द, मोटापा आदि । इनके जैसी ओर कई खतरनाक बीमारी हमारे शरीर में पनपने लगती है । तो जानते हैं junk food ke nuksan यानी Junk food side effects in hindi |

पाचन शक्ति को नुकसान –
अनेक प्रकार के पेय पदार्थों के साथ जंकफूड़ या फास्ट फूड खाने से हमारी पाचन शक्ति कमजोर होती है । आयुर्वेद का मानना है कि सभी बीमारियों की जड़ हमारा पेट है । अगर आप अपने पेट को हेल्दी रखोगे तो हमारा भी स्वास्थ्य अच्छा रहेगा । आप जो भी खाओगे वह पचेगा लेकिन जंक फूड को अधिक मात्रा से सेवन करने से हमारी पाचन क्रिया पर बुरा प्रभाव पड़ता है । जिसमें आप कुछ भी खाओगे वह डाइजेस्ट नहीं होगा और अगर खाना पचेगा नहीं तो बीमारियां होने का खतरा भी उतना ही बढ़ जाएगा । जो हमारी शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य को junk food side effects ही करेगा ।

जंक फूड से वजन बढ़ना | 

बाजार में मिलने वाले जंकफूड निरंतर यानि रोजाना खाने से मोटापे का कारण भी बढ़ जाता है । कैलोरी अधिक मात्रा में होने के कारण शरीर का वजन बढ़ता है । दूसरी और स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं भी निर्माण होने लगती है । इसलिए दोनों भी फूड कम खाएं ज्यादा सेवन से पाचन शक्ति कमजोर होती है और मोटापा शुरू हो जाता है । बीमारियां बढ़ने लगती है । जो रेडीमेड खाने यानी Junk food side effects हैं ।

जंक फूड से मानसिक स्वास्थ्य पर प्रभाव –
Junk food side effects में ज्यादा मात्रा मे जंक फूड खाने से हमारे हार्मोंस इन बैलेंस होने लगते हैं । हमारी सोचने समझने और सीखने की क्षमता कम होने लगती है । हमारी भावनाओं पर बुरा असर पड़ता है।

जंक फूड से मधुमेह का खतरा –
आजकल बहुत से लोग मधुमेह का शिकार होने लगे हैं । यह बीमारी से बड़े बुजुर्ग में न होकर आजकल बच्चों में भी दिखाई दे रही है । जिसका कारण है हमारा गलत खानपान यानी फास्ट फ़ूड व जंक फूड का खाना । दुनिया भर में बहुत से बच्चों को टाइप 2 मधुमेह वाली बीमारी होने लगी है । जिसका कारण junk food side effects है ।

जंक फूड से हृदय रोग का खतरा –
Junk food side effects के रूप में पिज़्ज़ा, बर्गर, फ्राइस, आलू की चिप्स आदि के अंदर सोडियम की मात्रा अधिक होती है । जो दिल के लिए बहुत हानिकारक है । इसके अलावा इसमें कार्बोहाइड्रेट ज्यादा होने से पाचन क्रिया कमजोर हो जाती हैं । फाइबर युक्त भोजन की हमें जरूरत है । ज्यादा कार्बोहाइड्रेट युक्त पदार्थ खाने से हमारे शरीर का रक्त प्रवाह ठीक नहीं होता । इन दोनों से दिल की बीमारी ही नहीं कैंसर जैसी घातक बीमारी होने का खतरा है । इसलिए इन चीजों से जितना हो सके खाने से बचना चाहिए ।

◆ जंक फूड खाने से सिरदर्द या माइग्रेन की समस्या –
यदि आप लगातार जंक फूड खाते हैं, तो आप सिर दर्द या माइग्रेन जैसी बीमारी का शिकार हो सकते हैं । क्योंकि जंक फूड के अंदर नाइट्रेट और नाइट्राइट मौजूद होते हैं । जिससे सिर दर्द या माइग्रेन की समस्या बढ़ने लगती है।

जंक फूड सांस लेने की समस्या –
जंक फूड के अधिक सेवन से मोटापा बढ़ता है । मोटापा अधिक बढ़ने से सांस लेने की समस्या बढ़ती है । यह इस खाने का सबसे बड़ा Junk food side effects है ।

Junk food side effects in hindi.

जंक फूड खाने से थकावट महसूस होना –
शरीर में आवश्यक पोषक तत्व जैसे प्रोटीन कार्बोहाइड्रेट की कमी से फास्ट फूड या जंकफूड आपकी ऊर्जा के स्तर को कम कर देता है । जिसकी वजह से आप अपने आपको थका हुआ महसूस करते हैं । और आलस भी ज्यादा आने लगता है । आपके जीवन शैली पर बहुत गहरा असर junk food side effects हो सकता है।

जंक फूड खाने से तनाव का कारण –
जंक फूड फास्ट फूड खाने से डिप्रेशन का कारण बन सकता है । बढ़ती उम्र में बच्चों के अंदर कई बायलॉजी बदलाव आने लगते हैं । जंकफूड में वसा और कैलोरी की मात्रा अधिक होती है । जिससे उसके अधिक सेवन से बच्चे डिप्रेशन यानी तनाव का शिकार बन सकते हैं ।

जंक फूड खाने से हड्डियों की कमजोरी –
जंक फूड के अधिक सेवन से शरीर की हड्डियां कमजोर हो जाती है । रक्त का संचालन ठिक न होने से रक्त शर्करा का स्तर बढ़ जाता है और आगे चलकर मधुमेह का कारण बन जाता है । ज्यादा रक्तशर्करा होने से हड्डियां कमजोर होने लगती है । शरीर के स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव ( Junk food side effects )पड़ने लगता है । इसलिए दोनों फूड कम खाना चाहिए ।

जंक फूड खाने से शरीर में विटामिन की कमी –

शरीर को स्वस्थ रखने के लिए कैल्शियम, विटामिन ए, सी, डी और बी जैसे पोषक तत्व का होना बहुत जरूरी है । लेकिन फास्टफूड और जंकफूड में विटामिन की कमी पाई जाती है । विटामिन की कमी के कारण विभिन्न बीमारियों के शिकार हो सकते हैं । इसलिए वही चीज खानी चाहिए जो हमारे शरीर में भरपूर मात्रा में विटामिन और खनिज पदार्थ प्रदान करें ।

जंकफूड खाने से प्रजनन प्रणाली होती है प्रभावित
जंक फूड से शरीर में कई तरह के स्वास्थ्य समस्याओं के साथ साथ आपकी प्रजनन प्रणाली पर भी गहरा असर पड़ता है । क्योंकि जंकफूड के हानिकारक पदार्थों से हमारे शरीर के हार्मोन प्रभावित होते हैं, जो हमारी प्रजनन समस्या संबंधी समस्या बढ़ा सकते हैं। यानी junk food side effects हो सकते है ।


जंक फूड खाने से होने वाली बीमारियां । diseases caused by junk food –


Junk food का अधिक खाने से हमारे शरीर में अनेकों बीमारियां पाव पसारने लगती है । क्योंकि junk food चटपटे, नमकीन एवं मसालेदार होते है । जिसमें कार्बोहाइड्रेट, वसा अधिक मात्रा में पाया जाता है जो हमारे शरीर के लिए नुकसानदायक होता है । इनसे मोटापा, अस्थमा, अपचन, गैस, एसिडिटी, हार्ट अटैक, हाई ब्लड प्रेशर, ब्लड शुगर जैसी कई बीमारियों के पनपने के चांस बढ़ जाते है । यह Junk food side effects है ।

उम्मीद करते है आजका टॉपिक Junk food side effects in hindi आपको पसंद आया होगा । आप अपने विचार कमेंट बॉक्स में लिखे ।। अल्पीता बासा ।।