कच्चा पालक खाने के फायदे नुकसान । Palak khane ke fayde.

Palak khane ke fayde.

Palak khane ke fayde. हमारे रोजमर्रा जिंदगी में न जाने कितनी सब्जियों के नाम सुने होंगे । उन सब्जियों में पालक ( Spinach ) भी एक है । आपको बता दें कि पालक के केवल पत्तो का उपयोग किया जाता है । इन पत्तों का उपयोग सब्जी, सलाद या जूस के रूप में उपयोग किया जाता है । इसे हरी पत्तेदार सब्जियों में गिना जाता हैं ।

कच्चा पालक हम सब्जी बनाकर खा सकते हैं । पालक जूस बनाकर पी सकते हैं । कभी-कभी हम सलाद में भी इनके पत्तों का प्रयोग कर सकते हैं । पालक में विटामिन ए, विटामिन सी, विटामिन के, मैग्नीशियम, मैग्नीशियम, आयरन पर्याप्त मात्रा में मौजूद रहता है । तो चलिए जानते है पालक के फायदे और नुकसान के बारे में – Palak khane ke fayde.

Also read

मेथी खाने के फायदे नुकसान । Methi khane ke fayde.

खाली पेट नारियल पानी के फायदे । Nariyal pani ke fayde.

पालक को कैसे खाना चाहिए ? Palak kaise khaye.

पालक का प्रयोग हम किसी भी प्रकार से खाने में कर सकते हैं क्योंकि पालक खाने से हमारे शरीर में संक्रमण का खतरा कम होता है और कई बीमारियों से हम बच सकते हैं । पालक का उपयोग जूस बनाकर कर सकते है । वही सब्जी भी अच्छी बनती है ।

कच्चे पालक की तासीर | Palak ki tasir.

कच्चे पालक की तासीर ठंडी अर्थात रहती है, क्योंकि पालक में विटामिन ए, बी, सी और आयरन होता है जिससे हमारे शरीर में लाल रक्त कण कम होते हैं । यानी जो एनीमिक होते हैं उनके लिए कच्चा पालक बहुत फायदेमंद होता है । पलक में सबसे ज्यादा विटामिनों ए, बी, सी, ई, लोहा, कैल्शियम, अमीनोअम्ल तथा फोलिक अम्ल ऑक्जेलिक अम्ल अधिक मात्रा में पाया जाता है ।

पालक कितने प्रकार का होता है | Type of Spinach in Hindi.

पालक को पत्तेदार सब्जी कहा जाता है । यह मार्केट में भिन्न भिन्न आकार में आसानी से उपलब्ध हो जाता है । पालक अपने गुणों के अनुसार मुख्य रूप से तीन भागों में बांटा गया है। जो इस प्रकार है –

सेवॉय पालक । Savoy Spinach.

यह एक विशेष किस्म का पालक होता है । जिसके पत्ते सिकुड़े हुए और गाढे हरे रंग के होते हैं । सेवॉय पालक की एक प्रजाति ब्लूम्सडेल ( Bloomsdale Spinach), के नाम से जानी जाती है । यह पालक खाने में बहुत स्वादिष्ट होता है ।

सेमी-सेवाय पालक । Semi savoy spinach.

यह पालक बहुत लोकप्रिय है सेवॉय पालक की तुलना में उनकी पत्तियाँ कम सिकुड़ी हुई होती है । इनको घर में भी लगाया जा सकता है । इस पालक में पोस्टिक भरपूर मात्रा में पाया जाता है ।

स्मूथ-लीफ पालक । Smooth – Leaf Spinach.

इस पालक की पत्तियां सेवॉय पालक और सेमी सेवॉय पालक की तुलना में ज्यादा चौड़ी और स्मूथ होती है । यह पालक आसानी से साफ हो जाता है । इसे बाजार में आमतौर पर हम आसानी से बेच सकते हैं ।

पालक का जूस कब और कैसे पीना चाहिए ? Spinach juice in hindi.

हम सुबह के समय पालक के जूस का सेवन कर सकते हैं । पालक में भरपूर एंटीऑक्सीडेंट होते हैं जो शरीर को स्वस्थ रखते हैं । पालक के तत्व हमारी स्किन संबंधी सारी बीमारियों को दूर करता है ।

Spinach juice benefits in hindi.

पालक जूस के फायदे । Spinach juice benefits in hindi.

पालक में विटामिन ए, विटामिन सी, विटामिन के, मैग्नीशियम, मैग्नीज, आयरन भरपुर मात्रा में पाया जाता है । इसलिए सुबह सुबह खाली पेट जूस पीने से फायदेमंद होता है । पालक में कैल्शियम, विटामिन और एंटीऑक्सीडेंट की मात्रा अधिक होने से हड्डियों को मजबूत बनाने में मदद करता है ।

◆ पालक का जूस पीने से पेट की सेहत दुरुस्त रहती है ।
◆ पालक का जूस शरीर से टॉक्सिन बाहर निकालता हैं, जिससे पेट से संबंधित परेशानी दूर होती है ।
◆ पालक के सेवन से आंखों की रोशनी को बढ़ाया जा सकता है ।
◆ पालक खाने से हमारे शरीर की हड्डियां मजबूत होती है ।
◆ पालक हमारे शरीर में, हीमोग्लोबिन को बढ़ाता है और कमजोरी को दूर करता हैं ।
◆ तिल और पालक दोनों ही अपने अपने गुणों की खान है इनके जन्म से हमारी सेहत को बहुत फायदा होता है ।

पालक में कितना आयरन होता है ? Palak me kitna iron hota hai.

दोस्तों 100 ग्राम पालक में 2.72 मिलीग्राम आयरन होता है । लेकिन कुछ खाती फूल ऐसे होते हैं जिनमें पालक से ज्यादा आयरन होता है । बॉडी में आयरन की कमी होने से सिर दर्द, पैरों का ठंडा होना, ऑखो के नीचे डार्क सर्कल, चक्कर आने जैसी स्थित होती है । तब हमें पालक का दिन में दो – तीन बार सेवन करना चाहिए ।

पालक में कौन कौन से विटामिन होतें है ?

पालक में विटामिन बी, सी, ई, और के प्रचुर मात्रा में पाया जाता है । इसके अलावा पालक में पोटेशियम मैग्नीशियम, कैल्शियम, आयरन और ओमेगा 3 फैटी एसिड की भरपूर मात्रा होती है । ये सभी तत्व बालों की लंबाई के लिए बेहद फायदेमंद होते हैं । पालक में मौजूद आयरन शरीर में ऑक्सीजन के बहाव को बढ़ाता है ।

कच्चा पालक खाने के फायदे । Palak khane ke fayde.

त्वचा को हाइड्रेट रखने में – अपनी त्वचा को हाइड्रेट रखने के लिए पालक का सेवन कर सकते हैं । पालक में विटामिन सी की मात्रा पाई जाती है । विटामिन ए ऐसे गुण मौजूद होते हैं जो हमारी त्वचा को हाइड्रेशन से बचाते हैं।

पालक के फायदे वजन घटाने में । palak khane ke fayde weight loss.

यदि हमारा वजन बढ़ा हुआ है और उससे हम परेशान हैं, तो पालक का सेवन करने से वजन घटा सकते हैं, क्योंकि पालक में वजन घटाने संबंधी गुण पाए जाते हैं । वजन घटाने के लिए हमें कैलोरी की मात्रा को कम करना है । विशेषज्ञों का कहना है कि पालक कम कैलोरी वाला इसे खाने से हमारा वजन नियंत्रित रहता हैं ।

पालक से कैलशिफिकेशन के इलाज । Palak khane ke fayde.

कैलशिफिकेशन एक ऐसी प्रक्रिया है जिस में कैल्शियम शरीरके टिश्यू में जमा होने लगता है । जिससे टिश्यू कठोर हो जाते हैं । पालक में आयरन के पाए जाने वाले तत्व कैलशिफिकेशन की प्रक्रिया को रोकने में सहायक होते हैं । इसमें मौजूद ऑक्सेलिक एसिड कैल्शियम के अवशोषण होने से रोकना है ।

पालक के फायदे आयरन की कमी के लिए । Palak khane ke fayde iron deficiency.

पालक में आयरन प्रचुर मात्रा में होता है । जिससे आयरन की कमी से एनीमिया का खतना हो सकता है । आयरन की कमी को दूर करने के लिए पालक का सेवन दिन में 2 बार करें ।

पलाक से शरीर को आराम मिलता हैं । palak khane ke fayde tajagi ke liye.

दिन भर काम करने के बाद, हमें थकान महसूस होती है । उसी को दूर करने के लिए हमें पालक का सेवन करना चाहिए । शरीर में कैल्शियम पर्याप्त मात्रा में होने के कारण शरीर की मांसपेशियों को आराम मिलता है ।

पालक के फायदे आंखों के लिए । Palak khane ke fayde ankho ke liye.

ल्यूटिन और जियाजैन्थीन नामक एंटीऑक्सीडेंट अधिक मात्रा में होता है । जो हमारी आंखों को मोतियाबिंद और उम्र बढ़ने के साथ होने वाली आंखों की बीमारी से राह दिलाता है । पालक में मौजूद जियाजैन्थोन एक महत्त्वपूर्ण केरोटीनॉयड है  । जो आंखों की प्रकाश को सेंटर करता है । आंखों के रेटिनल, मैकुला, ल्यूटिला में अवशोषित होता है ।

और आंखों के प्रकाश को फिल्टर करता है । उन आंखों की रोशनी को सुधारना है । पालक में विटामिन ए की मात्रा होती है जो आंखों की म्यूकस दिल्ली को स्वस्थ रखता है । और सामान्य दृष्टि से।पालक में विटामिन ए भी पढ़ा जाता है जो आंखों की झिल्ली को स्वस्थ रखता है जो सामान्य दृष्टि से आवश्यक होता है ।

गर्भावस्था में पालक के फायदे । Pregnancy me palak khane ke fayde.

गर्भावस्था में मां को स्वस्थ आहार की आवश्यकता होती है । उसके खाने के साथ-साथ हमें पालक का भी सेवन करना चाहिए । मां को गर्भावस्था में फोलेट पोषक तत्व की आवश्यकता होती है । पालक बच्चों के जन्म में होने वाले खतरों को कम करता है । फोलेट की पर्याप्त मात्रा की पूर्ति के लिए पालक का सेवन जरूर करना चाहिए ।

त्वचा पर एग्जिमा में पालक से राहत । Palak khane ke fayde skin ke liye.

जब हमारी त्वचा पर एग्जिमा बढने पर पालक में मौजूद एमिनो एसिड स्क्रीन एग्जाम की परेशानी से राहत दिलाता है । इसके लिए हमें क्या करना होगा –
● आधा कब कटा हुआ पालक ।
● एक छोटा चम्मच नींबू का रस ।
● एक छोटा चम्मच शहद ।
● एक छोटा चम्मच जैतून का तेल लेंगे ।

सबसे पहले हम पालक का पेस्ट बनाएंगे, फिर से एक बाउल में निकाल लेंगे । अब इसमें हम नींबू का रस शहद और जैतून का तेल मिला लेंगे । फिर हम त्वचा को साफ पानी से धो लेंगे और साफ कपड़े से त्वचा को सूखा कर लेंगे । फिर हम ताला कैसे हो एग्जिमा वाले स्थान पर लगाएंगे । 15 से 20 मिनट रखने के बाद फिर उसे ठंडे पानी से धो लेंगे । इस प्रकार हम हफ्ते में दो बार अवश्य करें । इससे एग्जिमा से राहत मिलती है ।

पलक से नुकसान । Side effects of Spinach eating in hindi.

जब आप गठिया के रोग से परेशान हैं तो आप पालक का सेवन नहीं करें क्योंकि पालक में कई ऐसे तत्व पाए जाते हैं जो गठिया के मरीजों की और परेशानियां बढ़ा सकते हैं । इससे जोड़ों में दर्द और सूजन भी आ जाती है । इसलिए पालक का सेवन ना करें ।
आवश्यकता से अधिक पालक खाने से शरीर में अधिक ऑक्जेलिक एसिड बनता है जिसे हमारे शरीर से बाहर निकालने में परेशानी होती है ।

जिससे हमारी किडनी में अब साले स्टोन जमा होने लगता है जो किडनी के स्टोन की समस्या को बढ़ावा देता है । पालक में ऑक्जेलिक एसिड के साथ-साथ प्यूरिन भी होता है जो एक तरह का तत्व होता है पालक का अधिक सेवन हमारे शरीर को नुकसानदायक होता है ।

पालक को पनीर के साथ खाने से नुकसान । Palak panir khane ke nuksan.

डॉक्टरों और वैज्ञानिकों का कहना है कि पलक का अधिक इस्तेमाल करने से हमारा पेट फूलना, डायरिया, किडनी की पथरी, गाउट जैसी परेशानियां हो सकती है । पालक में मौजूद तत्व के अवशोषण से शरीर में पालक को पचने में थोड़ा ज्यादा वक्त लेता है । इसलिए रोज़ पालक खाने से बचना फायदेमंद है, नहीं तो पेट फूल सकता है और कब्ज की परेशानी हो सकती है ।

पलक के साथ पनीर खाना हमारे शरीर के लिए ठीक नहीं है क्योंकि पालक में आयरन अधिक मात्रा में होता है और दूसरी दूध में कैल्शियम अधिक मात्रा में पाया जाता है । जब यह दोनों मिलते हैं तो हमारे शरीर में रिएक्शन पैदा करते हैं और प्रोटीन को बढ़ावा देते हैं । इन सभी का एक साथ समावेश शरीर के लिए नुकसानदायक है ।

पालक खाने से किडनी में स्टोन होता है । palak khane ke nuksaan kidney stone ke liye.

पालक में अधिक फ्यूरीन होता है । जो एक तरह का ऑर्गेनिक कंपाउंड है । जब हमारे शरीर में इसकी मात्रा ज्यादा बढ़ जाती है तो यह यूरिक एसिड में बदल जाता है । जो हमारे शरीर में किडनी को सबसे अधिक इफेक्ट पहुंचाता है । इस कारण यूरिक एसिड जब बढ़ने लगता है तो हमारी बॉडी में कैल्शियम तेजी से बढ़ने लगता है जिसकी वजह से किडनी में स्टोन बनने लगता है । पालक में मौजूद ऑक्जैलिक एसिड के कारण जब एग्जिट भोजन में रेशम के साथ मिलता है तो यह गीत से कैल्शियम ऑक्जैलेलेट बनाती है जिससे किडनी में स्टोन बनने लगता है ।

पालक खाने से टॉक्सिक रिएक्शन उत्पन्न नुकसान कर सकता है ।

पालक की हरी पत्तियों का शरीर पर टॉक्सिक रिएक्शन भी होता है । पालक ऑर्गेनिक, फर्टिलाइजर, कीटनाशक और सिंचाई के जल से ई-कोलाई बैक्टीरिया से दूषित हो जाता है जिसके बाद यह दूषित पालक खाने से हमें फ़ूड प्वॉयजनिंग हो जाता है और इसी की वजह से कभी कभी मौत भी हो सकती है ।। शिवा सिंहल आबूरोड ।।