गुड़ खाने के फायदे व नुकसान । Jaggery Benefits in Hindi

 Jaggery Benefits in hindi.
Jaggery Benefits in hindi.

Jaggery benefits and side effects in hindi. हम सभी रोजमर्रा के खानपान में अनेको खाद्य पदार्थों का उपयोग करते है । उनमें से गुड़ भी एक है । ज्योतिषशास्त्र के अनुसार इसे मांगलिक भी कहा जाता है क्योंकि इनका उपयोग शुभ कार्यों में अनिवार्य रूप से किया जाता है । गुड़ एक स्वाद मीठा होता है । गुड़ तीन प्रकार का होता हैं। घाट, चिक्की एवं साधा गुड़ । इन तीनो में से घाट का गुड़ को शुद्ध माना जाता हैं। गुड़ में विटामिन, मिनरल्स, कैल्शियम, आयरन, जिंक और फॉस्फोरस जैसे तत्व मौजूद होते हैं।
आमतौर पर गुड़ और गेंहू के आटे का हलुआ बनाकर उपयोग किया जाता है । इसके अलावा भी कई व्यंजनों में गुड़ का उपयोग किया जाता है । गुड़ खाने से आपको नई ऊर्जा मिलती है। ठंड से राहत मिलती हैं। आयुर्वेद ने गुड़ को गुणो की खान कहा है । स्वस्थ सेहत के लिए बहुत गुणकारी है। गुड़ का सेवन नित्य प्रति करने से अनेकों फायदे हैं । तो चलिए जानते है गुड़ खाने के फायदे नुकसान । Jaggery benefits and side effects in hindi.

Also read

जंक फूड खाने से क्या होता है । Junk food side effects in hindi.

हल्दी के फायदे व नुकसान । Turmeric benefits and side effects.

गुड़ क्या है ? What is Jaggery.

गुड़ एक मीठा पदार्थ है। जिसका उपयोग खाने में किया जाता है। यह गन्ने के रस से बनता है। पहले गन्ने का रस निकाला जाता है । फिर उसे गर्म किया जाता है । उसके बाद उसे विभिन्न आकारों में ढाला जाता है। गुड़ का रंग भूरा, हल्का काला व पीला होता है।
खाने वाली चीजों में गुड़ सबसे मीठा ठोस पदार्थ है। यह पानी में आसानी से घुलनशील है । इसकी प्रकृति गरम होती है । इसका प्रयोग खाने के साथ – साथ कई प्रकार की बीमारियों में किया जाता है। आज हम गुड़ के लाभ और हानियों के बारे में विस्तार जानेंगे।

गुड़ की तासीर कैसी होती है | Gud ki taseer.

गुड़ की तासीर गर्म होती है। यह शरीर को तुरन्त ऊर्जा देता है। जिससे काम करने की शक्ति आती है । इसका अधिक मात्रा में सेवन हानिकारक भी हो सकता है।

गुड़ खाने के फायदे । Jaggery Benefits in hindi.

गुड एक बहुत ही अच्छा भोज्य पदार्थ है। इसमें प्रोटीन, फाइबर, खनिज लवण व कई आवश्यक न्यूट्रेंस पाए जाते हैं । इसके शरीर को बहुत सारे फायदे हैं । लेकिन इसका प्रयोग संतुलित मात्रा में ही होना चाहिए । आज हम गुड से होने वाले लाभों के बारे में विस्तार से चर्चा करेंगे। जो निम्नलिखित हैं-

गुड़ पेट के लिए रामबाण इलाज । Jaggery Benefits for stomach pain.

गुड में प्रचुर मात्रा में फाइबर पाया जाता है, जो जल्दी पच जाता है। गुड़ का सेवन पेट की बीमारियों को ठीक करने में रामबाण सिद्व होता है। इसका लगातार सेवन करने से पेट में गैस नहीं बनती है । यह भोजन के पाचन में भी सहायता करता है। पेट में पनपे हानिकारक कीटाणुओं का नाश करता है। गुड पेट में एक विशेष प्रकार के एंजाइम्स को बढ़ावा देता है। जो भोजन को पचाने में सहायक होते हैं। इसलिए गुड़ का सेवन पेट के समस्त रोगों के लिए लाभदायक होता है।

गुड़ सर्दी जुकाम में असरकारक | Jaggery Benefits for cough.

गुड़ की प्रकृति गरम होती है । इसलिए यह सर्दी जुकाम में फायदेमंद होता है । सर्दियों में गुड़ को चाय, दूध व काढ़े में उबालकर पिया जाता है। गुड़ की चाय सर्दी जुकाम और बुखार में बहुत असरकारक होती है । यदि गुड़ की चाय में थोड़ी तुलसी की पत्तियां और डाल दी जाएं तो यह बुखार की शर्तिया दवा बन जाती है।

गुड़ घुटनों व जोड़ों के दर्द में आराम दायक । Jaggery Benefits for joint pain.

आजकल घुटनों और जोड़ों का दर्द सभी लोगों की आम समस्या बन गई है । घुटनों का दर्द व्यक्ति को चलने फिरने मे बहुत तकलीफ देता है। गुड़ खाने से घुटनों और जोड़ों के दर्द से राहत मिलती है। घुटनों के दर्द को सही करने के लिए इसका उपयोग अदरक में मिलाकर किया जाता है। गुड़ और अदरक को कूट करके उसकी गोलियां बना लें । रोज सुबह-शाम दो-दो गोली सेवन करने से दर्द से जल्दी आराम मिलता है। यह दर्द के कारण आई सूजन को भी कम करता है।

गुड़ रक्त शोधन में सहायक | gud ke fayde khoon saf karane ke liye.

गुड़ का सेवन खून का शोधन करता है । इसमें हानिकारक टॉन्सिल्स को बाहर निकालने की क्षमता होती है । यह शरीर को और खून को गर्म रखता है जिसे हानिकारक पदार्थ पसीने के माध्यम से बाहर आ जाते हैं।

गुड़ से कील मुहांसों से मुक्ति | Jaggery Benefits for pimples.

आज के समय में सभी अपने को अन्य लोगो से सुंदर दिखाना चाहते हैं ।अपने चेहरे को चमकीला और आकर्षक बनाने के लिए गुड़ एक अच्छा स्रोत साबित हो सकता है । गुड़ खाने से कील मुंहासो से छुटकारा मिल जाता है। यह त्वचा को निखारने का काम करता है। चेहरे की चमक बढ़ाता है। गुड़ में उपस्थित ऑक्सीडेंट सूर्य की हानिकारक किरणों से त्वचा की रक्षा करते हैं। जिससे त्वचा मुलायम और सुंदर नजर आती हैं।

गुड़ आयरन का भरपूर स्रोत | Jaggery Benefits for iron deficiency.

गुड आयरन का भरपूर स्रोत है । इसमें लौह तत्व प्रचुर मात्रा में पाया जाता है जो आयरन का स्रोत है । गुड़ खाने से कभी भी शरीर में खून की कमी नहीं आती है । इसके सेवन से एनीमिया रोग भी ठीक हो जाता है। एनीमिया रोग को ठीक करने के लिए इसका सेवन चने के साथ करना चाहिए। गुड़ और काले चने का सेवन शरीर को आन्तरिक ताकत देता है। गुड में फोलिक एसिड भी पाया जाता है जो शरीर को स्फूर्ति प्रदान करता है।

गुड़ अस्थमा रोगियों के लिए लाभदायक | Gud ke fayde asthma ke liye.

गुड शरीर में कफ का नाश करता है। गले की खराश को दूर करता है । अस्थमा रोगियों के लिए गुड़ का सेवन बहुत फायदा करता है । अस्थमा में गुड़ का सेवन तिलों में मिलाकर किया जाता है। गुड़ और काले तिल को कूटकर लड्डू बनाए जाते हैं । उन्हें दूध के साथ खाना लाभ देता है ।

मस्तिष्क विकारों में गुड़ का सेवन | Jaggery Benefits for depression.

गुड़ रक्त को गर्म रखता है। जिससे नसों में खून का संचार सही तरीके से होता है । यह शरीर के तापमान को भी नियंत्रित रखता है। मस्तिष्क संबंधी विकारों में गुड बहुत फायदेमंद होता है। मानसिक तनाव गुड़ का सेवन करने से कम होते हैं।

गुड़ के फायदे आंखों के लिए | Gud ke fayde ankhon ke liye.

कहते हैं आंख है तो जहान है, आंखों के बिना दुनिया वीरान है । आज के युग में आंखों से संबंधित बहुत सारी नई नई समस्याएं सामने आ रही है । छोटे-छोटे बच्चों के चश्मे लगने लग गए हैं । ऐसे में आंखों की रोशनी को लंबे समय तक बनाए रखना बहुत जरूरी है। इसके लिए गुड का सेवन बेहतर उपाय है।

आंखों के लिए गुड़ का सेवन करना बहुत ही लाभप्रद होता है। आंखों की रोशनी को लंबे समय तक बरकरार बनाए रखने के लिए जरूरी तत्व गुड़ में मौजूद होते हैं, जो आंखों की हर प्रकार से देखभाल करते हैं।

Khali pet gud khane ke fayde.

खाली पेट गुड़ खाने के फायदे | Khali pet gud khane ke fayde.

● खाली पेट गुड़ खाने से शरीर की पाचन क्रिया दुरुस्त रहती है।
● खाली पेट गुड़ खाने से वजन को कम किया जा सकता है।
● यह कब्ज और बदहजमी जैसे रोगों से राहत देता है।
● खाली पेट गुड़ खाने से पीरियड के दर्द को भी कम किया जा सकता है।
● पीरियड में गुड़ का सेवन सुबह के समय फायदेमंद रहता है।
● खाली पेट गुड़ और अदरक का सेवन खांसी और गला रोगों में राहत देता है।
● सुबह खाली पेट गुड़ का सेवन करने से रक्ताल्पता जैसी बीमारियां दूर रहती हैं।

दूध के साथ रात को गुड़ खाने के जबरदस्त फायदे | Milk and Jaggery Benefits in hindi.

1. अनिद्रा रोग में लाभदायक
आजकल लोगों को कामकाज के आगे नींद लेने की फुर्सत नहीं है। दिन भर काम काज में व्यस्त रहने के कारण शाम को भी लोग चिंता ग्रस्त रहते हैं । इसलिए उन्हें देर रात तक नींद नहीं आती है। ऐसे रोगियों को दूध के साथ गुड़ का सेवन करना चाहिए। कुछ दिन के सेवन से उन्हें नींद अच्छी आने लगेगी ।

2. रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में सहायक
दूध और गुड़ भोजन के अच्छे स्रोत हैं । गुड में प्रचूर फाइबर और मिनरल्स पाए जाते हैं। तो दूध में भी बहुत सारे शरीर के आवश्यक पोषक तत्व पाए जाते हैं। यदि रोज शाम को गर्म दूध में गुड़ मिलाकर पिया जाए तो उससे शरीर पुष्ट और बलवर्धक बनता है। शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता स्वतः ही बढ़ जाती है।

3. शरीर के तापमान को नियंत्रित रखने में –
गुड ऊष्म प्रवृत्ति का होने के कारण शरीर से हानिकारक पदार्थों को शरीर से बाहर निकालता रहता है। जिससे शरीर का तापक्रम सही अनुपात में बना रहता है। रक्त का संचार भी सही प्रकार से बनाए रखने में गुड़ कारगर साबित होता है। रक्तचाप के रोगियों को गुड खाने की सलाह डॉक्टरों की ओर से दी जाती है। गुड़ खाने से रक्तचाप की बीमारी से छुटकारा पाया जा सकता है।

गुड़ खाने के नुकसान | Jaggery side effects in hindi.

गुड़ खाने के जहाँ बहुत सारे फायदे हैं वही अधिक सेवन करने नुकसान भी है । विशेष रूप से डायबिटीज के मरीजों के लिए नुकसानदेह हो सकता है । तो नुकसान के बारे में –

● गुड़ शरीर के लिए फायदेमंद होने के साथ-साथ हानिकारक भी हो सकता है। इसका अधिक सेवन कई बीमारियों को न्योता दे सकता है। ज्यादा गुड़ खाने से रक्त में शुगर की मात्रा बढ़ जाती है। जो मधुमेह को आमंत्रित करता है।

● अधिक गुड़ खाना या गलत तरीके से गुड़ खाना एलर्जी का कारण बन सकता है । इससे नाक से खून बह सकता है । चक्कर आ सकते हैं। उल्टी या मितली आ सकती है। सिर दर्द जैसे विकार पैदा हो सकते हैं।
● गुड शरीर में गर्मी करता है। इससे महिलाओं में लिकोरिया या मासिक धर्म में अतिरिक्त रक्त स्राव जैसी बीमारी हो सकती हैं।

● वर्षा के दिनों में गुड़ शरीर में खुजली पैदा कर सकती है। छाछ, नीबू, दही के साथ सेवन करने से यह एसिड की मात्रा को बढ़ाता है। जिससे घुटनों, जोड़ो आदि में दर्द हो सकता है।
● पित्त वाले रोगियों को गुड़ का सेवन कभी नहीं करना चाहिए । गुड़ का सेवन पित्त के रोगियों के लिए बहुत घातक सिद्ध हो सकता है।

अंतिम शब्द – गुड़ खाना सेहतमंद होता है । इनका नित्यप्रति सेवन करने से याददाश्त तेज होती है । शरीर को ऊर्जा मिलती है । मोटापे से राहत मिलती है ।। रामकुमार प्रजापति, अलवर, राजस्थान ।।

Leave a Comment