आस्टिओआर्थराइटिस का इलाज । Treatment of Osteoarthritis

Treatment of Osteoarthritis.

Treatment of Osteoarthritis जॉइंट पेन यानी जोड़ो का दर्द एक आम बीमारी है । वर्तमान की बदलती जीवनशैली में Osteoarthritis की प्रॉब्लम आम लोगों में तेजी से पनप रही है । सामान्य से अधिक यूरिक एसिड की मात्रा बढ़ जाने से बॉडी के हर जॉइंट में दर्द एवं सूजन जैसी स्थिति बनी होती है । इन जोड़ो दर्द को खानपान में बदलाव करके मेडिसिन के उपयोग से बचा जा सकता है ।

विशेषज्ञों के अनुसार 50 साल की उम्र के बाद इन रोग के असर देखने को मिलते है । एक शोध के अनुसार महिलाओं की तुलना में पुरुषों में यह बीमारी अधिक पाई जाती है । Global Health tricks में जानते है । आस्टिओआर्थराइटिस के कारण, लक्षण एवं उपाय –

ऑस्टियोआर्थराइटिस क्या है ? What is Osteoarthritis ?

Osteoarthritis एक पुरानी एवं ​​​​दीर्घकालिक बीमारी है। ऑस्टियोआर्थराइटिस यानी जोड़ों ( Joint pain ) की एक बीमारी है जिसमें कार्टिलेज, लिगामेंट, शामिल होती है। ये ऊतक टूट जाते हैं, जिससे दो हड्डियों के जोड़ में और उसके आसपास गांठ बन जाने से दर्द और जकड़न हो जाती है । जिसे मरीज़ को उठने बैठने के दौरान जॉइंट दर्द सामना करना पड़ता है ।

Symptoms of Osteoarthritis | ऑस्टियोआर्थराइटिस के लक्षण –

ऑस्टियोआर्थराइटिस के कारण सामान्य होते है धीरे धीरे अपना असर दिखाते है जो कि दीर्धकालीन होते है जैसे –
● बॉडी के हर जोड़े में दर्द होता है जहां दो हड्डियों का आपस मेल होता जैसे पीठ दर्द, घुटने में दर्द, कंधे में दर्द, एवं अन्य शरीर के जोड़ो में दर्द ।
● जकड़न – बॉडी के जॉइंट में गांठ बन जाने से जकड़न की वजह से मरीज़ की दिनचर्या काफी मुश्किल हो जाती है ।
● सूजन – जोड़ो में दर्द के साथ सूजन भी देखने को मिली ।
● गठिया से पीड़ित लगभग लोगों को ऑस्टियोआर्थराइटिस होता है।

Cause of Osteoarthritis | ऑस्टियोआर्थराइटिस के कारण –

Osteoarthritis की प्रॉब्लम का मुख्य कारण हमारा खानपान एवं जीवनशैली ही रहा है लेकिन कुछ कारण सूचीबद्ध कर रहे है जैसे –

● मोटापा –
● व्यायाम न करना –
● लगातार एक स्थान पर बैठे रहना ।
● अव्यस्थित खानपान ।

● अत्यधिक नशीले पदार्थो का सेवन करना ।
● रुमेटीइड आर्थराइटिस एक ऑटोइम्यून बीमारी है जो खुद के केयरलेस के कारण होती है। ऑस्टियोआर्थराइटिस आपके जोड़ों के खराबी के कारण होने वाला दर्द है । ऑस्टियोआर्थराइटिस एक ऐसी स्थिति है जिसमें जोड़ों की कठोरता, सूजन, और दर्द होता हैं।

● कुछ कारण जो ऑस्टियोआर्थराइटिस की परेशानी को बढ़ा सकते हैं, हेरिडीटी, वजन और चोट, गलत खान पान ।
● भारतीय भौतिक चिकित्सक महासंघ के अनुसार, 11 पाउंड वजन कम करने से घुटने के पुराने ऑस्टियोआर्थराइटिस के खतरे को कम किया जा सकता है।

● यूरिक एसिड का सामान्य से अधिक बढ़ जाने के कारण प्रॉब्लम होती है । मगर सामान्य औसतन 10mg से अधिक होने पर Treatment of Osteoarthritis की आवश्यकता होती है ।

Treatment of Osteoarthritis. । ऑस्टियोआर्थराइटिस का इलाज

इस रोग सम्भव नहीं है मगर नियंत्रित किया जा सकता है । इस दर्द को कम किया जा सकता है जिसे जॉइंट पैन और दर्द की प्रॉब्लम से राहत मिल सकती है। कीवा एंटी पेन आयल बहुत उपयोगी है । रोग के लिए विशिष्ट उपचार किया जाता है। उपचार के दौरान सूजन रोधी दवाएं, भौतिक चिकित्सा, प्राकृतिक और वैकल्पिक उपचार, सहायक उपकरण और जोड़ प्रत्यारोपण सर्जरी शामिल हैं। हालांकि कोई एक मेडिसिन सभी मरीज़ों में सामान्य रूप से कारगर नहीं होती है । लेकिन छोटी छोटी चीज़ों एवं खानपान में परहेज करके बचा जा सकता है । तो चलिए जानते है इलाज के बारे में –

◆ सहायक पोषण, पोषण व प्राकृतिक स्वास्थ्य विज्ञान संघ के अनुसार गठिया कई प्रकार के होते हैं । एक व्यक्ति द्वारा अनुभव किए जा सकने वाले लक्षण दूसरे व्यक्ति के लक्षणों से भिन्न हो सकते हैं। हालांकि ऐसे खाद्य पदार्थ हैं जिनसे सभी गठिया पीड़ित बच सकते हैं जो लक्षणों और दर्द को कम करने में मदद करेंगे ।

◆ तले और प्रसंस्कृत खाद्य पदार्थ शायद सबसे खराब आहार हैं। जो लोग इस प्रकार के खाद्य पदार्थ को खाने से बचते हैं, वे अपने सूजन के स्तर को काफी कम कर सकते हैं। इस प्रकार के खाद्य पदार्थों से परहेज करने से आपके शरीर की प्राकृतिक सुरक्षा का निर्माण करने में भी मदद मिल सकती है।

◆ अपने AGEs (Advanced Glycation End Products) को प्रतिबंधित करें – इसका मूल रूप से मतलब है कि जब आप गर्म, ग्रिल्ड, तला हुआ खाद्य पदार्थ खाते हैं तो आप कितनी मात्रा में विषाक्त पदार्थों का सेवन करते हैं। अपने दर्द को कम करने के लिए, इन विषाक्त पदार्थों वाले खाद्य पदार्थ खाने से बचें।

शुगर्स और कार्ब्स नौ गठिया – Treatment of Osteoarthritis

ट्रिगर खाद्य पदार्थों से बचने के लिए, यह बहुत से लोगों के लिए सबसे खास है। आप अपने आहार में जितनी अधिक चीनी शामिल करेंगे, आपके AGE का स्तर उतना ही अधिक होगा, जिससे सूजन हो सकती है। आप रिफाइंड कार्ब्स से बचना चाहते हैं, जो कैंडीज, प्रसंस्कृत खाद्य पदार्थ और मैदे से पके हुए सामानों में आते हैं।

∆ डेयरी उत्पाद – इन उत्पादों में एक विशिष्ट प्रोटीन होता है जो आपके जोड़ों के आसपास के ऊतकों को नुकसान पहुंचा सकता है। कुछ गठिया रोगी शाकाहारी भोजन अपनाकर दर्द को कम कर सकते हैं ।

∆ शराब और तंबाकू सेवन करने से बचे – धूम्रपान करने वालों को रूमेटोइड गठिया होने का बहुत अधिक खतरा होता है, जबकि शराब पीने वालों को गठिया का ज्यादा खतरा होता है।

Osteoarthritis ka ilaaj in hindi.

◆ परिरक्षक ( प्रिजर्वेटिव) – नमक जैसे परिरक्षक आपके द्वारा खाए जाने वाले खाद्य पदार्थों में स्वाद लाते हैं । हालाँकि, जब आप इन चीजों का बहुत अधिक सेवन करते हैं, तो वे आपके जोड़ों में जमा हो सकते हैं और सूजन पैदा कर सकते हैं।

◆ मक्के का तेल – कई पके हुए खाद्य पदार्थों में बहुत सारे मकई का तेल और ओमेगा -6 फैटी एसिड होता है। उन खाद्य पदार्थों पर ध्यान देना बेहतर है जिनमें ओमेगा -3 होता है, जो सूजन को कम करने के लिए जाना जाता है। ओमेगा 3 के लिए आप कीवा ओमेगा 3 भी ले सकते हैं | इनके इलाज का अच्छा विकल्प है ।

◆ ट्रांस वसा – ट्रांस वसा आपके वजन को प्रभावित करती है । हालांकि, यह स्पष्ट है कि ट्रांस वसा सूजन को ट्रिगर कर सकते हैं, जबकि वे आपके रक्त वाहिकाओं के दिवार को नुकसान पहुंचाते हैं।
एमएसजी मोनोसोडियम ग्लूटामेट शरीर में गठिया की सूजन का एक प्रमुख कारण है। यह निवेदन है कि आप अपने भोजन में सभी प्रकार के एमएसजी से बचें।

◆ जोड़ों का कमज़ोर होना ऑस्टियोआर्थराइटिस का कारण हो सकता है, व्यायाम और शारीरिक उपचार रोग के कारण होने वाली परेशानी को कम करने में मदद कर सकते हैं।

◆ क्षतिग्रस्त जोड़ों के आसपास की मांसपेशियों को मजबूत करने से स्वयं जोड़ों पर तनाव की मात्रा कम हो सकती है।
एक भौतिक चिकित्सक ( फिजिओथेरेपिस्ट ) ऑस्टियोआर्थराइटिस के उपचार लिए व्यक्तिगत व्यायाम रोगी के अनुसार करता है। आधुनिक चिकित्सा पद्धति के द्वारा आपको इसका बहुत लाभ मिलता है । आपकी जोड़ प्रत्यारोपण की गुंजाइश को कम करने में सहायक होते हैं |

अन्य उपचार | Treatment of Osteoarthritis.

◆ ऑस्टियोआर्थराइटिस के कारण होने वाले दर्द से राहत के लिए कई विकल्प हैं, लेकिन उन सभी का उपयोग लंबे समय तक नहीं किया जा सकता है।

◆ यदि आपका यूरिक एसिड 10mg से कम है तो Treatment of Osteoarthritis लेने की आवश्यकता नहीं होगी । आपके खानपान में परिवर्तन करके नियंत्रित कर सकते हैं ।

◆ कोर्टिसोन के इंजेक्शन दर्द को कम करने में मदद कर सकते हैं, लेकिन इसे सीमित किया जाना चाहिए क्योंकि इस प्रकार के इंजेक्शन समय के साथ जोड़ों को खराब कर सकते हैं। सर्जरी भी होती है, मगर इनके इलाज आखिरी विकल्प है।

FAQ

Q1. अर्थराइटिस कितने प्रकार का होता है ?

Ans – गठिया (Arthritis) रोग मुख्य रूप दो प्रकार के होते हैं –

● ऑस्टियोआर्थराइटिस

● रुमेटाइड आर्थराइटिस
दोनों ही प्रकार के गठिया के लक्षणों में जोड़ों में दर्द और सूजन आम है ।

Q2. अर्थराइटिस क्यों होता है ? (Causes of Arthritis)

Ans. – अर्थराइटिस यानी गठिया का मुख्य कारण असंतुलित आहार है । अत्यधिक मात्रा में मीट, मछली, शराब एवं मसालेदार भोजन आदि । इसके अलावा मोटापा भी एक बड़ा कारण रहा है । यह आनुवंशिक भी होता है

Q3. अर्थराइटिस मींस क्या होता है ? Arthritis meaning in hindi.

Ans. – अर्थराइटिस यानी संधि शोथ जिसे अंग्रेजी में Arthritis कहते है । Arth का मतलब जोड़ Ritis का मतलब सूजन, साधारण शब्दों में जोड़ो का दर्द भी कहा जाता है । इस रोग में जोड़ो में जकड़न, दर्द, सूजन एवं गांठे हो जाती है जिसे गठिया भी कहा जाता है ।

Q4. अर्थराइटिस कैसे ठीक होता है ? Treatment of Osteoarthritis.

Ans. – यह रोग बिलकुल तो समाप्त नहीं हो सकता, लेकिन इसे ज्यादा बढ़ने से एवं दर्द को सिमित किया जा सकता है । फिजिओथेरेपी एक कारगर एवं सटीक उपचार है, आप किसी कुशल फिजिओथेरेपीस्ट से संपर्क कर सकते हैं । इसमें इलेक्ट्रोथेरेपी, एक्सरसाइज थेरेपी, निडलिंग और डॉ आपके वर्तमान स्थिति के मुताबिक आपका उपचार करेंगे । इस रोग को ठीक करने के लिए योग – व्यायाम एवं संतुलित भोजन करने से राहत मिलती है । चिकित्सा पद्धति में कोई एक उपचार सभी मरीज़ों पर काम नहीं करता है ।

Q5. आर्थराइटिस में क्या नहीं खाना चाहिए ?

Ans. – Arthritis यानी गठिया दर्द की प्रॉब्लम से छुटकारा पाने के कूछ खानपान की चीज़ों से परहेज़ करे जैसे ठंडी एवं तलवे भोजन से परहेज करें । इसके अलावा मीट – मास एवं अखरोट खाने से परहेज़ करें । खासकर खट्टे भोजन से बचें, ये आपके दर्द को बढ़ावा देते हैं, कोल्ड ड्रिंक, शराब, कोई भी नशा का प्रयोग से बचें |

Q6. अर्थराइटिस में क्या खाएं ?

Ans – गठिया रोग से निजात पाने के लिए कुछ संतुलित खानपान करना चाहिए जैसे बधुए, सेब, अलसी के बीज, विटामिन सी एवं सेवन करें साथ ही साथ प्रतिदिन 3 लीटर से अधिक जल पान करें । ओमेगा 3 वाली चीजों को शामिल करें । मक्का, बाजरा, मूंगफली, अवश्य लें । कीवा ओमेगा 3 आप ले सकते हैं ।

Q7. अर्थराइटिस में कौन सा योग करना चाहिए ?

Ans. – अर्थराइटिस की प्रॉब्लम से निजात पाने के लिए व्यायाम – व्यायाम का सहारा लिया जा सकता है जैसे आइसोमेट्रिक एक्सरसाइज बहुत बढ़िया व सटीक उपचार है, ताड़ासन, योगिक जॉगिंग, भुजंगासन, शशकासन एक सूक्ष्म व्यायाम किया जा सकता है । लेकिन किसी कुशल चिकित्सक की देख रेख में ही करें । किसी भी चोट, झटका और वजन उठाने से बचें ।

Q8. ऑस्टियोआर्थराइटिस का इलाज क्या है ? Treatment of Osteoarthritis 

जबाब – इस रोग का कोई सम्भवत इलाज नहीं है हा इसे नियंत्रित किया जा सकता है । स्वस्थ खानपान ही Treatment of Osteoarthritis है ।

उम्मीद करते है आज का टॉपिक आपके लिए उपयोगी साबित होगी । इस जानकारी को डॉ. सत्यम भास्कर ने अपने अनुभवों के आधार पर लिखा है । आप अपने विचार हमारे कमेंट बॉक्स में लिख सकते है ।

डॉ सत्यम भास्कर
ओम प्रेम हास्पिटल दिल्ली में सिनियर कंसलटेंट एवं मेडिट्रस्ट हेल्थकेयर दिल्ली के डायरेक्टर

Read more posts –

उच्च रक्तचाप के कारण, लक्षण एवं उपाय । High blood pressure.

थायराइड के कारण, लक्षण एवं उपचार । Thyroid in hindi.

Share