कान की सबसे छोटी मशीन की कीमत, फायदे व नुकसान

kaan ki chhoti mashin.

कान की सबसे छोटी मशीन की कीमत । वैसे तो शरीर के प्रत्येक अंग की अपनी – अपनी महत्वपूर्ण ता होती है अगर एक भी अंग की क्षति हो जाए तो उससे शरीर में बहुत सारे प्रभाव दिखने लगते हैं । शरीर के 5 संवेदनशील अंगों में कान की महत्वपूर्णता सबसे ज्यादा है । कान के माध्यम से प्रत्यक्ष रूप से लोग उनकी बातों को सुन पाते हैं ।

लेकिन विकल्प के तौर पर कान के माध्यम से जब लोगों की बात सुनाई देना बंद हो जाए । यानी कि कान की क्षमता में गिरावट आने लगे तो डॉक्टर की सलाह से मशीन के द्वारा उनकी पूर्व अवस्था लौट आती हैं । अर्थात वह पहले जैसे ही सुन पाते हैं। ऐसे लोग बहरेपन के शिकार हो जाते हैं और अगर देवी की जय तो फिर उन्हें मशीन के सहारे के द्वारा आवाज सुनने की क्षमता को वापस लाना पड़ता है।

लेकिन कान एक संवेदनशील अंग है इसीलिए मशीन को खरीदने वक्त इसकी गुणवत्ता पर विशेष ध्यान देने की आवश्यकता है। ध्यान रहे बिना डॉक्टर के परामर्श के कान की मशीन को ना खरीदें । कान की मशीन लगाने की प्रक्रिया में सबसे पहले ऑडियोलॉजिस्ट से इस विषय पर बात कर ले। कान की मशीन खरीदने वक्त यह ध्यान रखें कि हियरिंग एड किसी अच्छी कंपनी के हो ताकि यह अपना काम परफेक्ट रुप से कर सके। रेपुटेड कंपनी से खरीदारी करें । यह एक छोटा सा यंत्र होता है जिसके माध्यम से व्यक्ति को आसानी से आवाज सुनाई पड़ती है।

कान की मशीन कब लगाई जाती हैं ?

जब आवाज सामान्य रूप से कानों को सुनाई ना दे ऐसी स्थिति में मशीन लगाने की आवश्यकता पड़ती है। अक्सर यह उम्र दराज लोगों में होता है। किसी भी व्यक्ति को अगर नियमित रूप से बाहर की आवाज कान में सुनाई ना दे और यह जब स्थाई रूप में हो जाए तो व्यक्ति बहरेपन का शिकार हो जाता है ।

तभी कान की मशीन उनका उपयोग ही निदान होता है। संवेदी या सेंसेरिन्यूरल की प्रक्रिया बहरापन का स्थाई रूप है जिसमें इलाज की कोई संभावना नहीं बनती बहरेपन में कान के भीतर के नाजुक बाल कोशिकाओं के नुकसान के कारण या कान की कमजोरी नसों के कारण होता है।

पढ़े – पेनिस मे तनाव की दवा Ayurvedic. लिंगवर्धक 5 देसी व घरेलु उपाय

कान की सबसे छोटी मशीन की कीमत –

कान की यह छोटी मशीन की कीमत क्वालिटी पर निर्भर करती है अर्थात मशीन की क्षमता कितनी है और उसकी गुणवता कितनी है ? उसी के आधार पर उसकी कीमत तय होती है। वैसे बाजार के भाव पर भी इसकी कीमत निर्भर करता है । कभी-कभी कीमत घट भी सकती है और बढ़ भी सकती है। आमतौर पर मार्केट में जो यह यंत्र मौजूद है उसकी कीमत 10500 रुपये से 25000 रुपये प्रति मशीन है।

।।C. सबसे छोटा – मूल्य – Rs 6000
।।C. सबसे छोटा – मूल्य – Rs 18490
।।C. सबसे छोटा – मूल्य – Rs 45000
।।C. सबसे छोटा – मूल्य – Rs 26990

यह कान की मशीन की तात्कालिक बाजार में उपलब्ध कीमत है। इसके अलावा कान की छोटी मशीन की कीमत तकरीबन ₹6000 से लेकर ₹3 लाख तक बाजार में उपलब्ध है।

पढ़े – फैज़ा ब्यूटी क्रीम के फायदे, नुकसान व उपयोग विधि

रिचार्जेबल बैटरी वाली कान की सबसे छोटी मशीन की कीमत –

रिचार्जेबल बैटरी को बार-बार बदलने की जरूरत नहीं पड़ती है इसमें यह सुविधा है कि यह मशीन को कहीं भी शहर या फिर छुट्टी में ले जाया जा सकता है इसमें अतिरिक्त बैटरी की आवश्यकता नहीं होती है इसे स्मार्टफोन की तरह ही चार्ज किया जा सकता है।

रेटिंग – 5 में से 3.7 स्टार – मूल्य – 2,897.00 RS
रेटिंग – 5 मे से 2.7स्टार – मूल्य – 3,824.0 RS

दिए गए रेटिंग और कीमत रिचार्जेबल बैटरी की बाजार के भाव पर निर्भर है यह भाव घटते और बढ़ते भी रहते हैं। ऑनलाइन से मंगाने पर इसकी कीमत में थोड़ी सी रियायत रहती है।

पढ़े – पेनिस की नसो के लिए योग – पुरुषो के लिए 7 बेस्ट योग

कान की सबसे छोटी मशीन कहां मिलती है ?

आज कल कान की मशीन शहरों में बड़ी दुकानों पर आसानी से मिल सकती हैं । वैसे मेडिकल स्टोर में भी आजकल उपलब्ध होने लगी है । इसके अलावा ऑनलाइन बाजार में भी आसानी से यह यंत्र मिल जाता है । बाजार की अपेक्षा ऑनलाइन में थोड़ी कीमत में राहत रहती है।

ऑनलाइन अमेज़न जैसे शॉपिंग मार्केट मे यह मशीन उपलब्ध है जिसकी कीमत 480 से 1800 के बीच है जो लोगों के द्वारा बहुत ही पसंद किया जा रहा है यह मशीन सामान्य वर्ग के लोग हैं खरीद सकते हैं।
वैसे आजकल यह मशीन सहज रूप में सभी जगह उपलब्ध हैं निर्भर करता है कि व्यक्ति की क्षमता पर कि वह कितनी रकम लगा सके विशेषता हाई क्वालिटी की यह मशीन लेने में फायदेमंद तो है और किफायत भी है क्योंकि इसकी क्वालिटी पर श्रवण की क्षमता निर्भर करती है।

कान की मशीन की बैटरी कितने दिन चलती है ?

यह उपभोक्ता पर निर्भर करती है कि वह इस मशीन का कितने घंटा इस्तेमाल करता है । बहुत सारे लोग मशीन का इस्तेमाल 14 घंटों तक करते हैं । जबकि अन्य से 8 घंटे भी इस्तेमाल करते हैं जो कार्यक्षेत्र में रहते हैं तो उन व्यक्ति की बैटरी अधिक इस्तेमाल होती है इसलिए उनकी बैटरी क्षमता घट जाती हैं । वही अपनी उपयोगिता के आधार पर बैटरी को बदलते रहना चाहिए । वैसे भी इस मशीन में ऐसी सुविधा उपलब्ध है जो बैटरी कम होने पर चेतावनी दे देती है । अगर बैटरी रिचार्जेबल है तो उसे आसानी रिचार्ज कर सकते हैं अन्यथा फिर उसे बदला जा सकता है।

इस यंत्र को मध्यम दर्ज तापमान वाली जगह पर रखें जहां आर्द्रता बहुत कम है तो यह क्षेत्रों में प्रवेश कर जाती है । यह जस्ता द्वारा अवशोषित नमी से फूलती है या उसमें रिसाव होने लगता है । इसलिए इसे सामान्य तापमान वाले जगह पर रखें तो निश्चित रूप से यह अपनी क्षमता में वृद्धि करती है ।

हियरिंग एड पहनने के क्या फायदे हैं ?

कान की मशीन कम श्रवन वाले व्यक्ति के लिए है जो उसे सुनने में मदद करती है अर्थात जिन व्यक्ति की श्रवण क्षमता कम हो जाती है । उन्हें यह मशीन लगाने से सुनने की क्षमता सामान्य रूप से अन्य व्यक्तियों की तरह होती है। किसी भी वस्तु के दो पहलू होते हैं एक फायदेमंद तो दूसरा किसी ना किसी रूप में नुकसान दे भी हो सकता है। यह मशीन इन व्यक्ति के लिए तो फायदेमंद है जो बहरेपन के शिकार हो गए हैं उन्हें यह अवश्य लगाने चाहिए ताकि बाहरी आवाज को सुन सके ।

हियरिंग एड एक ऐसी छोटी सी मशीन है जो आपके सुनने की क्षमता 10 गुणा बढ़ा देती हैं । इतना हीं नही छोटी मशीन होती है जो बाहर दिखाई नहीं देती हैं । इनकी कीमत भी ज्यादा नहीं होने के कारण सामान्य वर्ग के लोग भी इसका इस्तेमाल कर सकते हैं और विशिष्ट लोग भी अपने क्षमता के आधार पर इसका इस्तेमाल कर सकते हैं।

हियरिंग एड पहनने के क्या नुकसान हैं ?

कान किया मशीन आवाज को एंपलीफायर करके कान तक पहुंचाती हैं जिसमें तेज तेज आवाज होती हैं जो व्यक्ति को कभी नुकसान भी पहुंचा सकता है। इसके अलावा तेज आवाज से कानों के हेयर सेल्स नष्ट हो सकते हैं इन्हीं हेयर सेल से हम सुन पाते हैं। इसलिए इस यंत्र का उपयोग बहुत आवश्यक हो उतनी ही देर करें तो नुकसान कम होंगे। चूंकि एक मशीन है इसलिए कहीं ना कहीं तो नुकसान देह भी है।

कान कि यह छोटी सी यंत्र जो बहरेपन के शिकार लोगों के लिए इस्तेमाल की जाने वाली यंत्र है जो सहज रूप में बिना किसी डॉक्टर के संपर्क से भी मेडिकल स्टोर और बाजार से खरीदी जा सकती हैं। खासकर वृद्धावस्था के दौरान सुनने की क्षमता कम हो जाती है इसलिए ऐसे व्यक्ति को यह मशीन लगाने से फायदा मिलता है। वैसे इसमें किसी तरह की केवल और तार की आवश्यकता नहीं होती है । रिचार्जेबल और बैटरी पर यह यंत्र चलता है जो कहीं भी आसानी से व्यक्ति ले जा सकता है ।