दांतों में तार लगाने में खर्च – बच्चों मे दांत ब्रेसिज़ के फायदे एव नुकसान

दांतों में तार लगाने में खर्च

दांतों में तार लगाने में खर्च । दांत हमारे मुख मंडल की शोभा होते हैं । सफ़ेद चमकते हुए दांत चेहरें पर चार चांद लगाते हैं । इनके विपरीत यदि दांत टेढ़े मेढे हो तो मुखमंडल की शोभा बिगाड़ देते हैं । यानी आपकी अच्छी खासी सूरत को बिगाड़ कर बदसूरती दिखा देते है । जिससे लोग हसते हुए भी शर्माते है । आम आदमी की कोई बात नहीं हैं जबकि जो लोग मॉडलिंग या फिल्मी दुनिया में या खुद को खूबसूरत बनाये रखना चाहते हैं तो टेढ़े मेढे दांतो को सीधा करना जरूरी है । एक्सपर्ट के अनुसार 11 से 15 की आयु तक दंत ब्रेसिस का उपयोग कर लेना चाहिए । क्योकि इस उम्र मे हड्डियों का विकास होता हैं ।

असल मे डॉक्टरी भाषा मे टेढ़े मेढे दांतो को सीधा करने की विधि को दांत ब्रेसिज़ कहते हैं । यह एक ऐसी विधि जिससे उपकरण के माध्यम से दातों को बेहतर बनाया जाता है । इस विधि के माध्यम से तार लगाकर सीधा किया जाता है । इस विधि का उपयोग कोई भी कर सकता है । लेकिन छोटे बच्चों के लिए उपयुक्त होता है । तो चलिए जानते हैं – दांतो मे तार लगाने के फायदे नुकसान एव खर्च –

पढ़े – ऐसी कौनसी दवा हैं जो 1 घंटे तक टाइम बढ़ाती हो – 5 जोश की गोली

दांत ब्रेसिज़ क्या है –

दांत ब्रेसिज़ एक उपकरण है जो दांतों को सहारा देने के लिए बनाया गया है। यह दांतों को सुरक्षित रखने में मदद करता है और कुछ विशेष समस्याओं का समाधान करने के लिए भी उपयोग होता है।
दांत ब्रेसिज़ एक प्रकार का यांत्रिक उपकरण है जो दांतों को सजीव रूप से सहायता देने के लिए बनाया गया है। ये उपकरण आमतौर पर प्लास्टिक या मैटेल से बने होते हैं और इन्हें दांतों की सुरक्षा, सहायता और सजीवता बढ़ाने के लिए उपयोग किया जाता है।

दांत ब्रेसिज़ के कई फायदे हैं। यह दांतों को मजबूत बनाता है और उन्हें सही स्थिति में रखने में मदद करता है। यह दांतों को दांतों की ताकत दरारों से बचाता है और उन्हें सेहतमंद बनाए रखता है। दांत ब्रेसिज़ विभिन्न प्रकार के दांतों की समस्याओं को ठीक करने में भी मदद करता है जैसे कि दांतों के दर्द, दांतों की सड़न, दांतों की ताकत वगैरह।
हालांकि, दांत ब्रेसिज़ के कुछ नुकसान भी हैं। अगर दांत ब्रेसिज़ को सही तरीके से न लगाया जाए तो यह दांतों को नुकसान पहुंचा सकता है। इसके अलावा, दांत ब्रेसिज़ का इस्तेमाल अधिक देर तक करने से भी दांतों को नुकसान पहुंच सकता है।

पढ़े – पतंजलि शराब छुड़ाने की दवा – नशा मुक्ति की 5 सबसे अच्छी दवा

दांतों में तार लगाने में खर्च –

भारत में Dental Braces का खर्च लोगों के लिए काफी किफायती है। यहां विभिन्न प्रकार के दांत ब्रेसिज़ उपलब्ध होते हैं और वे सभी वर्गों के लोगों के लिए सुलभ मूल्य पर उपलब्ध हैं। ये बात अलग हैं कभी अलग अलग कंपनीज का मूल्य अलग अलग हो सकता हैं ।
अगर आपके दांत टेड़े-मेडे हैं और आप चाहते हैं कि वे सीधे हों, तो इस समस्या का समाधान करने के लिए आपको कुछ विकल्पों पर विचार करना होगा।

पहले तो, अपने डेंटिस्ट से मिलें और उनसे सलाह लें। आपके दांतों की स्थिति को देखकर वे आपको सही तरीके से ट्रीटमेंट के बारे में बता सकते हैं।

अगर आपके दांतो की स्थिति कुछ ऐसी है कि डेंटल ब्रेसेस की आवश्यकता है तो उनका इस्तेमाल कर सकते हैं। डेंटल ब्रेसेस एक प्रकार का स्टील होते है जो दांतों को सीधा करने में मदद कर सकते हैं।
दूसरा विकल्प है, विस्तृत चिकित्सा विचार के बाद डेंटल कॉन्टूरिंग करवाना। इसमें डांतों को लेप कर सुंदर और सीधा बनाने के लिए उचित प्रकार से मोड़ना शामिल हो सकता है।

यह सुनिश्चित करने के लिए कि आपकी मुख्य चिकित्सा चिकित्सक या डेंटिस्ट से बात करें कि आपके लिए कौन सा विकल्प सबसे अनुकूल हो सकता है। प्रोफेशनल सलाह और ट्रीटमेंट आपको सही दिशा में ले जाएंगे और आपकी समस्या का समाधान करने में मदद कर सकते हैं।

भारत मे दांतों में तार लगाने में खर्च –

भारत जैसे देशो में दांतो मे तार लगाने की लागत की बात करे तो काफी किफायती हो सकती हैं । लेकिन आपके दांतो की स्थिति के अनुसार थोड़ा अलग अलग हो सकती हैं । इसे प्रमुख रूप से 3 भागो मे बाटते है जो इस प्रकार है –

  • मेटल ब्रेसिस – यह विधि काफी किफायती है जिनकी बीस हजार से लेकर पच्चास हजार के आस पास हो सकती हैं ।
  • सिरेमिक ब्रेसिस – यह ब्रेसिस थोड़ी महंगी हो सकती हैं जो करीब 35,000 से 85,000 तक हो सकती हैं । लेकिन आपको दांतो की स्थिति को सुधार सकती है ।
  • इनविसलाइन ब्रेसिस – इसे अलाइनर ब्रेसिस के नाम भी जानते है । यह विधि काफी महंगी है जिनकी लागत करीब एक लाख से चार लाख तक हो सकती है ।

जैसा की हम पहले बता चुके हैं कि आपके दांतो की स्थिति के अनुसार डॉक्टर्स तय करते है कि कौनसा तरीका, कौनसी ब्रेसिस का इस्तेमाल किया जायेगा ।

यदि आप भारत में केवल 2 सामने वाले दांतों के लिए ब्रेसिज़ की कीमत की बात करे तो जिनकी लागत 15 से 20 हजार तक सकती हैं । इनके अलावा हॉस्पिटल पर निर्भर करता है ।

पढ़े – स्वस्थ रहने के आसन टिप्स – Healthy living tips in hindi.

न्यूयॉर्क मे दांत ब्रेसिज़ की लागत – Kid’s Braces New York.

जहा हम भारत के बजाय अमेरिका, न्यूयॉर्क जैसे देशो की बात करें तो काफी दांत ब्रेसिस करना काफी नहीं बहुत महंगा है । यहाँ करीब $3,000 – $10,000 के आस पास हो सकती हैं । जो इस प्रकार है –

  • धातु ब्रेसिज़ – यह ब्रेसिस काफी किफायती है इनकी लागत $3,000 से 7,000 तक हो सकती हैं ।
  • सिरेमिक ब्रेसिज़ – इस ब्रेसिस की लागत $4,000 से 8,000 के आस पास हो सकती हैं ।
  • इनविज़लाइन – इनकी लागत करीब $4,000 – 7,400 तक हो सकती है ।
  • भाषिक ब्रेसिज़ – यह सबसे महंगी है इनकी लागत करीब $8,000 से 10,000 डॉलर तक हो सकती हैं ।

एक्सपर्ट के अनुसार इनकी कीमत आपके ऑर्थोडॉन्टिस्ट पर निर्भर करती हैं । मज़े की बात यह हैं कि इन देशो में दंत चिकित्सा बीमा जैसी सुविधाए उपलब्ध है । जिनका उपयोग भी 18 वर्ष से कम आयु के बच्चो का कवर कर सकता है ।

पढ़े – क्यो नही 12 इंच क्रीम के फायदे, नुकसान व उपयोग विधि

दांतो मे तार लगाने के फायदे –

दांतों में तार लगाने के कई फायदे हो सकते हैं। यह एक अच्छी दंत स्वास्थ्य रखने का महत्वपूर्ण हिस्सा है। तो चलिए जानते हैं फायदों के बारे में बारे में –

  • सफेद और स्वस्थ दांत – तार लगाने से आपके दांत स्वच्छ और सफेद रहते हैं। तार का उपयोग दांतों पर बच्चों और कीटाणुओं को हटाने में भी होता है और दांतों को स्वस्थ रखने में मदद करता है।
  • मसूड़ों के स्वास्थ्य – तार लगाने से मसूड़ों के बीच मौजूद कीटाणुओं को हटाने में मदद मिलती है और मसूड़ों को मजबूत रखती है।
  • हल्कापन – तार लगाने से दांतों के बीच के जोड़ों से खाद्य पदार्थों फसने की संभावना कम रहती है और जिससे दांतों में सफेद दाग नहीं पड़ते।
  • सुडोन्टियासिस के खतरे को कम करना – सुडोन्टियासिस एक बीमारी है जिसमें मसूड़े और दांतों की खराबी हो जाती हैं। तार लगाने से इस बीमारी के खतरे को कम किया जा सकता है।
  • फूले हुए मसूड़ों के खतरों को कम करना – तार लगाने से मसूड़ों में होने वाले और फूलने के खतरे को भी कम किया जा सकता है।

यदि आपको लगता है कि आपके दांतों और मसूड़ों की स्वास्थ्य में समस्या है, तो आपको दंत चिकित्सक से परामर्श लेना चाहिए। वह आपको सही तार चरणों और देखभाल के बारे मे उचित जानकारी दे पायेगा ।

दांत ब्रेसिस के नुकसान –

जहा दंत ब्रेसिस के फायदे होते हैं तो कुछ नुकसान भी होते हैं । एक्सपर्ट के अनुसार डेंटल फ्लॉस का सही तरीके से इस्तेमाल न करने पर या गलत तरीके से इस्तेमाल करने पर कुछ नुकसान हो सकते हैं। दांतो को नुकसान पहुँचाने की संभावना इस बात पर निर्भर करती है कि आप फ्लॉस को कैसे इस्तेमाल करते हैं।

जब आप डेंटल फ्लॉस करते हैं, तो यह ध्यान रखना जरूरी है कि आपको बहुत ही हल्के हाथों और समझदारी से काम करना चाहिए। अगर आप गलत तरीके से फ्लॉस करते हैं, तो आपके दांतो और मसूढ़ों को नुकसान पहुँच सकता है। ध्यान दें कि फ्लॉसिंग के दौरान ज्यादा दबाव न डालें ताकि दांत में दरार न आए और जब्तियाँ न टूटें।
इसके अलावा, अगर आपके दांत में कोई स्थैतिक या समस्या है, तो आपको सावधानी बरतनी चाहिए और डेंटल फ्लॉस करने से पहले अपने डेंटिस्ट से परामर्श लेना चाहिए ।

अंतिम शब्द – जिस तरह से हमारे दाँतों का संरचना व्यक्तिगत होता है, उसके आधार पर फ्लॉसिंग का तरीका भी व्यक्तिगत होता है, इसलिए बहुतायत डॉक्टर्स से सलाह लेना हमेशा बेहतर होता है।
जब तक आप सही तरीके से डेंटल फ्लॉस करते हैं, फ्लॉस का इस्तेमाल आपके दाँतों और मसूढ़ों के लिए फायदेमंद होता है और आपकी मौखिक स्वास्थ्य को बढ़ावा प्रदान करता है।