लिंग बड़ा करने की excercise. पेनिस बिग साइज की 11 एक्सरसाइज

ling bada karne ki excercise.

लिंग बड़ा करने की excercise. औजार का पुरुषो की जिंदगी मे बहुत महत्व है । यदि इनका साइज बड़ी हो तो अपने पार्टनर को खुश रखने मे मदद मिलती हैं  वही उन्हे संतुष्टि भी मिलती हैं । एक्सपर्ट की अनुसार बात करे तो पेनिस की साइज एक पुरुष की शारीरिक स्थिति पर निर्भर करती हैं । यानी फीजिकल कंडीशन ही लिंग की स्थिति बया करती है ।

दूसरा स्टेप मानसिक संतुलन भी लिंग को कड़क या कठोर करने के लिए मददगार है । तीसरा चरण खानपान एव जीवन शैली पर निर्भर करता हैं । यदि किसी कारणवंश लिंग की नसे कमजोर हो गई हो तो दवाओं के अलावा योग व्यायाम या एक्सरसाइज भी एक अच्छा विकल्प हो सकता हैं । तो चलिए जानते हैं – लिंग बड़ा करने की excercise. के बारे में –

भारत में पेनिस साइज क्या है ?

पुरुषो के निजी अंग यानी लिंग की लंबाई, मोटाई अलग अलग होती हैं । क्योकि आस पास की जलवायु भी इनको काफी हद तक प्रभावित करती हैं । एक रिसर्च के मुताबिक सबसे छोटा पेनिस 1.6 इंच का था जबकि सबसे बड़ा 10.2 इंच का पाया गया । हर पुरुष का औसत लिंग की बात करे तो 4.8 इंच का पाया गया ।

अब भारत के पुरुषो के पेनिस साइज़ की बात करे तो ब्रिटिश वैज्ञानिक रिचर्ड लिन के रिसर्च के मुताबिक भारत के पुरुषो के लिंग साइज़ लगभग 4 इंच तक होती हैं । जबकि हाल ही मे हुए ऑनलाइन अमेरिकी रिसर्च के अनुसार 5.6 इंच तक मापी गई । ऐसे मे यही कहा जा सकता हैं कि भारत मे पुरुषो के पेनिस की साइज़ लगभग 4 से 5.5 तक हो सकती हैं । आपकी जानकारी के लिए बता दे की आज भले ही लिंग की साइज़ को लेकर तरह तरह के कवायद लगा रहे है लेकिन आप कितनी देर तक परफॉर्मेस कर सकते है यह मायने रखता है ।

पढ़े – औजार मोटा करने की दवा घरेलु उपाय । लंबा करने के 7 नुस्खे

लिंग बड़ा करने की excercise.

लिंग को बड़ा करने के लिए कई प्रकार की एक्सरसाइज और तकनीकें मौजूद हैं। यहां कुछ आपकी मदद कर सकती हैं –

1. केगल एक्सरसाइज – केगल एक्सरसाइज करने से पुरुषों के शिश्न में से पानी निकलने की समस्या और इरेक्शन की कमजोरी में सुधार हो सकती है। केगल एक्सरसाइज करने के लिए नीचे दिए गए स्टेप का पालन करें –

  1. योनि के आस-पास के हिस्से को ढंकने और ढकेलने को ध्यान में लेकर रिलैक्स करें।
  2. दिन में कभी भी मुस्कान के साथ हिस्सों को ढंकें और लम्बा समय तक रखें।

2. जेल्किंग – लिँग बढाने के योग –

  • उपरंत, थोड़ी देर के लिए लिंग को ठंडा करें या नीचे को नीचे दबाएँ।
  • हाथ के उपयोग से, नीचे से उच्च तक या उपर और चलकर लिंग के केन्द्र बिना जोड़े हुए हिस्सों को ७ सेकंड तक मसाज करें।
  • इस प्रक्रिया को १० मिनट तक दोहराएँ, रात को सोने से पहले या सुबह उठने के बाद ।

इनके अलावा कुछ एक्सरसाइज जैसे अल्टीमेट स्ट्रेचर, थंब स्ट्रेचर, बैकवर्ड पुलर, अपोजिट स्ट्रेच, वेट जेलकिंग, रोटेटिंग स्ट्रेच व वेट-लिफ्टर भी उपयोगी है । मगर यह ध्यान दें कि अलग-अलग लोगों के शरीर परिस्थितियां भिन्न हो सकती हैं, इसलिए यदि आप लिंग को बड़ा करने के लिए किसी व्यायाम या excercise का चयन करते हैं, तो इसे नियमित रूप से करने से पहले अपने चिकित्सक से परामर्श लें।

पढ़े – पेनिस साइज़ बढ़ाने की होम्योपथिक दवा – 5 बेस्ट मेडिसिन

लिंग बड़ा करने की excercise –

योगासनों के माध्यम से लिंग को बढ़ाने के विभिन्न तरीके मौजूद हैं। यहां कुछ लिंग बढ़ाने के लिए योगासन और व्यायाम के तरीके बताए गए हैं –

  • उत्थानासन (Tadasana) – इस योगासन में आपको ऊंचाई पर खड़े होकर स्पीन स्थिति में रहना होता है। यह आपके लिंग को स्थिर और मजबूत बनाने में मदद कर सकता है।
  • मलासन (Malasana) – इस योगासन में आपको नीचे झुक कर बैठना होता है। यह प्राकृतिक रूप से नसों और लिंग का प्रवाह बढ़ाने में मदद कर सकता है।
  • आदिमुख श्वानासन (Adho Mukha Svanasana): यह योगासन शरीर की मांसपेशियों को बढ़ावा देता है और इसे डिफॉर्म करने में मदद कर सकता है। इसके लिए आप एक पूंछ की स्थिति में खड़े हो जाते हैं और अपने हाथों की मदद से उन्हें पीछे करते हैं।

हालांकि, ध्यान दें कि लिंग बड़ा करने की excercise. योगासन एकमात्र उपाय नहीं हैं और वे केवल अन्य तकनीकों के साथ संबंधित हो सकते हैं। योग केवल शारीरिक व्यायाम के रूप में मान्यता प्राप्त करता है और इससे गर्भाशय, गर्भवती महिला, योनि या अंग की किसी भी बीमारी के लिए उपयोग नहीं करना चाहिए। पुरुष लिंग को बढ़ाने के लिए कुछ योगासन हैं जो मददगार साबित हो सकते हैं।

लिंग मोटा करने के लिए योगासन – लिँग बढाने की exercise

लिंग बढ़ाने के लिए योगासन करने के कुछ फायदे हो सकते हैं, जैसे कि एक स्वस्थ और मजबूत लिंग के विकास में मदद करना, योनि में रक्त प्रवाह और सचेतनता को बढ़ाना, शरीर में कामेच्छा और आंतरिक ऊर्जा को बढ़ाना, स्तेमिना और सेक्सुअल शक्ति में सुधार करना । कुछ योगासन के नाम इस प्रकार है –

  • मलासन (Malasana) – यह योगासन पुरुषों के लिंग की मांसपेशियों को मजबूत करने में मदद कर सकता है। आपको सक्रिय गोभी स्थिति में अपने पैरों को सटाए रखना होगा, अपनी बाँहें अंकुरित आदर्श पर टिकाकर अवधारणा के साथ बैठें।
  • पूर्ण मलासन (Purna Malasana) – इस योगासन में आपको उभय सीड़ी आसन के रूप में बैठक से शुरू करके मलासन तक जाना होगा। इसे करने से आपके पुरुष गुणों को बढ़ाने में मदद मिलती है और आपके संक्रमण को कम कर सकती है।
  • त्रिकोणासन (Trikonasana) – यह योगासन पुरुषों के लिंग की परिसंधि को मजबूत करने में मदद कर सकता है। आपको खड़े रहते हुए अपने पैरों की दिशा की ओर इकट्ठा करना होगा, एक हाथ को आगे की ओर ले जाते हुए, और दूसरे हाथ को ऊपर की ओर ले जाते हुए।
  • मूलाधार आसन (Mooladhara Asana) – इस आसन में बैठक के लिए आपको उभय सीड़ी आसन का उपयोग करना होगा। यह आसन पुरुषों के प्रतिस्पर्धी स्तंभ को सुधारने में मदद कर सकता है। इन योगासनों को नियमित रूप से करने से पहले योग गुरु से सलाह ले ।

पढ़े – लिंग बढ़ाने के आयुर्वेदिक oil, tablet एव 5 देसी दवा

पेनिस / लिँग बढाने की exercise.

पुरुष लिंग को बढ़ाने के लिए कुछ योगासन हैं जो मददगार साबित हो सकते हैं। यहाँ कुछ कामयाब योगासन हैं –

  • तदासन (Tadasana) – यह योगासन पुरुषों के लिए मांसपेशियों को मजबूत करने में मदद करता है और पुरुष लम्बाई में वृद्धि कर सकते हैं। इसके लिए, खड़े हो जाएं और अपने पाँवों को एकदूसरे के साथ मिलाएं। फिर अपने भार को अच्छी तरह से संतुलित रखें और ध्यान लगाएं। इस आसन को 5-10 मिनट तक करने से लाभ मिलेगा।
  • पश्चिमोत्तानासन (Paschimottanasana) – इस योगासन को करने से पुरुष लिंग को बढ़ाने में मदद मिल सकती है। इसके लिए, बैठ जाएं और अपने पैरों को मुड़कर अपने हथेलियों को छूने की कोशिश करें। जितना संभव हो सके, अपने पैर के आगे को जब पाएं तब तक चलते रहें। ध्यान बनाये रखने के लिए, अपनी साँस को धीरे से बाहर निकालें और आराम से साँस लें। इस आसन को सामान्यतः 1 मिनट तक करें।
  • उत्तानासन (Uttanasana) – यह योगासन पुरुषों के शरीर को लाचीला बनाने में मदद करता है और स्तनों माशपेशियों में वृद्धि कर सकता है। इसके लिए, खड़े हो जाएं और अपने लिंग को आगे की और झुकाएं। अपने पैरों को सीधा और अपने सिर को अपने जोड़ी के पास ले जाएं। साधारणतः, इस आसन को 1-2 मिनट तक करना चाहिए।
  • छलांगासन (Chakrasana) – यह योगासन पुरुषों के तनाव को कम करने में मदद करता है और पुरुष लिंग को बढ़ाने में सहायक हो सकता है। इसके लिए, आपको पीठ के बाल लेट जाना होगा, हथेलियों को सामने की ओर मोड़ने की कोशिश करें और आपके चारों ओर ठीक से ताकत के साथ गोली बनाएं। सामान्य रूप से, इस आसन को 1-2 मिनट तक करना चाहिए।

पेनिस बिग साइज फार्मूला इन हिंदी –

एक नियमित और संतुलित आहार लेना आवश्यक है ताकि पुरुष लिंग को उचित पोषण प्राप्त हो सके। इसमें प्रोटीन, विटामिन, मिनरल्स और फाइबर की समृद्ध युक्तियाँ होनी चाहिए। प्रोटीन ईश्वरीय मांस, सोयाबीन, दूध और दही आदि में प्राप्त किया जा सकता है। इसके अलावा, आहार में विटामिन और मिनरल्स भरपूर मात्रा में होने चाहिए जैसे कि सेब, नींबू, टमाटर, गाजर आदि।

दूसरा, योग और व्यायाम लिंग स्वास्थ्य के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण हैं। यह शारीरिक विकास, मानसिक स्वस्थ्य और पुरुषत्व को बढ़ावा देता है। सटीक योग आसानों के साथ आपकी मांसपेशियों को समुचित रूप से खींचने में मदद करता है जो हमारे वीर्य स्राव को निर्माण करती हैं। इसके बाद में तनाव, डिप्रेशन और अवसाद को कम करने में सहायता मिलती है। नियमित व्यायाम शरीर की कोशिकाओं को शक्ति देने में सहायता करता है और लिंग स्वास्थ्य को बढ़ाता है।

तीसरा, मानसिक स्वास्थ्य और ध्यान रखना पुरुष लिंग के लिए जरूरी है। तनाव, अवसाद और तनाव लिंग विकारों के मुख्य कारणों में से एक हैं। प्रारंभिक लेवल पर बदलती जीवनशैली और कार्य दिनचर्या हमारे मन को प्रभावित कर सकती है, जिससे हमारी मनःस्थिति पर भी असर पड़ता है। ध्यान और मनन, निरंतर चिंताओं को कम करके, मानसिक स्थिरता प्राप्त करने में मदद करता है। योगाभ्यास और मनःसामरीक विचारधारा सामरिक और मानसिक स्वास्थ्य बढ़ाने में मदद कर सकते हैं।

इसके अलावा, देह से जुड़े नशे को दूर रखना बहुत महत्वपूर्ण है। धूम्रपान और मादक पदार्थों का सेवन पुरुष लिंग के लिए हानिकारक हो सकता है। एक नवयुवक के ताजगी को पुनर्जीवित करने और उसके शरीर को स्वस्थ और मजबूत बनाने के लिए, इनका परित्याग आवश्यक होता है।

Share

Leave a Comment