लिँग बढाने की आयुर्वेदिक oil, tablet एव 5 देशी दवा

ling badhane ki ayurvedic oil.

लिँग बढाने की आयुर्वेदिक oil, मनुष्य जीवन में फिज़िकल रिलेशन का सबसे अहम स्थान होता हैं । इनके अभाव मे न तो ये जग प्रगति करता हैं और ही परिवार आगे बढ़ेगा । इतना ही नही पति पत्नी के रिश्ते भी प्रगाढ़ नहीं रहेंगें । इसका मतलब यह नही है कि ये रिश्ते देहिक मात्र होते हैं । लेकिन शारीरिक आवश्यकताओ की पूर्ति एक दूसरे से होती हैं । जिससे छोटी छोटी खुशियाँ मिलती हैं ।

जनन के लिए प्राइवेट पार्ट अहम भूमिका निभाते हैं । ऐसे मे यदि मेल प्राइवेट छोटा हो, खड़ा न हो, जोश की कमी हो या यूँ कहे कि इंद्री का ढीलापन हो तो आनंद की प्राप्ति नहीं होगी । आपका पार्टनर संतुष्ट नहीं हो पायेगा । ऐसे विभिन्न प्रकार की आयुर्वेदिक, होम्योपेथिक एव अंग्रेजी दवा की तलाश करनी पड़ती हैं ।

आयुर्वेदिक दवाओं में अनेकों ऐसी दवा, तेल एव टेबलेट उपलब्ध है । जिनका उपयोग सदियों से किया जा रहा हैं । आज के लेख में हम उन्ही दवाओं के बारे में बताने जा रहे है जो लिंग को बढ़ाने के Oil, Tablet एव capsule के रूप में उपयोगी हो तो आइये ling badhane ki ayurvedic oil. के बारे में जानते है –

पढ़े – बैद्यनाथ कम्पनी की दवा Shighrapatan

पुरुष अंग ढीला क्यो होता हैं –

अगर बात करें ढीलापन की तो बहुत सारे रीज़न हमारे सामने आते है । एक्सपर्ट की राय सुने तो उनका कहना है कि लगातार अव्यस्थित खानपान एव लाइफ स्टाइल मुख्य कारण है । इसी प्रकार यदि ज्यादा गाड़ी चलाएंगे तो भाई कभी न कभी गिरना पड़ेगा । वही आप लिमिट में रहेंगे तो लोंग ड्राइव भी सकते हैं । इसी प्रकार कुछ कारण इस तरह से है –

  • बढ़ती उम्र,
  • बचपन की गलती से आई कमजोरी,
  • जोश की कमी या फिज़िकली वीकनेस,
  • शीघ्रपतन या शीघ्र सखलन,
  • गंभीर रोगो से पीड़ित होना,
  • अधिक बार गाडी चलाना,
  • टेस्टोस्टोन हार्मोन की कमी,
  • पेनिस पर किसी प्रकार की चोट के कारण,
  • पेनिस की नसों का कमजोर होना आदि ।

उपरोक्त कारणों के अलावा मास्टबेशन भी एक कारण है जिससे पेनिस की मशपेशियाँ कमजोर हो जाती हैं । यही वजह से लिंग मे इरेक्शन नही हो पाता है । अगर होता है तो कुछ समय बाद ढीला पड़ जाता हैं ।

लिंग बढ़ाने की आयुर्वेदिक oil –

आयुर्वेद में अनेको ऐसे तेल है जो लिंग के ढीलापन दूर करके नसों की कमजोरी से निजात दिलाता है । यह तेल विशेष रूप से माशपेशियों को मजबूती प्रदान करते हैं । जिससे इंद्री में इरेक्शन पैदा होता हैं और लम्बाई चौडाई बढ़ जाती हैं ।

आज के लेख में हम कुछ ऐसे ही आयुर्वेदिक तेल के बारे में बताने जा रहे है जो विशेष से इंद्री वर्धक तेल के नाम से जाने जाते हैं तो चलिए जानते हैं –

पढ़े – Food पत्थर जैसा सख्त खड़ा करने का प्राचीन फार्मूला

लैवेंडर आयल – लिँग बढाने की आयुर्वेदिक oil

यह तेल गाढ़ा एव उत्तेजना वर्धक होता हैं । जो माशपेशियों को मजबूत बनाकर उनमे रक्त संचार को बढ़ाने मे लाभकारी होता है। इतना ही नही यह तेल तनाव को कम करने मे भी प्रभावी औषधि के रूप मे माना जाता हैं ।

इस तेल का नियमित से इस्तेमाल करने हार्मोन असंतुलन की प्रॉब्लम से निजात दिलाने मे सहायक है । वही लिंग को कठोर करके मोटा – चौड़ा बनता हैं । इनका इस्तेमाल करने के लिए इसमे 2 बुंद जैतून का तेल मिलाकर हल्के हाथो से पेनिस मालिश करे ।

लिँग एक्स्ट्रा लार्ज आयल – इंद्री बढाने की आयुर्वेदिक oil

यह आयुर्वेदिक व यूनानी चिकित्सा पद्धतियों का मिला जुला संगम है । जो तन मन को उत्तेजित करने के साथ साथ जनन शक्ति को बढ़ाता है । यह तेल आपकी इम्युनिटी लेवल को बढ़ाकर स्टेमिना को भी बढ़ाता है । इस तेल मे उपस्थित विभिन्न प्रकार के प्राकृतिक तत्व जैसे – अकरकरा, शिलाजीत, दाल चीनी, मालकांगनी, जायफल, जुन्देबेदस्तर, लॉन्ग, वीर बहुति, जोक, ज्यावत्री, कालोंजी, खरातीन खुश्क, पीपल, सफेद मोम, शीप फैट, तिल का तेल, जैतून का तेल आदि । जो शीघ्रपतन एव नपुंसकता को दूर करने मे उपयोगी है ।

इस तेल का इस्तेमाल पारी खेलने से 1 घंटे पहले हल्के हाथो से मालिश कर सकते है । इनके अलावा सुबह शाम पेनिस पर लगाकर मसाज कर सकते हैं । इस तेल का कोई साइड इफ़ेक्ट्स नहीं है लेकिन निर्धारित मात्रा एव अवधि तक करे ।

ऑर्गन आयल (Argan Oil) – लिँग बढाने की आयुर्वेदिक oil

इंद्री बढ़ाने या मोटा करने के लिए यह सबसे अच्छा तेल हैं । इस तेल का महीने भर तक इस्तेमाल करने से चमत्कारिक़ परिणाम मिल सकते हैं । साथ ही साथ आपकी टाइमिंग भी बढ़ सकती हैं । इनके अलावा शीघ्रपतन एव नपुसकता जैसी प्रॉब्लम से निजात मिल सकती हैं ।

यह तेल आर्गन नामक पेड़ से निकाला जाता है। जो एक शुद्ध प्राकृतिक औषधि हैं । इस तेल का इस्तेमाल बालों को उगाने के साथ साथ स्किन पर भी किया जाता है । यह तेल आपको सदा जवान बनाये रखने मे उपयोगी माना जाता है। इनका लिंग पर मालिश करने से न केवल मोटा होता हैं बल्कि स्किन भी नर्म एव मुलायम होती हैं । वही सुखापन को भी दूर करता है । लिंग पर होनी वाली खुजली से भी राहत देता है।

इंडिया किंग ऑयल – लिँग बढाने की आयुर्वेदिक oil

यह तेल भी हर्बल जड़ी बुटियों द्वारा निर्मित किया जाता है। जो पेनिस को सख्त खड़ा रखने के साथ साथ उत्तेजना को भी बढ़ाता है । इतना ही नहीं इस तेल का एक घंटा पहले इस्तेमाल किया जाए तो टाइमिंग को भी बढ़ाया जा सकता है। रोजाना इस तेल से मालिश करने से लिंग मोटा व लम्बा होता हैं ।

इस तेल का इस्तेमाल करने के लिए 10 से 15 बुंदे लेकर पेनिस पर नीचे से उपर तक मसाज करें । जिससे कमजोर माशपेशियों मे नई ऊर्जा का संचार होगा । ब्लड फ्लो बढ़ेगा । इनका इस्तेमाल रोजाना सुबह शाम करे ।

लाल घोड़ा आयुर्वेदिक आयल – इंद्रीवर्धक तेल –

यह भारत का प्रसिद्ध लिंगवर्धक आयुर्वेदिक तेलो मे से एक है । जो मोटा व चौड़ा बनाने के लिए उपयोगी है । साथ ही साथ शीघ्रपतन एव नपुसकता को दूर करने के लिए उपयोगी है । जो पुरुष इरेक्शन की कमी से परेशान है । कठोरता की कमी से समस्या का सामना कर रहे हैं उनके यह तेल किसी रामबाण दवा से कम नहीं है ।

इनका इस्तेमाल सुबह शाम पेनिस पर मसाज के रूप मे किया जा सकता हैं । इस तेल का कोई साइड इफ़ेक्ट्स नहीं है लेकिन इसे अनुशासित मात्रा मे ही करे । यदि कोई दुष्प्रभाव नजर आता हैं तो तुरंत उपयोग करना बंद करे । इनके अलावा हमारे पिछले लेख भी पढ़ सकते हैं –

  1. बैद्यनाथ आयल फॉर पेनिस In Hindi
  2. जापानी तेल के फायदे नुकसान एव उपयोग विधि
  3.  पतंजलि पेनिस तेल । Patanjali lingvardhak oil.

लिँग बढाने की आयुर्वेदिक उपाय –

सदियों से आयुर्वेद प्रजनन दुर्बलताओ को दूर करने के लिए वाजीकरण चिकित्सा पद्धति से उपचार किया जाता है। इन जड़ी बुटियों का सेवन से इंद्री का ढीलापन, टेढ़ापन, इरेक्शन की कमी, शीघ्रपतन आदि कमजोरियों को दूर किया जाता हैं । तो चलिए जानते हैं – इंद्रीवर्धक जड़ी बुटियों के बारे –

  • जिन्सेंग – यह जनन शक्ति बढ़ाने के लिए रामबाण दवा है । विशेष रूप पुरुषो के लिए यह टेस्टोस्टोन हार्मोन के लेवल को बढ़ाकर प्रजनन कमजोरी को दूर करता है । यह जड़ी बुटी चीन में पाई जाती है। लेकिन इनकी 11 प्रजातिया अलग अलग देशो मे पाई जाती हैं । भारत मे पाई जाने वाली भारतीय जिनसेंग के नाम से वाली जाती हैं । इसमे मौजूद जिनसिनोसाइड्स नामक तत्व जो नाइट्रेट ऑक्साइड के स्तर को बढ़ा देता है। जिससे गुप्तांगो मे ब्लड फ्लो बढ़ जाता हैं । जिससे उत्तेजना बढ़ जाती हैं और वह बेहतर प्रदर्शन करने मे सफल हो जाता हैं ।
  • एल – आर्गिनन – यह औषधि पेनिस को बड़ा करने के लिए उपयोगी है । जो अमीनो एसिड की तरह कार्य करता है । इनका सेवन करने से पेनिस की माशपेशियों को मजबूत करने के साथ साथ रक्त संचार को भी बढ़ाता है ।
  • गोखरू, अश्वगन्धा, शिलाजित, सफेद मुसली – यह सभी स्वदेशी प्राकृतिक जड़ी बुटियों है । यह प्रजनन क्षमता को बढ़ाने के लिए सबसे उपयोगी दवाओं मे से एक है । इनका नियमित रूप से सेवन करने से टेस्टोस्टोन के लेवल को बढ़ाकर जनन उतको को बढ़ाने मे सहायक है ।

इनके अलावा माका, गिंगो बायलोबा भी सामान को बड़ा करने के लिए उपयोगी है । लेकिन इन बात का अवश्य ध्यान रखें कि इन औषधियों का सेवन करने से पहले योग्य वैध से अवश्य परामर्श करे । और हा यदि आप गंभीर बिमारियों की दवा ले रहे तो इन दवाओं का सेवन न करे ।

लिँग बढाने की आयुर्वेदिक Patanjali

यह ब्रांड भारत का जाना माना स्वदेशी ब्रांड है । जिनके संचालक बाबा रामदेव है । इनकी दवा किफायती होने के साथ साथ आयुर्वेदिक जड़ी बुटियों युक्त होती हैं । यह प्रजनन क्षमता को बढ़ाकर सभी प्रकार की दुर्बलताओ को दूर करने के लिए लाभकारी है तो चलिए जानते हैं – इन दवाओं के नाम –

  • पतंजलि दिव्य मूसली पाक,
  • पतंजलि दिव्य यौवन वटी,
  • पतंजलि दिव्य शतावर चूर्ण,
  • पतंजलि दिव्य मकरध्वज वटी,
  • पतंजलि अश्वशीला कैप्सूल,
  • पतंजलि दिव्य गोखरू चूर्ण,

उपरोक्त सभी दवा मार्केट मे आसानी से उपलब्ध हो जाती हैं । इनका उपयोग करने से पहले योग्य वैध से परामर्श अवश्य करे ।

पढ़े – पेनिस की नसों का इलाज oil. औजार बढ़ाने के 9 बेस्ट तेल

लिँग बढाने की आयुर्वेदिक tablet

जनन शक्ति बढ़ाने के लिए आयुर्वेद मे अनेको दवाए उपलब्ध है । यह दवा न केवल प्रजनन क्षमता का विकास करती हैं बल्कि विभिन्न प्रकार विकारो को दूर करके स्वस्थ जीवन प्रदान करती हैं । मगर इस बात का अवश्य ध्यान रखें कि इनका उपयोग योग्य वैध की सलाह से करें । अन्यथा दुष्परिणाम का सामना करना पड़ सकता है।

  • कामसुधा योग,
  • बल्य पाक,
  • वृह्नी गुटिका,
  • शातवरी टेबलेट,
  • वृष्य घृतं,
  • कौच के बिज़,
  • कामिनीविद्रवान,
  • कामदेव चूर्ण,
  • अकरकरा चूर्ण,
  • वंग भस्म,
  • कामदेव घृत आदि ।

उपरोक्त दवा मार्केट में विभिन्न ब्रांडो जैसे बैद्यनाथ, पतंजलि, हिमालय व अन्य मे उपलब्ध है । इनका उपयोग सोच समझकर करे ।

बड़ा करने की देशी दवा –

बड़ा करने के लिए आयुर्वेद के आलावा कुछ देशी उपाय भी है । जिनका उपयोग करके पेनिस को बड़ा कर सकते हैं तो चलिए जानते हैं – इन उपयो के बारे मे –

  • पेनिस पर मालिश करे – पेनिस पर मालिश करने के लिए कुछ देशी तेल है जैसे तिल का तेल, सरसों का तेल, जैतून का तेल, लोंग का तेल, चमेली का तेल, चंदन का तेल आदि उपयोगी है । जिससे श्रेष्ठ परिणाम मिल सकता है।
  • शहद और बेलपत्र – बेलपत्र रस के साथ शहद मिलाकर पेनिस पर मालिश करने से पेनिस की नसों की कमजोरी दूर होती हैं जिससे उत्तेजना भी बढ़ती है ।
  • शहद और सुहागा – इन दोनो देशी युगमो का मिश्रण बनाकर पेनिस पर लेप करने पर मोटा व चौड़ा हो जाता हैं ।
  • बकरी का घी – बकरी के दूध से निकाला गया घी की पेनिस पर मालिश करने से बेहतर परिणाम मिलता हैं ।
  • खानपान – संतुलित आहार सेवन करने से प्रजनन क्षमता का विकास होता हैं । इनके अलावा तरबूज, लहसून, प्यास, केला, खजूर, ड्राई फ्रूट आदि जनन शक्ति बढ़ाने के लिए उपयोगी है ।
  • योग – व्यस्तम जीवन मे रोजाना योग करने से जनन शक्ति बढ़ती है । इन योगों मे किंगल व्यायाम मुख्य है जो गुप्तांगो की वृद्धि के लिए उपयोगी है ।

अंतिम निष्कर्ष – आज के लेख में दी गई जानकारी का उद्देश्य शैक्षणिक मात्र है । इनका उपयोग करने से पहले योग्य वैध से अवश्य परामर्श करे ।