इलायची से गर्भ कैसे गिराए – जाने गर्भपात के फायदे नुकसान

ilayachi se grabh kaise giraye. -

इलायची से गर्भ कैसे गिराए  । एक नारी संपूर्ण तभी होती है जब वह मां बनती है। मां बनना एक सुखद अनुभव है जो हर स्त्री की विवाह के बाद उसकी यह परम इच्छा रहती है कि उसकी कोई अपनी संतान वो । विवाह उपरांत दंपत्ति तभी पूर्ण होते हैं जब उनके जीवन में नई संतान की आगमन होती हैं । यह स्त्री पुरुष के संजोग से ही संभव होता है । लेकिन कई दफा यह देखा जाता है कि बहुत सारी ऐसी परिस्थितियां होती है ।

जब स्त्री गर्भवती होती हैं उसके उपरांत किसी कारण बस उन्हें गर्भपात कराया जाता है या वह विवश हो जाती है कि बिना डॉक्टर की सलाह के घरेलू उपचार के माध्यम से वह गर्भपात आसानी से करा सके । ऐसी परिस्थितियां उत्पन्न हो जाती है जब दंपति में से कोई एक आदमी सक्षम नहीं हो पाता कि वह परिवार की जिम्मेवारी उठाएं इसलिए इस दरमियान में अगर स्त्री गर्भवती हो जाती हैं तो वह विवश हो जाता है गर्भपात कराने के लिए । ilayachi se grabh kaise giraye. –

पढ़े – पेनिस मे तनाव की दवा आयुर्वेदिक । लिंगवर्धक घरेलू व देशी उपाय

इलायची से गर्भपात कैसे होता हैं –

इलायची एक ऐसी औषधि हैं जिनका उपयोग चाय मसाला के साथ साथ विभिन्न प्रकार व्यंजनों मे भी किया जाता है । लेकिन यह गर्भवती महिलाओ के लिए नुकसान दायक हो सकती हैं । इनका अधिक उपयोग से बच्चा गिर सकता है ।

क्योंकि इलायची के सेवन से ब्लड प्लेटलेट्स और टोटल वाइट ब्लड काउंट कम हो जाता है । इसका प्रभाव प्लेसेंटा के जरिए रूम तक पहुंचता है जो कि गर्भवती स्त्री के गर्भ पात का कारण बनती है । वह भी अधिक मात्रा में लेने पर यह और प्रभाव दिखलाती है। यही कारण है कि चिकित्सक गर्भवती स्त्रियों को इलायची अत्यधिक रूप में ना खाने की सलाह देते हैं ।यह भी निर्भर करता है की गर्भवती स्त्री की अवस्था क्या है ।

प्रेग्नेंसी के दौरान इलायची खाने से रिएक्शन की प्रॉब्लम हो सकती हैं जैसे – सरदर्द, शरीर में खुजली आदि जिससे महिलाएं बेचैन हो जाती हैं और वह भी गर्भपात का कारण बन सकता है।

पढ़े – पुत्र प्राप्ति के लिए नारियल का बीज़ कब खाना चाहिए

इलायची से गर्भ कैसे गिराए –

कुछ घरेलू नुस्खे हैं जो कि प्राचीन मान्यता है यह सही मायने में असरदार है कि नहीं यह निर्भर करता है कि वह सेवन करने वाले पर । इलायची इसमें से एक यह माध्यम बन सकता है जो स्त्री गर्भपात कराने में इसका इस्तेमाल कर सकती है। इलायची से गर्भ कैसे गिराए इसकी विवेचना नीचे है।

एक चम्मच दालचीनी पाउडर और पांच इलायची को कूदकर एक गिलास पानी में झांक कर उबालने इसके उपरांत उसे छानकर रख लें और यह दिन में तीन बार 50ml पिए यह क्योंकि गर्भ गिराने के लिए घरेलू उपाय है इसीलिए इसका आसानी से इस्तेमाल घर में किया जा सकता है।

इलायची के बीज को पीसकर किसी डब्बे में चूर्ण बनाकर रख लें और यह मात्रा आधारित एक चम्मच चूर्ण को शहद के कुछ मात्रा में मिलाकर दिन में तीन बार ले यह बहुत ही कारगर उपाय है ब्लीडिंग होने तक यह कंटिन्यू चालू रखें ताकि गर्भपात होने की संभावना बन जाए।

पढ़े – मेथी से गर्भ कैसे गिराए । अनचाहे गर्भ गिराने के घरेलू उपाय

तुलसी व इलायची से गर्भ कैसे गिराए

घरेलू उपाय में तुलसी के पत्तों को इलायची के साथ कर पीस लें और इसे मिश्रण को रखकर रोज शहद के साथ सेवन करें जिससे नियमित रूप में लेने से गर्भपात की संभावना बन जाती है।

इसके अलावा गाजर के बीज और इलायची को पूरी रात पानी में भिगोकर छोड़ दें सुबह गाजर के बीज और इलायची के साथ इसे उबालें और पी ले यह बहुत ही कारगर उपाय है।

गर्भावस्था के दौरान गर्भवती स्त्री दिन में एक से दो बार 500 मिलीग्राम इलायची का ही सेवन कर सकती हैं इसके अलावे अधिक मात्रा में सेवन करने के पश्चात बिल्डिंग की समस्या उत्पन्न हो जाती है।

पढ़े – गर्भ ठहरने की अंग्रेजी दवा । प्रेग्नेंट होने की 7 एलोपेथी दवा

गर्भपात कब तक किया जा सकता हैं –

ध्यान रहे जो महिलाएं इन घरेलू उपचारों का इस्तेमाल करती हैं उन्हें यह ध्यान रखना होगा कि आखिर गर्भ कितने हफ्ते की ठहर चुकी हैं । 10 हफ्ते तक घरेलू उपाय कारगर हो सकती हैं । इसके अलावा अगर किसी कारण गर्भपात कराने की विवशता आ जाए तो डॉक्टर की सलाह से ही गर्भपात कराएं।

अब वह इलायची हो या फिर कोई और घरेलू नुस्खे लेकिन गर्भपात करते समय कुछ बिंदुओं को ध्यान देना बहुत ही आवश्यक है। यह वह बिंदु है जिस पर विचार करना गर्भवती स्त्रियों के लिए आवश्यक है कि वह 18 साल से कम उम्र की ना हो और 40 साल से अधिक उम्र की ना हो अगर बिना डॉक्टर के चिकित्सा अनुसार गर्भपात कराती है तो उनके लिए खतरा बन सकता है।

गर्भापात से नुकसान –

समय पर मां बनना हर स्त्री चाहती है लेकिन किसी कारण बस अगर वह गर्भपात कराती हैं तो उनके शरीर में अत्यधिक कमजोरी बन जाती है । फिर जब वह बाद में चाहती है कि वह गर्भवती बने और मां बनने की सुखद अनुभव को महसूस करें । इस परिस्थिति में वह यह अनुभव नहीं प्राप्त करने योग रहती।

भोग विलासिता के चक्कर में और मौज मस्ती के चक्कर में कुछ गर्भवती स्त्री यह चाहती हैं कि वह अभी गर्भधारण करें और गर्भवती गर्भनिरोधक गोलियों का इस्तेमाल करने लगती हैं जिसके कारण उनमें साइड इफेक्ट होने लगते हैं । इसके बाद अगर वह गर्भधारण करने की इच्छा चाहती हैं तो बहुत सारी परेशानियां उत्पन्न हो जाती हैं ।

सबसे पहले तो यह जान ले कि कुछ निश्चित अवधी होते हैं जिसमें गर्भपात किया जा सकता है अन्यथा उन्हें डॉक्टर के परामर्श लेना चाहिए । 3 महीने से ज्यादा गर्भपात कराने की चाह नुकसानदेह हो सकती हैं।

गर्भावस्था मे इलायची खाने के फायदे नुकसान –

इलायची का स्वाद और सुगंध बहुत ही आकर्षक होती है। हालांकि गर्भवती स्त्रियों के लिए यह फायदेमंद भी हैं क्योंकि इलायची खाने से उल्टी और मतली की समस्या से गर्भवती स्त्री को छुटकारा मिलता है। गर्भवती स्त्री को गर्भपात के लिए इलायची खाना कितना कारगर है  । यह शोध का विषय है। पूरी तरह घरेलू उपचार किसी भी बीमारी का सटीक उपचार नहीं हो सकता।

  • गर्भवती स्त्री को इलायची खाने के उपरांत एलर्जी की भी समस्या उत्पन्न हो जाती है । इस दौरान जीभ में सूजन हो जाता है जिसे ग्लौसाइटिस कहते हैं यानी डायरिया और दस्त की समस्या उत्पन्न हो जाती है । ऐसे में कारगर और बेहतर प्रसव करना कठिन हो जाता है । इसमें मां और बच्चे दोनों को ही खतरे रहते हैं इसलिए गर्भपात हो जाता है।
  • गर्भपात कराने के तो घरेलू उपचार बहुत हैं लेकिन इसके अलावा बाजार में बहुत सारे आयुर्वेदिक और एलोपैथिक दवाइयां भी मौजूद है जिसके माध्यम से गर्भपात कराया जा सकता है।
  • एलर्जी होने के कारण पेट में दर्द मुंह में छाले जैसी समस्या गर्भवती स्त्री को परेशान करती है जोकि इलायची के सेवन से हो सकता है।
  • ऐसी बात नहीं है कि इलायची के सेवन से गर्भवती स्त्री को परेशानी ही होती है । इलायची खाने से इंफेक्शन से गर्भवती स्त्री बच सकती हैं । उल्टी मछली की समस्या से उन्हें निजात मिल सकता है।

गर्भपात कराने से पहले घरेलू उपचार तो बहुत हैं लेकिन इसके इस्तेमाल करने से पहले बहुत सारी ऐसे पहलू हैं जिन पर ध्यान देना बहुत आवश्यक है वह सुरक्षित गर्भपात मेडिकल हेल्प से ले सकती हैं। इस दौरान उन्हें किसी तरह के नुकसान या शारीरिक उपद्रव नहीं होता। इसलिए जो गर्भपात कराने की इच्छा से महिलाएं सोच रहे हैं तो उन्हें इन बिंदुओं पर ध्यान देना बहुत जरूरी है ।। कल्पना झा ।।