Site icon Global Health Tricks

महिला बवासीर के लक्षण-Mahila bawasir ke lakshan

महिला बवासीर के लक्षण

आज कल के खराब खान पान एव जीवनशैली की बदौलत अनेको बीमारियां पनप जाती हैं । उनमे से एक बवासीर है । यह बीमारी न केवल पुरुषों मे बल्कि कभी कभी महिलाओ मे भी हो जाती हैं । इनके कुछ कारण तो एक जैसे है । मगर कुछ अलग है जैसे डिलीवरी के दौरान जब लगातार योनि से रक्त स्वाव के कारण गुदा द्वार गीला रहता हैं । जिससे मस्से की प्रॉब्लम होने का खतरा बना रहता हैं ।

बवासीर एक बहुत ही गंभीर समस्या है । इसमें व्यक्ति का उठना बैठना चलना सब मुश्किल हो जाता है । यह समस्या बहुत से लोगों को हो जाती है । बवासीर होने पर गुदा के अंदर या बाहर मस्से पैदा हो जाते हैं जो बेहद ही पीड़ा देते हैं । और इनमें खून भी आ सकता है लेकिन अगर आप सही समय पर इसको उपचार कर ले तो आप इस राहत पा सकते हैं । महिलाओं में समस्या देखी जा सकती है । इसी कारण हम आपको महिला बवासीर क्या है और महिला बवासीर के लक्षण क्या है आदि के बारे में जानकारी देंगे तो चलिए बिना किसी देरी की शुरू करते हैं।

महिला बवासीर क्या है ? 

बवासीर को पाइल्स कहकर भी लोग जानते हैं । यह बहुत ही दर्द भरी बीमारी है । इसमें महिलाओं के गुदा के अंदर या बाहर की तरफ सूजन आ जाती है इसके साथ ही अंदर और बाहर की तरफ हमें मसीह भी देखने को मिल सकते हैं।  बवासीर दोनों तरफ हो सकती है । आंतरिक और बहारिक 60% लोगों को जीवन में एक बार बवासीर का सामना करना पड़ता है।

अगर आपको बाहरी बवासीर होती है तो आप उसे देख सकते हैं लेकिन अगर आपको आंतरिक बवासीर होती है । तो आप इसे देख नहीं सकते हैं इससे खून आने की संभावना बहुत ज्यादा होती है और यह बहुत ही गंभीर समस्या मानी जाती है।

महिला बवासीर के लक्षण : 

व्यक्तियों बवासीर के लक्षण अलग-अलग होते हैं जिनमें से यहां हम आपको ज्यादा से ज्यादा लक्षण बताने की कोशिश करेंगे तो चलिए महिलाओं बवासीर के लक्षण जानना शुरू करते हैं – 

महिलाओं में बवासीर होने पर उनके गुदा क्षेत्र में खुजली होने लगती है और बहुत तेज चरण होने लगती है इसके साथ ही वह लाल भी हो जाते हैं।

आपको शौचालय जाने के बाद भी बार-बार मल त्यागने की इच्छा होती है।

जब आप सोच करने जाते हैं तब आपको जलन महसूस होती है और उसके साथ ही लाल खून भी दिखाई देता है।

गुदा के आसपास के क्षेत्र में सूजन आ जाती है और गांठे बनने लगती है।

गुदा के आसपास दर्द महसूस होता है कभी-कभी यह दर्द बहुत ही ज्यादा असहनीय हो जाता है।

आपकी गुदा क्षेत्र से घिनौना बलगम निकालने लगता है।

जब भी आप सोच करने जाते हैं आपको बहुत ही ज्यादा पीड़ा होती है।

पढ़े – होठों को गुलाबी करने के नुस्खे

बवासीर के कारण क्या है ? : 

अब हम आपको बवासीर होने के कारण बताएंगे बवासीर होने के बहुत से कारण हो सकते हैं चलिए जानते हैं –

कम फाइबर के खाने को खाना : 

हमारे खाए हुए खाने का हमारे शरीर पर प्रभाव पड़ता है । अगर हम काम फाइबर का खाना खाएंगे तो हमें बवासीर जैसी समस्या हो सकती हैं इसीलिए हमें फाइबर से युक्त भोजन ही करना चाहिए।

प्रेगनेंसी : 

जब महिलाएं प्रेग्नेंट होती हैं । उसे समय प्रोजेस्टेरोन हार्मोन बढ़ जाते हैं । इससे नसों में आराम काम हो जाता है और नसों में सूजन आने लगती है । बहुत सी महिलाओं को प्रेगनेंसी के समय कब सोने की समस्या हो जाती है।

डिलीवरी के बाद : 

जब महीना में प्रेग्नेंट होती हैं उसके साथ ही जब वह अपने बच्चों की डिलीवरी कर देती हैं । तो उसके बाद उनके गुदा किस क्षेत्र पर काफी ज्यादा दबाव पड़ता है जिससे महिलाओं को बवासीर होने का खतरा बन जाता है।

शराब और धूम्रपान : 

जब महिलाएं धूम्रपान और शराब का सेवन करती है तब उससे उनके शरीर को बेहद ही हानि पहुंचती है । इसका सेवन करने से बवासीर भी हो सकती है और यह शरीर में भिन्न-भिन्न तरह की बीमारियों को भी उत्पन्न करता है।

मोटापन : 

जब महिलाएं बहुत ही ज्यादा मोटी हो जाती हैं । तब उन्हें पाइल्स की समस्या देखने को मिल सकती है और उन्हें पास होने का खतरा भी बहुत ही ज्यादा बढ़ जाता है । मोटा पैसे महिलाओं को बवासीर होने का खतरा बढ़ जाता है इसलिए आपको रोज एक्सरसाइज करनी चाहिए।

पढ़े – फैज़ा ब्यूटी क्रीम के फायदे, नुकसान व उपयोग विधि

घंटो खड़े रहना :

बहुत सी महिलाएं किचन में काम करती हैं जिससे वह घंटे तक खड़ी रहती हैं । महिलाओं को ज्यादा देर तक खड़े नहीं रहना चाहिए काफी लंबे समय तक खड़े होने से उन्हें बवासीर की समस्या हो सकती है।

वजन उठाना : 

महिलाओं को ज्यादा भारी वजन नहीं उठाना चाहिए ज्यादा भारी वजन उठाने से महिलाओं को बवासीर की समस्या हो सकती है इसी कारण भारी वजन उठाने से बचे।

एक्सरसाइज न करना : 

बहुत सी महिलाएं घर में बैठी रहती हैं और एक्सरसाइज नहीं करती हैं । उन्हें एक्सरसाइज करने में बहुत ही आलस महसूस होता है ऐसी महिलाओं को बवासीर होने की संभावना बहुत ज्यादा होती है।

बवासीर का इलाज : 

आप बवासीर का इलाज आसानी से कर सकते हैं । एक और आप घर पर भी कर सकते हैं और डॉक्टर के ट्रीटमेंट की सहायता से भी कर सकते हैं।

फाइबर युक्त भोजन खाए –

जिन लोगों को कब्ज की समस्या हो जाती है उन्हें फाइबर युक्त भोजन करना चाहिए इससे उनका माल नरम होगा और आसानी से निकल जाएगा।

ज्यादा पानी पिए –

आपको रोजाना 10 से 12 क्लास पानी पीना चाहिए । इससे आपके शरीर में मौजूद टॉक्सिंस बाहर हो जाएंगे जिससे बीमारी कम होगी और बवासीर की समस्या में भी कमी आएगी।

योगा करे – 

अगर आप रोजाना योग और व्यायाम करते हैं । तो इससे आपका शरीर एक्टिव रहेगा जिससे आपको बवासीर की समस्या नहीं होगी और अगर आपको बवासीर की समस्या है तो उसमें भी आपको आराम मिलेगा।

घरेलू उपचार – 

आप नहाते समय रोजाना गुदा के स्थान को गर्म पानी से साफ किया करें आपको इस बात का ध्यान रखना है कि आपको इस स्थान को सिर्फ पानी से ही साफ करना है । आपके यहां साबुन का उपयोग नहीं करना है अगर आप साबुन का उपयोग करते हैं तो आपकी बवासीर की समस्या बढ़ सकती है।

आप अपने गुदे के स्थान पर सेक का उपयोग करें ऐसा करने से बवासीर से हुई सूजन कम होगी और आपको दर्द से भी मुक्ति मिलेगी।

अंतिम शब्द – आज के इस आर्टिकल में हमने आपको महिला बवासीर के लक्षण बताएं हैं इसके साथ ही हमने आपको इसके कारण और इससे मुक्ति पाने के उपाय के बारे में भी बताया है अगर आपको हमारी दी हुई जानकारी पसंद आए हो तो हमें बताएं और ऐसे ही और काम की जानकारी के लिए हमारे साथ यूं ही बने रहे और अपना एक्सपीरियंस हमारे साथ शेयर करना ना भूले।

 

Share
Exit mobile version