Site icon Global Health Tricks

ओमिक्रोम बीए 2 के लक्षण । omicron ba 2 symptoms.

Omicron ba 2 symptoms in hindi.

Omicron ba 2 symptoms in hindi. सन 2019 में चीन के वुहान शहर से निकले अब तक पूरे विश्व को चपेट मे ले लिया। विश्व में अब तक 75 लाख से अधिक लोगो को मौत चपेट में ले लिया । जब 40 करोड़ covid – 19 की चपेट में आए थे । भारत मे सबसे ज्यादा संक्रमित लोग महाराष्ट्र मे हुए । 78 लाख से ज्यादा लोग संक्रमित हुए । और 1 लाख से ज्यादा लोगों की मौत हो गई। जिसमे से सबसे कम गोवा, मणिपुर और पुडुचेरी मे हुए जो 1 लाख के लगभग लोग संक्रमित पाए गए । वही हर दिन नया रूप बदलता कोरोना वायरस अब तक 174 डॉक्टर्स एवं 116 नर्सेज को भी निगल चुका है ।

इस वायरस की चपेट से पूरे विश्व की अर्थव्यवस्था डगमगा गई । कोरोना वायरस हर बार नए वेरिएंट के साथ, नए रूप में अपना असर दिखा रहा है । अब तक कोरोना के तीन वेरियंट आए जैसे 1. कप्पा 2. डेल्टा 3. ओमीक्रोन और अब ओमिक्रोम बीए 2 । तो चलिए जानते है – | omicron ba 2 ke lakshan –

Also read

बच्चों को कोरोना से कैसे बचाए । Covid in kids 

After covid 19 liver infections. कोरोना के बाद लीवर पर दुष्प्रभाव

ओमीक्रोन BA. 2 सब वेरियंट क्या है | what is omicron ba 2.

यह कोरोना का एक नया रूप है। जो डेल्टा और ओमीक्रोन का उपवंश है। यह डेल्टा से भी तेजी से फैलता है। यह कोरोना का ही नया अवतार हैं इसलिए वैज्ञानिको ने इसे चिंता का विषय बताया है।

यह ओमिक्रोम का सब वेरिएंट है । इसे stealth Omicron भी कहा जाता है । वैज्ञानिकों के अनुसार अब तक 57 देशो में पाया गया है । यह ओमिक्रोम से ज्यादा संक्रमणित करने की क्षमता रखता है ।

ओमिक्रोम बीए 2 के लक्षण । omicron ba 2 symptoms in hindi.

ओमिक्रोम बीए 2 के लक्षण कोरोना के सामान्य लक्षण से ज्यादा अलग नहीं है लेकिन डेल्टा वेरियंट के बाद अब ओमिक्रोम BA2 के लक्षण भी एक जैसे ही है । वैज्ञानिकों के मुताबिक कुछ नए लक्षण जरूर देखने को मिले । तो चलिए जानते है Omicron ba 2 symptoms in hindi.

● खासी व जुकाम,
● बुखार,
● मांशपेशियों दर्द,
● नाक बहना व बंद नाक,
● सांस लेने में कठिनाई या तकलीफ,
● दस्त, उल्टी या मितली होना,
● स्वाद का अनुभव न होना,
● गले में खराश आदि ।

ओमीक्रोन BA.2 मे दो नए लक्षण और पाए गए जैसे थकान महसुस होना और चक्कर आना आदि। हैं। पहले से पीड़ित रोगी जैसे मधुमेह, कैंसर या कोई अन्य गंभीर बीमारियाँ होती हैं उन लोगों में कुछ इस प्रकार के लक्षण पाए जाते हैं जैसे कि साँस लेने में तकलीफ, ऑक्सीजन की कमी, बोलने की शक्ति क्षीण होना या छाती में तीव्र दर्द होना आदि लक्षण हो सकते है ।

ओमिक्रोन से कितना प्रभावशाली | ba.2 variant is dangerous.

यह वायरस ओमीक्रोन के मुकाबले बहुत ज्यादा प्रभावशाली हो सकता है। वैज्ञानिको का मानना है कि ओमीक्रोन BA. 2 से संक्रमित होने पर वेक्सीन और बुस्टर डोज से ओमीक्रोन BA. 2 पर कोई असर नहीं पड़ेगा। क्योकि ओमीक्रोन वेक्सीन को भी चकमा दे सकता है। इसके प्रभाव मे आने पर व्यक्ति बच नही सकता। इसलिए इस वेरियंट से सावधान रहना चाहिए।

WHO के अनुसार यह सब वेरियंट Omicron BA2 अपने मूल वेरियंट की तुलना में अधिक फैल सकता है । अब तक शोध में यह तथ्य भी सामने आया है BA 1 के मुकाबले BA 2 सब वैरियंट 30℅ अधिक फैलने की क्षमता रखता है ।

ओमिक्रोम बीए से बचाव | omicron ba 2 prevention in hindi.

1. सबसे पहले स्वयं सुरक्षित तो परिवार सुरक्षित, परिवार सुरक्षित तो देश सुरक्षित।
2. देश – विदेश की यात्रा बंद कर देनी चाहिए जिससे देश में इस वायरस को रोका जा सके।
3. विदेश से आ रहे भारतीय नागरिको की जाँच करनी चाहिए। जिससे इस वायरस को देश में रोका जा सके।

4. बार – बार हाथ सेनेटाइजर से धोना चाहिए।
5. मुंह पर मास्क लगाना चाहिए।
6. दो गज की दूरी रखनी चाहिए।
7. दो से ज्यादा एकत्रित नही होना चाहिए।
8. आवश्यक काम होने पर ही बाहर निकलना चाहिए।
9. साफ – सफाई का ध्यान रखना चाहिए।
10 . संक्रमित होने पर तत्काल चिकित्सालय जाना चाहिए।
11. समय समय वैक्सीन लगाना चाहिए ।

ओमिक्रोम बीए 2 का इलाज । omicron ba 2 symptoms and treatment in hindi.

सामान्यतः आम लोग जो इस संक्रमण की चपेट में आ जाएँ किंतु किसी गंभीर से पीड़ित नहीं हैं, उन्हें घर में ही निरीक्षण अंतर्गत (होम-आइसोलेशन) में रखा जाता है। बुखार और सर्दी होने की स्थिति में आवश्यकतानुसार दवा दी जाती है। आइसोलेशन की अवधि चार दिनों से एक सप्ताह की होती है। रोगी के लक्षणों के आधार पर दवा की निरंतरता या उसमें बदलाव किए जाते हैं।

एलोपैथिक – इस वायरस से संक्रमित होने पर तत्काल चिकित्सालय चले जाना चाहिए। जिससे चिकित्सक से जाँच करा के चिकित्सक की सलाह पर दवाई समय पर ले लेनी है।

होमियोपेथिक – जब भी आयुर्वेदिक चिकित्सक द्वारा गाडा पिलाया जाए। तो हमे कभी नहीं चुकना चाहिए। क्योकि इसमे नेच्युरल पॉवर होता है।

ओमिक्रोम बीए 2 के घरेलू उपाय । omicron ba 2 home remedies in hindi.

जैसा कि हम सभी जानते हैं कि कोरोना का अभी तक कोई इलाज नहीं आया है । हालांकि वैक्सीन प्रभावशाली है । लेकिन मेडिसिन के तौर पर केवल दर्दनाशक टैबलेट ही है । ऐसे में घरेलू उपाय आपको कुछ हद तक बचा जा सकता है लेकिन इस बात का ध्यान रखें कि बचाव ही उपाय है ।

1. गोमूत्र – गोमूत्र सैकड़ों बीमारियो का निवारक है। इसलिए गोमूत्र उपयोग मे लेना चाहिए।
2. गोभस्मी – गाय का गोबर को जलाकर फिर एक सफेद कपडा मे बांध दे। फिर सुबह – सुबह एक चुटकी भर पानी के साथ मे ले । क्योकि इस गोभस्मी मे ऑक्सीजन की मात्रा भरपुर होती है। और सफेद कपड़ा हानिकारक कीटाणु को प्रवेश नही होने देते हैं।

3. घी का दीपक जलाए – गाय के घी दीपक मे डालकर अपने घर पर जलाए। जिससे वातावरण में ऑक्सीजन की मात्रा कम ना हो।

4. विटामिन C का उपयोग करे – विटामिन C खटी चीजो मे ज्यादा पाई जाती है । जैसे – दही, छाछ, अमरुद, संतरा, आवला, बेर आदि का उपयोग करे। क्योकि यह सफेद रक्त कोशिकाओ को बनाने में सहायक होता है।

5. पालक – पालक विटामिन C के साथ – साथ एंटी ऑक्सीडेट और कैरोटिन भरपुर मात्रा में होता है। जो संक्रमण से लड़ने की ताकत रखता है।
6. सब्जी – कोई भी सब्जी को पूरी तरह से नही पकाए। क्योकि सब्जी को पूरी तरह से पकाने से पोषक तत्व नष्ट हो जाते हैं।

7. पाउडर – सफेद मुसली, सतावरी, अश्वगंधा और शिलाजीत इनको पीसकर पाउडर बनाकर रोज सुबह 1- 2 चम्मच दुघ या पानी मे मिलाकर ले। जिससे इम्युनिटी पॉवर बढ़ सके।
8. गिलोय – गिलोय को पानी में उबालकर उसका पानी पीए।
9. हल्दी और दुध – हल्दी और दुध को मिलाकर पीए । जिससे शक्ति मिलती है।

10. इम्यूनिटी सिस्टम – आपका शरीर को इम्यूनिटी पॉवर अपनी खानपान पर रहता है। इस वेरियंट से संक्रमित नही होना है। तो पोषक तत्वों का उपयोग करे।
परहेज – बीड़ी, सिगरेट, तम्बाकू, गुटखा, शराब आदि नशीली पदार्थों का सेवन नही करे।

क्या बूस्टर डॉज लेनी चाहिए | Booster doge and omicron ba 2 symptoms.

हाँ बूस्टर डॉज लेनी चाहिए। क्योकि वेक्सीन की दोनों डॉज मे इम्यूनिटी पॉवर कम है। और बूस्टर डॉज मे ज्यादा है। तो यह डॉज इस वेरियंट से लड़ सकता है।
कैलिफोर्निया यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिकों के अनुसार ओमिक्रॉन से किसी भी व्यक्ति के शरीर में एंटीबॉडी का निर्माण होना इस बात पर निर्भर करता है कि वह कितना बीमार हुआ है । वैक्सीन लगा चुके ज्यादातर लोगो को यह वायरस गम्भीर रूप से चपेट में नहीं ले सकता । शोधकर्ताओं के अनुसार ओमिक्रोम से विकसित हुई एंटीबाडी भविष्य में अन्य संक्रमणों से नहीं बचा सकती है ।

वैज्ञानिकों के अनुसार कोरोना और उसके वैरिएंट सर्दी खांसी की तरह होंगे। हमें इसके साथ जीना सीखना होगा। मास्क लगाना, बार-बार हाथ धोना इत्यादि एहतियात बरतने होंगे। माना कि विश्व में चीन तथा इजराइल में चौथी लहर दस्तक दे रही है किंतु हम यदि संयम, सावधानी और सतर्कता बरतेंगे तो निसंदेह इस चौथी लहर से अपने देश को और अपने देशवासियों को सुरक्षित रख सकते हैं।

क्या कोरोना की चौथी लहर आ सकती है ? Covid 4th wave in hindi.

कोरोना के वेरिएंट ओमिक्रोम के पीक पर जाने के बाद राहत की सांस ली । एक बार के लिए तो ऐसा लगा कि कोरोना अब चला गया । मगर Omicron BA 2 की पुष्टि के बाद बार पुनः पूरी दुनिया सकते में आ गई है । ऐसे में एक सवाल सबसे अहम है कि क्या कोरोना की चौथी लहर आएगी ? भारत समेत दुनिया भर के 40 देशो में ओमिक्रोम के नए सब वेरियंट की पुष्टि के कारण शायद जबाब हा में हो सकता है ।

वैज्ञानिक शोध के अनुसार कोरोना का नया अवतार BA 2 काफी खतरनाक साबित हो सकता है । शोध के अनुसार टीके में पाई जाने वाली एंटीबाडी BA 2 के लिए प्रतिकूल है । शोध के अनुसार यह वायरस फेफड़ों पर तेजी से प्रभावित करेगी । पूर्व के संक्रमणितो के लिए भी BA 2 की इम्युनिटी विकसित होने की सम्भावना कम है । ऐसे में यही कहा जा सकता है कोरोना अभी भी गया नहीं है चौथी लहर की सम्भावना बन सकती है ।। राम सिंह राजसमन्द, राजस्थान ।।

Share
Exit mobile version