शुक्राणु बढ़ाने की दवा बैद्यनाथ, हिमालय, पतंजलि व आयुर्वेदिक

Shukranu badhane ki dawa Baidyanath.

शुक्राणु बढ़ाने की दवा बैद्यनाथ । Shukranu badhane ki dawa Baidyanath. संतान की उत्पत्ति एवं पुरुष प्रजजन क्षमता की सक्षमता केवल शुक्राणुओं पर निर्भर करती हैं । Shukranu जो पुरूष के वीर्य के रूप में उपस्थित होते है । इनकी सख्या कम या अधिक होना प्रजजन क्षमता को दर्शाते हैं ।

विश्व स्वास्थ्य संगठन ( WHO ) के मुताबिक 15 मिलियन प्रति मिलीलीटर से कम शुक्राणु होने पर ओलिगोस्पर्मिया की प्रॉब्लम होती है । यानी शुक्राणुओं की संख्या 15 मिलियन से अधिक होने पर पुरूष की प्रजजन क्षमता बेहतर होती है ।

ओलिगोस्पर्मिया एक ऐसी प्रॉब्लम हैं जो पुरूष के शुक्राणुओं की संख्या कम होने पर होती हैं । जिसे साधारण शब्दों में बांझपन से जोड़कर देख सकते हैं । इस स्थिति में स्खलन तो होता है लेकिन संतान उत्पत्ति के लिए उपयुक्त नहीं होता है ।

पुरुष का वीर्य गाढा, देसी घी के जैसा चिपचिपा सा सफेद पदार्थ होता है । यह शरीर के 7 रत्नों में से एक है । इसमें असंख्य शुक्राणु गतिशील रहते हैं । वीर्य जितना पुष्ट यानी शुक्राणुओं से भरपूर होगा उतनी ही जल्दी प्रेग्नेंट होने के चांस होते है । इसी प्रकार शुक्राणु की कमी होने पर नामर्दी या नपुंसकता के शिकार हो सकते है । तो चलिए जानते – शुक्राणु बढ़ाने की दवा बैद्यनाथ – Shukranu badhane ki dawa Baidyanath.

पढें – अश्वशक्ति पाउडर के फायदे नुकसान । Ashwashakti powder ke fayde.

शुक्राणुओं की कमी के लक्षण

शुक्राणु या शुक्र क्षय की कमी या शुक्राणु सख्या के बारे में पता करने के लिए आप डॉक्टर से सम्पर्क करके पुरुष की जांच करवा सकते है । इनके कुछ लक्षण इस प्रकार है –

उपरोक्त लक्षण शुक्र क्षय की पहचान करते हैं जो किसी तरह की चोट, नसबंदी, नशीले पदार्थों का अत्यधिक सेवन या यौन रोग के कारण उत्पन्न होते हैं । अधिक जानकारी के लिए चिकित्सा परामर्श आवश्यक समझे ।

पढ़े – जिसका खड़ा नहीं होता उसकी दवा ।

शुक्राणु बढ़ाने की दवा बैद्यनाथ

आयुर्वेद के अनुसार शुक्र क्षय की समस्या दूर करने के लिए जड़ी बूटियों का सेवन करना लाभकारी है । इन प्राकृतिक जड़ी बूटियों के समिश्रण से अनेक प्रकार की दवाओं का निर्माण किया जाता है । जिसमें से बैधनाथ सबसे उत्तम दवा है । इसी प्रकार हिमालय व पतंजलि नामक ब्रांड भी श्रेष्ठ है ।

चूँकि बैधनाथ ब्रांड सबसे पुराना एवं बेहतर परिणाम देने में सहायक है । इन दवाओं की सबसे अहम बात यह है कि इन दवाओं का साइड इफेक्ट्स न के बराबर होता है । बशर्ते आप अनुशासित खुराक सेवन करते हैं । आज की इस कड़ी में बैधनाथ की उन दवाओं के बारे में बता रहे हैं जो विशेष रूप से शुक्राणु वर्धक हैं तो चलिए जानते है –

पढ़े – बैधनाथ कंपनी की दवा shighrapatan.

बैद्यनाथ वीर्य शोधन वटी । Baidyanath Virya Shodhan vati.

बैधनाथ कंरपनी द्वारा निर्मित वीर्य का शोधन करने एवं शुक्राणु बढ़ाने वाली Baidyanath Virya Shodhan vati उत्तम आयुर्वेदिक दवा है । इसमें उपस्थित विभिन्न के तत्व जैसे शुद्ध शिलाजीत, प्रवाल भस्म, वंग भस्म, रजत भस्म, गिलोय सत्व व कपूर के समिश्रण से तैयार किया जाता है।

इस दवा का नियमित रूप से सेवन करने पर शीघ्रपतन, धातु रोग, नपुंसकता, स्वप्नदोष एवं शारीरिक कमजोरी दूर होती हैं । यह अशुद्ध वीर्य को शुद्ध करके उसे गाढा व शुक्राणु वर्धक बनाने का कार्य करती हैं ।

इनका सेवन मिश्री युक्त ठंडे दूध के साथ एक – एक टैबलेट सुबह शाम ली जा सकती हैं । इस बात का ध्यान रखें कि योग्य वैध के परामर्श के उपरांत सेवन करें । इनका साइड इफेक्ट्स नहीं है फिर भी अनुशासित खुराक सेवन करने की सलाह दी जाती हैं ।

शुक्राणु बढ़ाने की दवा बैद्यनाथ  । Sperm count badhane ki dawa Baidyanath.

बैधनाथ कंपनी की कुछ अन्य दवाएं उपलब्ध हैं जिनका उपयोग वैध की सलाह के अनुसार कर सकते हैं । इन दवा का नियमित रूप से सेवन करने पर स्पर्म काउंट की प्रॉब्लम खत्म होती हैं । वही वीर्य भी शुद्ध एवं पुष्ट होता है । ये दवाएं इस प्रकार है –

  • बैधनाथ कोंच पाक फोर्ट । Baidyanath Koch paak fort.
  • बैधनाथ सफ़ेद मूसली पाक । Baidyanath safed musalim paak.
  • बैधनाथ धातु पोष्टिक चूर्ण । Baidyanath Dhatu poshtik churan.

शुक्राणु बढ़ाने की दवा Himalaya.

हिमालय एक बेहतरीन ब्रांड हैं जो विभिन्न रोगों के इलाज के लिए अनेको दवाओं का निर्माण कर रहा है । इन दवाओं में Himalaya Speman Tablet भी एक हैं । यह टेबलेट सेक्सवर्धक गोली हैं । इनका उपयोग शुक्राणुओं की कमी, नपुंसकता, बाँझपन एवं कामेच्छा बढ़ाने के लिए किया जाता हैं ।

यह टेबलेट आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों जैसे कौच के बीज, कोकिलाक्षा एवं गोखरू के मिश्रण से तैयार की जाती है । इनका नियमित रूप से सेवन करने पर निल शुक्राणु बढ़ाने में भी कारगर है । इनके अलावा शीघ्रपतन एवं नामर्दी के लिए भी एक अच्छी दवा है । इनका सेवन सुबह शाम एक एक टेबलेट गुनगुने पानी के साथ किया जा सकता है ।

इसके अलावा हिमालय कॉफिडो टेबलेट भी अच्छी टेबलेट हैं । इनका उपयोग करने से पहले एक बार डॉक्टर से सलाह लेना आवश्यक समझे ।

पढ़े – धातु रोग की दवा पतंजलि । Purush dhatu rog ki dawa patanjali.

शुक्राणु बढ़ाने की दवा Patanjali.

पतंजलि भारत का एक ऐसा आयुर्वेदिक ब्रांड हैं जो सबसे किफायती एवं असरदार दवाओं का निर्माण करता है । यह अनेको रोगों के रोकथाम के साथ साथ सेक्सुअल प्रॉब्लम के लिए दवाओं का निर्माण करता है । पतंजलि की शुक्राणु वर्धक दवाएं इस प्रकार है –

  • पतंजलि यौवनवटी ( Patanjali Yauwan vati. )
  • पतंजलि गोखरू चूर्ण ( Patanjali Gokharu Churna. )
  • पतंजलि शुद्ध शिलाजीत चूर्ण ( Patanjali shilajit churna. )
  • पतंजलि दिव्य चंद्रप्रभावटी ( patanjali Divya chandraprbha vati. )

इनका पतंजलि की दवाओं का उपयोग योग्य वैध के मार्गदर्शन के अनुसार सेवन करें । यह दवा वीर्य को गाढा करने के साथ साथ स्पर्म काउंट बढ़ाने में कारगर है । यह दवा नपुंसकता, शीघ्रस्खलन, कामेच्छा की कमी एवं अन्य सेक्सुअल प्रॉब्लम के लिए भी लाभकारी है ।

पढ़े – पतंजलि पेनिस तेल । Patanjali ling vardhak oil.

शुक्राणु बढ़ाने की दवा बैद्यनाथ आयुर्वेदिक ।

सेक्सुअल प्रॉब्लम हो या अन्य कोई फिज़िकल प्रॉब्लम आयुर्वेदिक जड़ी बूटी रामबाण औषधि के रूप में कार्य करती हैं । यह दवाए किफायती एवं असरकारक होती हैं । यह बात अलग है कि इनका प्रभाव धीरे धीरे मगर स्थायी होता है । इनका साइड इफेक्ट्स न के बराबर होता हैं । इन शुक्राणु वर्धक आयुर्वेदिक दवाओं में कुछ मुख्य दवा इस प्रकार है –

  • च्वनप्राश,
  • मुसली पाक,
  • वंग भस्म,
  • त्रिवंग भस्म,
  • स्वर्ण भस्म,
  • अश्वगंधादि चूर्ण,
  • स्वर्णमालिनीबसंत रस,
  • मन्मथ रस,
  • अश्वगंधा चूर्ण आदि ।

यह दवा स्पर्म काउंट बढ़ाने के साथ साथ शीघ्रपतन, नपुंसकता के लिए उपयोगी हैं । इस बात का ध्यान रखें कि इनका उपयोग योग्य वैध के मार्गदर्शन के उपरांत करें ।

पढ़े – डाबर शिलाजीत गोल्ड कैप्सूल के फायदे । Dabur shilajit gold capsule.

शुक्राणु बढ़ाने के लिए क्या खाएं ?

आपका खानपान आपके स्वास्थ्य की स्थिति बया करता है । इसी प्रकार प्रजजन क्षमता भी खानपान एवं रहन सहन पर निर्भर करती है । नियमित रूप से संतुलित आहार आपकी शारिरिक दुर्बलता दूर करने के साथ साथ सेक्सुअल लाइफ को भी बेहतर बनाता है । स्पर्म काउंट बढ़ाने के लिए उचित खानपान आवश्यक है तो चलिए जानते है – shukranu badahne ke liye kya khaye.

  • प्रोटीन युक्त आहार जैसे दालें एवं फल आदि ।
  • कार्बोहाइड्रेट युक्त खाद्य पदार्थ जैसे ग्लूकोज, गाय का घी आदि ।
  • हरी सब्जियां जैसे बथुआ,
  • उड़द की दाल का सेवन करें ।
  • साबुत अनाज जैसे काले चने आदि ।

इसी प्रकार केला, खजूर, अनार, टमाटर, अरंडी का पत्ता स्पर्म काउंट को बढ़ाने में कारगर है । इनका उपयोग नियमित रूप से अपनी डाइट में करें ।

पढ़े – शीघ्रपतन रोकने के उपाय । Shighrapatan rokane ke upay.

स्पर्म काउंट के लिए क्या नहीं करें ।

स्पर्म काउंट की समस्या से जूझ रहे लोगों को खानपान के अलावा जीवनशैली में कुछ बदलाव करके सावधानियां बरतने की आवश्यकता होती है । यह सावधानी हम सभी को रखनी चाहिए ताकि इनकी समस्या कभी न हो । यह सावधानी / परहेज इस प्रकार है –

  • अपनी डाइट में खट्टे, कड़वे, कसैले एवं मसालेदार भोजन सेवन करने से परहेज करें।
  • ज्यादा मीठी एवं खट्टी खाद्य सामग्री का सेवन न करे ।
  • कैफीन का अधिक सेवन न करें ।
  • नशीले पदार्थ जैसे शराब, तम्बाकू, गुटका आदि का सेवन न करें ।
  • मानसिक रूप से अश्लील विचारों से दूर रहे ।
  • तनाव से दूर रहे ।

पढ़े – जंक फूड खाने से क्या होता है । junk food side effects in hindi.

निष्कर्ष – आज के लेख में शुक्राणु बढ़ाने की दवा बैद्यनाथ, हिमालय, पतंजलि, आयुर्वेदिक में हमने विभिन्न दवाओं के बारे में बताने का प्रयास किया । चूंकि इस सम्बंध में एक बात उचित है कि इन समस्याओं का मुख्य कारण गंदे विचार एवं खानपान हैं । अपनी व्यस्तम जीवन को गतिशील बनाये रखने के लिए नियमित रूप से योग अवश्य करें । रोग आपके पास नहीं भटकेगा ।