शीघ्र स्खलन का रामबाण इलाज पतंजलि

Shighra Skhalan ka ramban ilaaj patnjali. Jaldi Jharane ka ilaaj

शीघ्र स्खलन का रामबाण इलाज पतंजलि । दवा का नाम | वैवाहिक जीवन में रिश्तों में आपसी मधुरता बनाये रखने के काफी मशक्कत करनी होती है । बहुत सारी बातों का ध्यान रखना पड़ता है । पति पत्नि के रिश्तों में शारिरिक संबंध सबसे महत्वपूर्ण कड़ी है । यदि पुरूष शीघ्र स्खलन या शीघ्रपतन से पीड़ित हो जाए तो कई परेशानियों को न्यौता मिल सकता है ।

हालांकि शीघ्र स्खलन कोई बड़ी बीमारी नहीं है । शीघ्र स्खलन होने पर संभोग क्रिया के दौरान वीर्य जल्दी स्खलित हो जाता है । या यूं कहें कि पुरूष जल्दी डिस्चार्ज हो जाता है । जिससे आपके पार्टनर को ऑर्गेज्म तक नहीं पहुंच पाता है । Shighra skhalan का मुख्य कारण तनाव एवं खानपान हैं । मधुमेह रोगियों में शीघ्रपतन की प्रॉब्लम आम है । वैसे आपको बता दें कि 35 के बाद यह प्रॉब्लम अधिक पाई जाती है । इस प्रॉब्लम से बचने के लिए आयुर्वेद एवं पंतजलि ने कुछ ऐसी दवाएं बनाई जो आपके लिए उपयोगी हो सकती हैं तो चलिए जानते है – Capsule shighra skhalan ki patnjali dawa ka nam.

पढ़े – ईडी बूस्टर कैप्सूल । ED Booster capsule uses in hindi.

शीघ्र स्खलन का रामबाण इलाज पतंजलि ।

शीघ्रपतन या शीघ्र स्खलन के लिए कई प्रकार की दवाओं एवं औषधियों को बनाया जिनका उपयोग करके इस प्रॉब्लम से निजात पाई जा सकती हैं । पंतजलि Baba Ramdev द्वारा निर्मित एक ब्रांड हैं जो आयुर्वेदिक औषधियों के मिश्रण करके विभिन्न प्रकार के उत्पाद बनाते हैं । ये दवाएं आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों द्वारा बनाई जाती हैं इसलिए इनके परिणाम स्थाई होते हैं तो चलिए जानते है – Shighra Skhalan ka ramban ilaaj patnjali.

शीघ्र स्खलन का रामबाण इलाज पतंजलि ।दिव्य मूसली पाक । Divya musli pak in hindi.

पंतजलि द्वारा Divya Musali Pak का निर्माण विभिन्न प्रकार की आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों द्वारा किया जाता हैं । जो शरीर को एनर्जी एवं ताकत प्रदान करते हैं । यह शरीर को पोषण देने वाले टॉनिक की तरह कार्य करता है । यह शारीरिक दुर्बलता दूर करने के साथ साथ सेक्स प्रॉब्लम जैसे शीघ्रपतन ( शीघ्र स्खलन ), नपुंसकता को दूर करने के रामबाण औषधि के रूप में कार्य करता है । इसे वीर्यवर्धक औषधि भी कहा जाता है ।

सेवन करने की विधि – शारिरिक दुर्बलता दूर करने के दिव्य मूसली पाक को नियमित रूप से सेवन करना आवश्यक है । इनके लिए दिनभर की खुराक 2 चम्मच होती है । जिसे एक चम्मच सुबह एवं उतनी ही खुराक शाम को गर्म दूध के साथ लेनी चाहिए ।

सेवन करने की अवधि – इस औषधि का प्रयोग एक से डेढ़ महीने तक करना है । लेकिन इसे बीमारी ठीक होने तक सेवन किया जा सकता है ।

दिव्य अश्वगंधा चूर्ण से शीघ्र स्खलन का रामबाण इलाज पतंजलि । Divya ashwagandha churna in hindi.

पंतजलि ( Baba Ramdev ) द्वारा निर्मित Divya Ashwagandha churn अश्वगंधा नामक आयुर्वेदिक औषधि से तैयार किया जाता है । अश्वगंधा एक पौधा है जिनकी जड़ो में अश्व ( Horse ) सी सुगंध आती है । यह औषधीय पौधा महिलाओं एवं पुरुषों के लिए रामबाण औषधि है ।

इनका उपयोग सेक्स प्रॉब्लम जैसे शीघ्र स्खलन, यौन दुर्बलता को दूर करने में किया जाता है । वही शारीरिक कमजोरी को दूर करने एवं टेस्टोस्टेरोन हॉर्मोन के लिए लाभकारी होता है । दिव्य अश्वगंधा चूर्ण को नियमित रूप से सेवन करने से चमत्कारिक परिणाम मिलते हैं ।

अश्वगंधा चूर्ण सेवन करने की विधि – इनका उपयोग सुबह शाम नियमित रूप से चूर्ण या टेबलेट के रूप में किया जा सकता है ।

सेवन करने की अवधि – दिव्य अश्वगंधा चूर्ण का उपयोग कम से कम एक महीना या समस्या ठीक होने तक किया जा सकता है ।

शीघ्र स्खलन का रामबाण इलाज पतंजलि । दिव्य त्रिफला चूर्ण । Divya Triphala churna in hindi.

त्रिफला को आयुर्वेद ने रामबाण औषधि माना है इनका उपयोग कई प्रकार की बीमारियों में किया जाता हैं । इनका चूर्ण हरण बहेड़ा एवं आँवला जैसे जड़ी बूटियों से तैयार किया जाता है । जो शारिरिक कमजोरी को दूर करने के साथ साथ पेट को साफ रखने का कार्य करता है । इनका सेवन करने से बॉडी में नई ऊर्जा का संचार होता है । इसे सेक्सवर्धक औषधि भी कहा जाता है ।

Divya Triphala churna सेवन करने की विधि – इस चूर्ण का उपयोग सुबह शाम भोजन करने से पहले करना चाहिए । इस चूर्ण की दिनभर की खुराक 2 चम्मच से अधिक नहीं होनी चाहिए । एक – एक चम्मच सुबह शाम गर्म पानी के साथ सेवन किया जाता हैं ।

दिव्य त्रिफला चूर्ण की सेवन करने की अवधि – इनका सेवन 45 दिन तक या रोग ठीक होने तक नियमित रूप से सेवन किया जा सकता है ।

पढ़े – अश्वशक्ति पाउडर के फायदे नुकसान । Ashwashakti powder ke fayde.

शीघ्र स्खलन का रामबाण इलाज पतंजलि । यौनअमृत वटी । Patnjali yaunamrit vati in hindi.

Patnjali Yaun Amrit vati. एक आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों द्वारा निर्मित यौनशक्ति वर्धक औषधि है । यह जल्दी झड़ने की प्रॉब्लम के लिए उपयोगी हैं । यह सेक्स प्रॉब्लम जैसे शीघ्र स्खलन, नपुंसकता एवं मर्दाना कमजोरी को दूर करने में उपयोगी हैं । यह शरीर को निरोगी बनाये रखने में सहायक है ।

यौन अमृत वटी का नियमित रूप से इस्तेमाल करने से यौन दुर्बलता दूर होती है । साथ ही साथ शरीर में हार्मोन को संतुलित करता है । इनका उपयोग शीघ्र स्खलन की टेबलेट के रूप में किया जाता है ।

पंतजलि यौन वटी सेवन करने की विधि – बेहतर परिणाम के लिए 1 – 1 गोली सुबह शाम दूध के साथ भोजन करने के उपरांत करना चाहिए ।

यौन वटी को सेवन करने की अवधि – इस वटी का सेवन प्रॉब्लम ठीक होने तक सेवन करना फायदेमंद होता है ।

पढ़े – सिल्डेनाफिल टेबलेट के फायदे । Sildenafil uses in hindi.

कैप्सूल शीघ्र स्खलन की पतंजलि दवा का नाम । दिव्य चन्द्रप्रभा वटी । Divya chndraprbha in hindi.

Chandraprbha vati नामक आयुर्वेद की सबसे अच्छी दवाओं में से एक है । इसे विभिन्न प्रकार की जड़ी बूटियों के समिश्रण बनाया गया है । यह शारिरिक दोष जैसे शीघ्र स्खलन, यौन क्षमता की कमी, मूत्र विकार एवं पाचन क्रिया को दुरुस्त करने में कारगर औषधि है ।
यह शीघ्रपतन के लिए रामबाण औषधि है । इसके अलावा उत्तेजना की कमी, शारीरिक कमजोरी, जल्दी झड़ना, खड़ा न होना जैसे समस्या के लिए लाभदायक दवा है । इतना ही नहीं यह मधुमेह रोगियों के लिए भी बहुत उपयोगी औषधि है ।

चन्द्रप्रभा वटी का सेवन करने की विधि – इनकी एक – एक टेबलेट सुबह शाम खाना खाने से पहले गुनगुने दूध के साथ नियमित रूप से सेवन कर सकते है । दूध उपलब्ध न होने पर पानी के साथ ले सकते है ।

चन्द्रप्रभा वटी की गोली को सेवन करने की अवधि – इस टेबलेट को 45 दिन तक नियमित रूप से कर सकते है । या अधिकतम बीमारी ठीक होने तक करें ।

शीघ्र स्खलन का रामबाण इलाज पतंजलि। गोखरू चूर्ण । Gokhru churna in hindi.

Gokharu एक औषधीय पौधा हैं जो मैदानी इलाकों में पाया जाता है । इनका चूर्ण फल को काटकर बनाया जाता है । आयुर्वेद के अनुसार पुरुषों के लिए यह रामबाण औषधि है । यह वीर्यवर्धक होने के साथ साथ बलवर्धक औषधि है । यह वीर्य को गाढ़ा बनाने के लिए बहुत उपयोगी हैं । शीघ्रपतन, शीघ्र स्खलन एवं जल्दी झड़ने जैसे यौन विकारो के लिए बहुत ही उपयोगी औषधि है ।

गोखरू चूर्ण को सेवन करने की विधि – इस चूर्ण को एक एक चम्मच सुबह शाम गुनगुने दूध के साथ नियमित रूप से सेवन करें । दूध उपलब्ध न होने पर पानी के साथ सेवन कर सकते है ।

पंतजलि गोखरू चूर्ण सेवन करने की अवधि – इस चूर्ण का सेवन बीमारी ठीक होने तक कर सकते है ।

कैप्सूल शीघ्र स्खलन की पतंजलि दवा का नाम । दिव्य शिलाजीत कैप्सूल | Divya shilajit capsule in hindi.

प्रकृति की गोद में पाए जाने वाली shilajit को आयुर्वेद ने रामबाण औषधि कहा है । यह न केवल सेक्सवर्धक हैं बल्कि पाचन शक्ति, तनाव दूर करने में भी लाभकारी है । यह शारिरिक दुर्बलता को दूर करने में बहुत ही उपयोगी दवा है । इनका सेवन करने से बॉडी में ब्लड सर्कुलेशन सही होता है । इससे पेट की प्रॉब्लम से निजात मिलती है । देर से स्खलित होने की सबसे अच्छी दवा है ।

दिव्य शिलाजीत कैप्सूल सेवन करने की विधि – इस कैप्सूल का सेवन सुबह शाम दूध के साथ करें । ध्यान रखें कि दिनभर में केवल 2 कैप्सूल ही ले ।

शिलाजीत कैप्सूल सेवन करने की अवधि – इस कैप्सूल का सेवन बीमारी ठीक होने तक या डॉक्टर की सलाह से करें ।

शीघ्र स्खलन का रामबाण इलाज Himalya Confido.

जल्दी स्खलित हो जाने से कई परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है विशेष रूप से पति पत्नि के मामलों में । जल्दी झड़ने की मुक्ति के लिए हिमालय की सबसे अच्छी दवाई हैं । जिसे हिमालय कोंफिड़ो ( Himalaya Confido ) कहा जाता है । यह Himalaya ki Dawa यौन विकार जैसे शीघ्र स्खलन, शीघ्रपतन, वीर्यपात, जल्दी पानी निकलने, स्वप्नदोष एवं नपुंसकता जैसे रोगों के लिए रामबाण औषधि है ।

Himalay ki dawa एक प्रकार की आयुर्वेदिक एवं हर्बल मेडिसिन है । हालांकि इनके कोई साइड इफेक्ट्स नहीं है । लेकिन सेवन करते समय डोज़ का अवश्य ध्यान दे अन्यथा कुछ नुकसान हो सकते है ।

हिमालय कॉफिडो दवा सेवन करने की विधि – इनकी डोज़ अधिकतम 2 टेबलेट हैं । जिससे एक एक सुबह शाम पानी के साथ सेवन करना होता है ।

हिमालय कॉफिडो टेबलेट सेवन करने की अवधि – इस टेबलेट को सेवन करने की अवधि अधिकतम 3 माह होती है । पर पहली बार में 4 सप्ताह तक सेवन करें ।

शिघ्रपतन का उपचार आयुर्वेदिक । jaldi jharane ka ilaaj.

आयुर्वेद में शीघ्रपतन या शीघ्र स्खलन के लिए कई प्रकार से उपचार किया जाता है । उनमें से कुछ उपचार थोड़े मुश्किल होते हैं पर कुछ सरल होते है । Shighra skhlan ka ramban ayurvedic upchar के रूप में Panchkarma Paddhati से इलाज किया जाता है । इसमें विरेचन पद्धति का उपयोग किया जाता है । जिसमें कुछ जड़ी बूटियों का सेवन करवाया जाता है । यह पद्धति काफी कारगर साबित होती है ।

कुछ ऐसी आयुर्वेदिक जड़ी बूटियां हैं जिनका सेवन आप अपने घर पर रहकर आयुर्वेद चिकित्सा की सलाह से कर सकते हैं । जिनका जिक्र हम अपने पिछले लेख ( डालते ही गिर जाता है घरेलू उपाय । 2 घण्टे पानी नहीं निकलेगा ) में कर चुके हैं जिनका संक्षिप्त विवरण इस प्रकार है –
● अश्वगंधा
● शिलाजीत
● खजूर
● शतावरी
● कौच के बीज
● मकरध्वज
● मुलेठी
● सफेद मूसली आदि ।

इन जड़ी बूटियों का सेवन करने से यौन शक्ति पुष्ट होती हैं । इन औषधियों का सेवन करने से जल्दी झड़ने की समस्या, शीघ्र स्खलन की दवा, शीघ्रपतन, जल्दी गिरने की प्रॉब्लम से निजात मिलती हैं ।

Leave a Comment