रुका हुआ पीरियड लाने की टेबलेट, Syrup व 5 बेस्ट दवा

Ruka huaa period lane ki dawa.

रुका हुआ पीरियड लाने की टेबलेट । पीरियड को मासिक धर्म भी कहते हैं। यह नारी की नारीत्व का परिचायक होता है। यह नारी की एक अवस्था के दौरान शुरू होता है जो हर महीने की निश्चित तारीख को मासिक चक्र के रूप में चलता रहता है। इसकी अवधि 4 से 6 दिन की होती है। जिस दौरान महिलाओं को कुछ शारीरिक कष्ट भी झेलनी पड़ती है ।

लेकिन किसी कारण बस अगर पीरियड रुक जाए बिना वजह के तो यह कई तरह के कठिनाइयों को जन्म देती है। इसीलिए इसका निश्चित रूप से आना आवश्यक है । वैसे अगर रुक जाए तो मेडिकल स्टोर में यह कुछ दवाइयां उपलब्ध है जिसको खाने से यह चक्र निश्चित समय पर चालू हो जाता है । तो चलिए जानते हैं – रुके हुए मासिक धर्म को कैसे लाए –

पढ़े – महिलाओ को जोश की गोली का नाम प्राइस – 5 असरकारी दवा

पीरियड क्या है ?

पीरियड असल में स्त्री संबंधित एक प्रक्रिया है जो प्राकृतिक जैविक प्रक्रिया है जोकि यूट्रस के अंदर से रक्त और उत्तक वजाइना के द्वारा बाहर निकलता है। यह हर महीने अपने निश्चित तिथि पर सर्कल की तरह चलते रहता है। पीरियड की शुरुआत बाल्यावस्था के दौरान हो जाती है इससे यह ज्ञात हो जाता है की बालिकाएं अब गर्भावस्था के लिए तैयार हो रही हैं। यह प्रक्रिया पुनः रूप से चालू होने में 28 दिन के अंतर पर शुरू होते हैं वैसे 21 से 35 दिन के अंतराल पर भी यह स्टार्ट हो जाता है।

यह हार्मोन अल प्रक्रिया भी है। जिसमें एस्ट्रोजन और प्रोजेस्टोन जैसे हार्मोन निकलते हैं। इसी हार्मोन ओव्यूलेशन के दौरान किसी एक ओवरी से एक निकलने की गतिविधि चालू हो जाती है।

वैसे यह 11 से 15 साल की अवस्था में बालिकाओं में शुरू हो जाता है जो मोनोपॉज की स्थिति तक चलते रहता है। यह कोई जटिल प्रक्रिया नहीं है लेकिन किसी किसी महिलाओं को यह ज्यादा कष्टप्रद भी होता है जिन्हें शारीरिक कष्ट से गुजरना पड़ता है।

रुका हुआ पीरियड लाने की टेबलेट –

यह महिलाओं में निश्चित अवधि के दौरान आने वाला मासिक चक्र है जो हर महीना सरकल की तरह चलता है । लेकिन किसी कारणवश अगर रुक जाए तो उसके लिए टैबलेट भी बाजार में मौजूद हैं जिसका इस्तेमाल कर महिलाएं अपनी प्राकृतिक रूप से चलने वाले इस मासिक धर्म की प्रक्रिया से आसानी से गुजर सकती हैं।

मासिक धर्म का निश्चित समय पर होना आवश्यक है अन्यथा बहुत सारी शारीरिक समस्याएं भी उत्पन्न हो सकती हैं। अगर किसी महिला में यह समस्या उत्पन्न होती है तो डॉक्टर के परामर्श पर दवा का सेवन करें और घरेलू उपाय के साथ-साथ पौष्टिक भोजन का इस्तेमाल करें फल और हरी सब्जियां भी लेते रहे।

प्रिमोलूट एन टेबलेट – रुका हुआ पीरियड लाने की टेबलेट

इस टेबलेट को खाने से महिलाएं अपने क्रिएट संबंधित समस्याओं से मुक्ति पा सकती हैं। यह टेबलेट 5 एमजी प्रतिदिन लेने से पीरियड आने के 5 दिन पहले से लेना होता है। और निश्चित रूप से प्रतिदिन लेने से निश्चित समय पर आना चालू हो जाएगा।

लेकिन यार टेबलेट इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर के परामर्श अवश्य लें इसे 10 डिग्री से 30 डिग्री के टेंपरेचर पर रखें 10 टैबलेट के एक पत्ते की कीमत ₹55.20 पैसा है।

लेकिन ध्यान देने योग्य बात यह भी है कि इसके कुछ साइड इफेक्ट भी हैं । इससे पेट संबंधित गड़बड़ी हो सकती है अर्थात कब्ज की शिकायत हो सकती है । आंख से धुंधलापन दिखाई देने लगेगा, सिर और पैरों में दर्द की समस्या हो सकती है । और स्तन का साइज बढ़ सकता है। इसलिए इस दवाई का सेवन करने से पहले डॉक्टर की राय अवश्य लें।

प्रेस्टकाइंड टेबलेट – रुका हुआ पीरियड लाने की Tablet.

निश्चित रूप से रुके हुए परेड को आने के लिए महिलाएं अक्सर इस दवा का इस्तेमाल करती हैं। इस टेबलेट को सुबह शाम 1 गोली लेने से निश्चित समय पर रुके हुए मासिक धर्म की प्रक्रिया चालू हो जाती है । वैसे इस टेबलेट का इस्तेमाल लगातार 4 दिन तक किया जा सकता है । पांचवें दिन में अपने आप ही मासिक धर्म शुरू हो जाता है।

10 टेबलेट की कीमत ₹105 है। इसके दुष्प्रभाव भी हैं सेवन करने वाली महिलाओं में उल्टी की समस्या हो सकती है, योनि से रक्तस्राव हो सकता है । वही सूजन से संबंधित समस्या हो सकती है जैसे पेट और हाथों में सूजन और दर्द की समस्या हो सकती है। इस दवा को लेने से पहले डॉक्टर की राय अवश्य ले लें।

केवा मेंस्ट्रूअल केयर टेबलेट – रुका हुआ मासिक धर्म लाने की दवा

इस टेबलेट को लेने के बाद महिला की पेट संबंधित समस्याएं समाप्त हो जाती है । पीरियड को नियमित रूप से चालू रखने के लिए ही इस दवा को बनाया गया है। डॉक्टर के परामर्श से इस दवा का सेवन सुबह और शाम में किया जा सकता है।

वैसे यह दवा एक प्लास्टिक की बोतल में 60 गोली के तौर पर मिलती है जो प्राकृतिक हर्बल से निर्माण किया गया है इसलिए इसका कोई साइड इफेक्ट तो नहीं है लेकिन फिर भी डॉक्टर के परामर्श से ही इस दवा का सेवन करें। इस दवा की कीमत है 15 00 रुपए।

पढ़े – पीरियड्स ब्लीडिंग रोकने की टेबलेट का नाम – 5 बेस्ट दवा

मेप्रेट टेबलेट – मासिक धर्म के लिए टेबलेट –

यह दवा प्रोजेस्टेरोन का कंपोजीशन होता है जिसके कारण मासिक धर्म रुकावट में कारगर होती है। इस टेबलेट को 2 दिन ही लेने से तीसरे दिन यह अपना काम कर जाती है। अर्थात तीसरे दिन क्रिएट को चालू कर देती है।

10 टेबलेट की कीमत ₹56.25 पैसा है। इसके कुछ साइड इफेक्ट भी हैं जैसे चक्कर आना पेट में दर्द होने की शिकायत कमजोरी होना और सिर में दर्द होने जैसी समस्याएं उत्पन्न हो सकती है। सावधानी के तौर पर सबसे पहले इन दवाइयों के सेवन करने से पहले डॉक्टर के परामर्श अवश्य ले लें।

पढ़े – पीरियड्स जल्दी लाने के उपाय – Periods jaldi lane ke upay.

Yuvti care Syrup – रुका हुआ पीरियड लाने की Syrup.

यह एक सिरप है जो महिलाओ मे होने विभिन्न प्रकार की पीरियड्स प्रॉब्लम जैसे अनियमित की मासिक धर्म, पीरियड्स का रुकना आदि के लिए कारगर है । इसमे मौजूद विभिन्न प्रकार के घटक जैसे अश्वगंधा, दशमूल, शतावरी, अशोक आदि । जो कि महिलाओ मे हार्मोनल संतुलन की प्रॉब्लम दूर करती हैं ।

इनके आलावा नसों की कमजोरी, सफेद पानी की प्रॉब्लम, पेट व कमर दर्द के लिए लाभकारी है । वही यह फेस स्किन के लिए बहुत उपयोगी है । इस दवा का कोई साइड इफ़ेक्ट नहीं है फिर योग्य डॉक्टर की सलाह से सेवन करें ।

पढ़े – पतंजलि मर्दाना ताकत दवा – कमजोरी की बेस्ट आयुर्वेदिक दवा

Iyush mati syrup – मासिक धर्म ठीक करने की दवा –

यह एक आयुर्वेदिक सिरप है जो विभिन्न प्रकार की आयुर्वेदिक जड़ी बुटियों से निर्मित की जाती है । इनका नियमित रूप से सेवन करने पर हॉर्मोन असंतुलन की प्रॉब्लम दूर होती हैं । इसी प्रकार मासिक धर्म की अनियमितता भी दूर होती है । वही शारीरिक कमजोरी व मशपेशिय दर्द से राहत मिलती हैं ।

इस दवा का कोई साइड इफ़ेक्ट नही है लेकिन का सेवन अनुशासित मात्रा के रूप में करें यदि कोई दुष्प्रभाव नजर आता हैं तो तुरंत प्रभाव से सेवन करना बंद करें एव योग्य डॉक्टर से सम्पर्क करे ।

गोली खाने के कितने दिन बाद पीरियड आता है ?

पीरियड आने की समस्या हर एक महिला की अलग-अलग शारीरिक संरचना के आधार पर होती है। कुछ महिलाओं को तो दवा सेवन करने के बाद कुछ ही घंटों के अंतराल में पीरियड स्टार्ट हो जाते हैं । वही कुछ महिलाओं को 10 से 15 दिन भी समय लग जाता है । लेकिन ध्यान रहे अगर 15 दिन के अंदर पीरियड्स स्टार्ट हो रहे हो और आप दवा का भी सेवन कर रहे हो तो कृपया डॉक्टर से संपर्क कर लें।

गोली खाने के बाद किस रूप में दवा प्रभावी होता है । यह खाने के बाद ही स्पष्ट हो पाता है । यह अपनी-अपनी महिलाओं की अपने शारीरिक क्षमता पर निर्भर करती है।

कभी-कभी तो गोली खाने के 5 से 6 घंटे के बाद ही पीरियड स्टार्ट हो जाता है। अगर दवाई लेने में गड़बड़ी हो तो 10 से अधिक भी लग सकते हैं।

यह समस्या महिलाओं से संबंधित होने के और उसके शारीरिक संबंध प्रक्रियाओं से जुड़ी रहती है। इसलिए इसका निदान होना भी आवश्यक है। महिलाओं में होने वाले मासिक धर्म की अपनी निश्चित आज प्राकृतिक प्रक्रिया है जिस में रूकावट होने के कारण कई तरह की समस्याएं उत्पन्न हो जाती है । मेडिकल साइंस में बहुत सारे ऐसे मेडिसिन है जिसका इस्तेमाल कर महिलाएं अपनी समस्याओं से मुक्ति पा सकती हैं । लेकिन इसके लिए डॉक्टर की परामर्श से ही दवाई का सेवन करें। इसके अलावा बहुत सारे घरेलू उपाय भी हैं जिसके माध्यम से महिलाएं इस समस्या से मुक्ति पा सकती हैं ।

Share