पतंजलि में नामर्दी की दवा | Patanjali namardi ki dawa.

Patanjali namardi ki dawa.

पतंजलि में नामर्दी की दवा | Patanjali namardi ki dawa. आज की बदलती जीवनशैली में अनेकों बीमारियों पनपने लगी है । नामर्दी भी उनमें से एक है । असल में नामर्दी पुरुषों में पाई जाने वाली एक लैंगिक प्रॉब्लम हैं । जिससे एक पुरूष अपने पार्टनर को सेक्सुअल लाइफ में संतुष्ट नहीं कर पाता है । और अनेक प्रकार की वैवाहिक समस्याओ से घिर जाता है ।

डॉक्टर के अनुसार नामर्दी के कई कारण हो सकते है जैसे व्यवस्थित खानपान, तनाव या डिप्रेशन एवं मोटापा आदि हो सकते है । इसके अलावा जननांगों में चोट या इंफेक्शन भी एक कारण हो सकता है । हालांकि यह कोई जन्मजात प्रॉब्लम नहीं है । नपुंसकता वह स्थिति है जिसमें टेस्टोस्टेरोन हार्मोन का स्राव बन्द हो जाता हैं जिससे शुक्राणुओं की कमी हो जाती हैं । तो चलिए जानते है – नपुंसकता या नामर्दी के बारे में –

पढ़े – इज़ोल टॉनिक के फायदे । Eazol health tonic uses in hindi.

नपुंसकता क्या है ? Namardi kya hai.

नामर्दी वह परिस्थिति हैं जिसमे एक पुरूष में शुक्राणुओं का निर्माण बंद हो जाता है । जिससे उनका वीर्य पतला हो जाता है । इस प्रॉब्लम के कारण प्रजजन शक्ति पूर्ण रूप से समाप्त हो जाती हैं । इस स्थिति में व्यक्ति जल्दी मुक्ति या शीघ्र स्खलित हो जाता है ।

नामर्दी वह स्थिति है जिसमें कमजोर प्रजजन क्षमता के कारण शीघ्रपतन, लिंग के तनाव की कमी के कारण अपने पार्टनर को यौन सुख नहीं दे सकता है । यह भी है कि व्यक्ति संतान सुख से वंचित रह सकता है ।
नामर्दी या नपुंसकता पुरूष के लिए किसी अभिशाप से कम नहीं है । क्योंकि न तो पार्टनर को खुश कर सकता है और न ही खुद आनन्दित हो सकता है । ऐसी स्थिति में वैवाहिक रिश्ते टूटने की कंगार पर पहुंच जाते हैं ।

पढ़े – अश्वशक्ति पाउडर के फायदे । Ashwashakti powder ke fayde.

नामर्दी या नपुंसकता के कारण –

एक्सपर्ट के अनुसार नामर्दी या नपुंसकता का कारण जेनेरिक भी हो सकता है । लेकिन कुछ पुरुषो में जन्म के बाद भी देखी गई है । शोध के अनुसार नामर्दी का कारण शारीरिक कमजोरी हैं । इस शारीरिक कमजोरी के कारण कई प्रकार की सेक्सुअल एवं अन्य प्रॉब्लम भी हो सकती हैं तो नपुंसकता के कारण –

  • मानसिक रूप तनाव या अवसाद ।
  • अत्यधिक हस्तमैथून करना ।
  • लैंगिक विकार जैसे गुप्तांगों पर चोट या इंफेक्शन ।
  • शारिरिक कमजोरी एवं थकान ।
  • टेस्टोस्टेरोन हार्मोन एवं शुक्राणुओं की कमी ।
  • किसी गम्भीर बीमारी से पीड़ित होना ।
  • अधिक धूम्रपान एवं एल्कोहल सेवन करना ।
  • पर्याप्त नींद की कमी ।

पतंजलि में नामर्दी की दवा | Patanjali namardi ki dawa.

पंतजलि एक प्रकार का आयुर्वेदिक दवाओं का ब्रांड हैं जो भारत का सबसे लोकप्रिय है । नपुंसकता या नामर्दी को लेकर कई दवाओं का निर्माण कर चुके हैं । यह दवा विभिन्न प्रकार की आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों से निर्मित होती है । इन दवाओं के अभी तक कोई साइड इफेक्ट्स सामने नहीं आए हैं ।

फिर भी सजंगता आवश्यक है । आज के लेख में कुछ ऐसी दवाओं के बारे में बताने जा रहे है जो नामर्दी का रामबाण इलाज से कम नहीं है तो चलिए जानते है – पंतजलि में नामर्दी की दवा । Patnjali me namardi ki dawa.

पढ़े – जिसका खड़ा नहीं होता उसकी दवा

पतंजलि सांग्ये पिष्टी | Patnjali sangyo pishti.

यह दवा नामर्दी का रामबाण इलाज से कम नहीं है । इसमे उपस्थित विभिन्न प्रकार की जड़ी बूटियां जो शुक्रवर्धक होने के वीर्य को गाढ़ा करती हैं जिससे पेसाब में धातु की प्रॉब्लम खत्म होती हैं । इतना ही नहीं यह ह्रदय रोग के लिए भी लाभकारी औषधि होती हैं ।
इस दवा का नियमित रूप से सेवन करने पर यौन सुख की प्राप्ति होती है । यौन क्षमता में वृद्धि होती है ।

नामर्दी की प्रॉब्लम से राहत मिलती है । इस दवा की कीमत लगभग 1000 के आस पास है । अभी तक इनका कोई साइड इफेक्ट्स सामने नहीं आए हैं फिर भी वैध की सलाह से सेवन करें ।

पतंजलि शिलाजीत कैप्सूल । Patnjali shilajit capsule.

पंतजलि की यह दवा शिलाजीत जैसे आयुर्वेदिक जड़ी बूटी से निर्मित होती हैं । यह दवा भी सबसे लोकप्रिय दवाओं में से एक है जो बिना किसी डॉक्टरी पर्ची से आयुर्वेदिक मेडिकल स्टोर पर उपलब्ध हो जाती हैं । आयुर्वेद के अनुसार शिलाजीत एक यौन क्षमता वर्धक औषधि है । पढ़े – डाबर शिलाजीत गोल्ड कैप्सूल के फायदे 

इनका दवा का उपयोग प्रजजन शक्ति बढ़ाने के लिए किया जाता है । इनका नियमित रूप से सेवन करने पर यौन शक्ति मजबूत होती हैं । इस कैप्सूल का कोई साइड इफेक्ट्स नहीं है ।

पतंजलि अश्वशिला कैप्सूल । Patnjali Ashwashila capsule.

पंतजलि की दवा नामर्दी की रामबाण दवा है जो अश्वगंधा नामक जड़ी बूटी से तैयार किया जाता है । जो यौन समस्याओं के लिए लाभदायक है । यह इम्यून सिस्टम को मजबूत करने के साथ साथ यौन विकारो को दूर करता है । यह नामर्दी, लिंग की समस्या, धातु रोग एवं पेनिस की साइज बढ़ाने के लिए उपयोगी है । शीघ्रस्खलन के लिए भी लाभकारी है । अधिक जानकारी के लिए पढ़े – अश्वशिला कैप्सूल के 11 फायदे 

इनके कैप्सूल महिलाओं एवं पुरुषों के लिए लाभदायक है । यह दवा आसानी से उपलब्ध हो जाती हैं । इनके कैप्सूल नियमित रूप से सुबह शाम डॉक्टर की सलाह से सेवन कर सकते है । हालांकि इनके कोई साइड इफेक्ट्स नहीं फिर अधिक डोज़ न ले ।

पतंजलि में नामर्दी की दवा – शुद्ध शंख बीज पाउडर । Patnjali shudh shnkha biz powder.

शंख एक प्रकार की आयुर्वेदिक औषधि है । जिनका उपयोग यौन विकारो के इलाज के लिए किया जाता हैं । इनके बिज यौन इच्छा को बढ़ाने के लिए कारगर औषधि है । इसी प्रकार यह तनाव दूर करने में सहायक होती हैं ।

एक्सपर्ट के अनुसार यह शंख बिज पाउडर उत्तेजना बढ़ाने के इतने प्रभाशाली हैं कि इनके सेवन के उपरांत खुद को रोक पाना बहुत ही मुश्किल है । यह नामर्दी या नपुंसकता के लिए लाभदायक है । इनका उपयोग वैध की सलाह से सुबह शाम सेवन कर सकते है ।

पंतजलि में नपुंसकता की दवा – दिव्य मकरध्वज रस । Pantjali Makaradhvaj ras.

मकरध्वज एक आयुर्वेदिक जड़ी बूटी है इनका उपयोग प्रजजन संस्थान के विकार के लिए किया जाता है । इसके अलावा शरीर के विभिन्न प्रकार की कमजोरियों के लिए भी किया जाता हैं । इनका सेवन करने से बॉडी में एनर्जी बढ़ती है एवं ताज़गी बनी रहती है ।

पंतजलि मकरध्वज रस एक प्रकार जूस हैं । जिनका उपयोग नामर्दी के उपचार में किया जाता है । यह शीघ्रपतन एवं उत्तेजना बढ़ाने में लाभदायक है । इनका साइड इफेक्ट्स न के बराबर है लेकिन डॉक्टर द्वारा बताई गई खुराक ही सेवन करें ।

पढ़े – ईडी बूस्टर कैप्सूल । ED booster capsule uses in hindi.

पतंजलि में नामर्दी की दवा | नपुंसकता का अटूट इलाज

  1. पतंजलि शतावरी चूर्ण – यह महिला एवं पुरूष दोनों के लिए लाभदायक है । इनका उपयोग करने से शारीरिक एवं मानसिक शांति मिलती हैं । नपुंसकता या नामर्दी के लिए बहुत लाभदायक है । इनका 5 से 10 ग्राम चूर्ण सेवन कर सकते हैं । इनका सेवन करने से रक्त संचार बढ़ता है एवं यौन शक्ति बढ़ती है ।
  2. पतंजलि सफेद मूसली पाउडर – यह ऐस्पैरागस एडसेंडेंस नामक दुर्लभ जड़ी – बूटी से तैयार किया जाता है । इसे हर्बल वियाग्रा के नाम से भी जाना जाता है । इनका उपयोग पुरुषों के यौन विकारो के उपचार हेतु किया जाता है । 1 चम्मच पाउडर को गर्म दूध के साथ सेवन कर सकते है ।
  3. पतंजलि गोक्षुरादि गुग्गुल – आयुर्वेद के अनुसार यह जड़ी बूटी बहुमुखी गुणों से भरपूर मानी जाती है । इनका उपयोग नामर्दी, शीघ्रपतन एवं लिंग की समस्या के साथ साथ कई अन्य रोगों के रोकथाम के लिए किया जाता हैं । इनकी एक – एक गोली सुबह शाम सेवन कर सकते है ।
  4. पंतजलि यौवन चूर्ण – विभिन्न प्रकार की आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों द्वारा निर्मित यह दवा नामर्दी के अलावा विभिन्न प्रकार के यौन विकार जैसे शीघ्रपतन या शीघ्रस्खलन, लिंग की समस्या, उत्तेजना की कमी आदि रोगों के लिए लाभदायक है ।

इनका नियमित रूप से इस्तेमाल करने पर गुप्त रोगों से लाभ मिलता है । इनका उपयोग वैध की सलाह से सुबह शाम कर सकते हैं । हालांकि इनका कोई नुकसान नहीं है फिर भी अधिक डोज न ले । तो मित्रों उम्मीद करते हैं आज लेख पतंजलि में नामर्दी की दवा | Patanjali namardi ki dawa. आपको जरूर अच्छा लगा होगा । आप अपने विचार हमारे कमेंट बॉक्स में लिख सकते है ।