पंतजलि पेनिस तेल । Patanjali Ling vardhak oil.

Patanjali Ling vardhak oil.

पंतजलि पेनिस तेल । पंतजलि एक आयुर्वेदिक ब्रांड हैं जिनमें अनेकों उत्पाद हैं उनमें से Patanjali Ling vardhak oil. जो लिंग वर्धक आयल के नाम से जाने जाते है । लिंग का ढीलापन, पेनिस की साइज न बढ़ना एक प्रकार की लिंग समस्या है । इस समस्या के कारण लिंग में इरेक्शन नहीं होता हैं । पेनिस ( ling ) में तनाव की कमी होती हैं ।

एक्सपर्ट के अनुसार गलत खानपान एवं बचपन की गलतियों के कारण लिंग की समस्या होती हैं । जिससे फिज़िकल रिलेशन बनाने के दौरान पुरुष का लिंग तनाव में आता है । उनका लिंग ठीक से काम नहीं करता हैं । यदि उसमे में तनाव आता भी है तो सिर्फ 1 से 2 मिनट के लिए । स्खलित होकर पुनः गिर जाता है जिससे अपने पार्टनर को संतुष्ट नहीं कर पाता है । लिंग की समस्या को लेकर अनेकों तरह के इलाज ढूंढ़ते है । उन इलाज में पंतजलि पेनिस तेल भी एक है जो चलिए जानते है – Ling vardhak oil के बारे में –

पढ़े – बैधनाथ कंपनी की दवा Shighrapatan

पंतजलि पेनिस तेल । Patanjali Ling vardhak oil.

यह आयल विभिन्न प्रकार के आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों द्वारा तैयार किए जाते है । लेकिन आपकी जानकारी के लिए बता दे कि पंतजलि में अभी तक अन्य ब्रांडो जैसे हिमालय, बैधनाथ की तरह कोई भी ऐसा oil नहीं बनाया जो विशेष रूप लिंगवर्धक हो । जो केवल और केवल लिंग के लिए उपयोगी हो ।

आज के लेख अब तक के उपलब्ध पंतजलि ब्रांड के तेल के मुख्य घटको के अनुसार उनकी विशेषता एवं गुणवत्ता के आधार पर कुछ आयल के बारे में बता रहे हैं । इन लिंगवर्धक आयल में यौनशक्ति वर्धक औषधियों के समिश्रण के कारण यह लिंग की साइज बढ़ाने, ढीलापन दूर करने के लिए उपयोगी हो सकते है । यदि आप इस्तेमाल करना चाहते है तो वैध के परामर्श के उपरांत कर सकते तो चलिए जानते है – Patanjali Ling vardhak oil. के बारे मे –

दिव्य तेजस तेलम – पतंजलि पेनिस तेल –

पंतजलि का यह बहुत ही उपयोगी आयल है । इनका उपयोग न केवल लिंगवर्धक के लिए बल्कि अन्य रोगों के उपचार के लिए भी किया जाता है । यह गठिया एवं अन्य दर्द के लिए लाभकारी है ।

यह 9 आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों जैसे बादाम, अखरोट, जैतून, सरसों, सोयाबीन, तिल व एरंडी के तेल के समिश्रण से तैयार किया जाता हैं । जो लिंग की मांशपेशियों में मजबूती प्रदान करता है ।

इसके अलावा यह तेल स्किन के लिए भी लाभकारी होता है । इनका नियमित रूप से इस्तेमाल करने पर पेनिस जल्दी उत्तेजित होता है । एवं नसों की कमजोरी भी दूर होती है ।

पढ़े – जिसका खड़ा नहीं होता उसकी दवा ।

दिव्य बादाम रोगन तेल । Patnjali Divya Badam rogan oil. – पेनिस साइज़ बढ़ाने का oil.

पंतजलि का यह तेल विटामिन ई, प्रोटीन, जिंक, मोनोसैचुरेटेड फैटी एसिड्स एवं पोटैशियम से भरपूर होता है । जो पेनिस को ताकतवर बनाने के साथ साथ मजबूती प्रदान करता है ।

इस तेल में जिंक जैसे तत्वों की प्रधानता होने के कारण यौन अंगों के विकास के लिए बहुत ही फायदेमंद औषधि है । इनका नियमित रूप से इस्तेमाल करने से पेनिस की नसों व मांशपेशियों को मजबूती मिलती हैं जिससे रक्त संचार बढ़ता है । यही वजह है कि पेनिस बेहतर ढंग से कार्य करने की क्षमता में वृद्धि होती हैं ।

पंतजलि दिव्य सोमराज तेल । Patanjali Divya Somraaji oil. लिंग बड़ा करने का तेल –

यह पंतजलि का आयुर्वेदिक तेल हैं जिसमे हल्दी एवं सरसों जैसे प्राकृतिक तत्वो का समावेश किया गया है । यह तेल कुष्ठ रोग, स्किन इंफेक्शन के लिए लाभदायक है । इतना ही नहीं लिंगवर्धक के लिए उपयोगी है क्योंकि यह एक मसाज आयल हैं । ज्यादातर इनका उपयोग मांशपेशियों को मजबूत करने एवं चर्म रोगों के लिए किया जाता हैं ।

चूँकि पेनिस का ढीलापन भी एक प्रकार की मांशपेशिय कमजोरी माना जाता है । यही कारण है कि इस तेल को लिंगवर्धक तेल की सूची में शामिल किया गया है । पेनिस पर नियमित रूप से इस्तेमाल करने पर रक्त वाहिकाओं में रक्त संचार तेजी बढ़ेगा जिससे टेढ़ापन एवं ढीलापन दूर किया जा सकता है ।

पंतजलि महामाष तेल । Patanjali Divya Mahamash oil.

यह पंतजलि का एक ऐसा आयुर्वेदिक तेल हैं जो एक साथ कई रोगों के लिए लाभदायक है । इस तेल में उपस्थित घटक जैसे अश्वगंधा, गोखरू, हल्दी, रसना, चित्रक, कचूर, गमभारी, हींग, विदारीकंद आदि जो विभिन्न प्रकार के दर्द के लिए लाभदायक है । यह लकवा व गठिया जैसे रोगों के लिए रामबाण औषधि है ।
जैसा कि हम सभी जानते है कि अश्वगंधा, गोखरू व विदारीकंद जैसे आयुर्वेदिक औषधि सेक्सवर्धक मानी जाती है । यही कारण है कि दिव्य महामाष तेल पेनिस की साइज बढ़ाने, पेनिस को ताकतवर बनाने एवं उत्तेजना पैदा करने में एक कारगर होता है ।

पेनिस पर इनका नियमित रूप से इस्तेमाल करने पर लिंग का ढीलापन दूर होगा । वही उसमे इरेक्शन भी बढ़ेगा । मांशपेशियों की मजबूती के साथ साथ नसों की कमजोरी दूर होगी । पेनिस सख्त एवं कठोर बनेगा ।

पंतजलि पेनिस तेल – दिव्य सहचरदी तेल । Patanjali Divya Sahacharadi oil.

यह एक ऐसा तेल हैं जो हर आयुर्वेदिक स्टोर पर उपलब्ध हो जायेगा । इनका उपयोग जोड़ो का दर्द, साइनस के लिए फायदेमंद माना जाता है । इतना ही नहीं इसमे उपस्थित घटक जैसे कंटकारी, श्योनाका, गोखरू, गमभारी, अग्निमन्थ, बृहत एवं शलपर्णी आदि जो विभिन्न प्रकार के रोगों के लिए उपयोगी हैं ।

इसमे उपस्थित गोखरू जैसे यौनशक्ति वर्धक आयुर्वेदिक जड़ी बूटी लिंग की मांशपेशियों को मजबूती प्रदान करते हैं । इनका नियमित रूप से इस्तेमाल करने पर पेनिस प्रॉब्लम दूर होती है । लिंग में तनाव बढ़ता है ।

पढ़े – डाबर शिलाजीत गोल्ड कैप्सूल के फायदे । Dabur shilajit capsule in hindi.

आयुर्वेदिक लिंगवर्धक आयल – Shilajit Oil.

यह एक आयुर्वेदिक तेल हैं जो शिलाजीत जैसी पॉवरफुल जड़ी बूटी से निर्मित होता है । इस तेल की खास बात यह है कि यह लिंगवर्धक आयल के नाम से जाना जाता है । इनका नियमित रूप से इस्तेमाल करने पर पेनिस की नसों में रक्त संचार बढ़ता है । नसों की कमजोरी दूर होती हैं । लिंग में इरेक्शन बढ़ता है ।

यह तेल विभिन्न प्रकार की लिंग समस्या के इलाज हेतु इस्तेमाल किया जाता है । लिंग समस्या जैसे लिंग का ढीलापन, पेनिस की नसों की कमजोरी, पेनिस में उत्तेजना की कमी एवं लिंग की कमजोर नसों को दुरुस्त करके पेनिस को ताकतवर बनाता है । इस तेल का साइड इफेक्ट्स अभी तक दर्ज नहीं हुए हैं फिर भी सावधानी से इस्तेमाल करें ।

पढ़े – पंतजलि में नामर्दी की दवा । Patanjali namardi ki dawa.

पेनिस साइज बढ़ाने की दवा oil.

पेनिस की साइज कम होने पर अक्सर पुरुषों को शर्मिंदगी महसूस होती है । पेनिस की साइज बढ़ाने के लिए कुछ आयुर्वेदिक एवं होम्योपैथी आयल हैं जिसे मसाज करने पर लिंग मोटा व लंबा हो जाता है । तो चलिए जानते है – औजार मोटा करने के तेल के बारे में –

  1. लाल घोड़ा आयुर्वेदिक तेल ( Laal Ghoda Ayurvedic oil. )
  2. डॉ. वैदिक नेचरल तेल ( Dr. Vedic 100% Pure & Natural Oil. )
  3. नेचुरल हम्मर किंग आयल ( Natural Hammer King Oil. )
  4. हॉर्स पॉवर हर्बल मसाज आयल ( NKB Horse Power Herbal Massage Oil for Men. )
  5. पेनीवेन तेल ( Penivein oil )
  6. जापानी तेल ( Japani oil )

इसी प्रकार कुछ अन्य तेल ( Oil ) हैं जो पेनिस साइज बढ़ाने की दवा oil. बढ़ाने के लिए उपयोगी हैं इन तेल में तिल का तेल, ऑलिव ऑयल, नारियल तेल एवं लौंग तेल उपयोगी हैं । इनका उपयोग पैकेट पर दिए गए दिशा निर्देश के अनुसार करें ।

पंतजलि पेनिस तेल का कैसे इस्तेमाल करें ।

चूँकि ऊपर बताया गया है यह तेल विशेष रूप से लिंगवर्धक के लिए नहीं बने हैं लेकिन इनके गुणों को देखते हुए इस्तेमाल कर सकते है । इसमें उपस्थित गुणों के अनुसार इनका इस्तेमाल करना फायदेमंद हो सकता है । इनका उपयोग करने से शीघ्रपतन या शीघ्रस्खलन, तनाव की कमी, साइज का बढ़ना जैसे लाभ हो सकता है । अब जानते है इस्तेमाल कैसे करें –

  • इन तेल का इस्तेमाल सुबह शाम करें । रात में करना ज्यादा फायदेमंद है ।
  • इस तेल की 10 – 15 बूंदों को हाथों में लगाकर हल्के हाथों से मालिश करें ।
  • इस तेल का इस्तेमाल यौन क्रिया से आधा घंटे पहले करें ।
  • इनका नियमित रूप से इस्तेमाल करने से फायदेमंद होता है ।

अंतिम शब्द – आयुर्वेद के अनुसार ऊपर बताए गए आयल के कोई साइड इफेक्ट्स दर्ज नहीं है लेकिन फिर भी आपको इस्तेमाल करते वक़्त सावधानी रखना ही बुद्धिमानी होती हैं । तो उम्मीद करते हैं आज का लेख Patanjali Ling vardhak oil. के बारे में उपयोगी रहा होगा । आप अपने विचार हमारे कमेंट बॉक्स में लिख सकते हैं ।