पतंजलि ब्रेस्ट बढ़ाने की दवा oil. – लेडीज छाती बढ़ाने के 11 बेस्ट तेल

patanjali breast badhane ki dawa oil

पतंजलि ब्रेस्ट बढ़ाने की दवा oil. छोटे स्तनों या उनकी वृद्धि रुक जाने के कारण अक्सर महिलाएं / लड़कियां कई प्रकार के प्रयत्न करती है । कभी अंग्रेजी दवा तो कभी आयुर्वेदिक दवाओं का इस्तेमाल करती हैं । इन मेडिसिन के कारण कभी कभी साइड इफेक्ट्स झेलने पड़ते हैं । लेकिन पतंजलि ब्रैस्ट बढ़ाने की दवा Oil. काफी लाभदायक हो सकते है । क्योंकि इनका कोई दुष्प्रभाव नहीं होते है । इन तेल का इस्तेमाल स्तनों पर मसाज के रूप में किया जाता है ।

एक्सपर्ट के अनुसार रिसर्च में पाया कि जिन लड़कियों / महिलाओं के ब्रैस्ट की वृद्धि नहीं होती हैं तो वह उनका आत्मविश्वास कम हो जाता हैं । वह अपने आपको कम आकर्षित फील करती हैं । ऐसे में परफेक्ट फिगर दिखाने के लिए अनेकों मेडिसिन की सहारा लेती हैं । ऐसे में तेल काफी कारगर साबित हो सकते है । क्योंकि यह पूर्ण रूप से सुरक्षित एवं उपयोगी है । तो चलिए जानते है –  पतंजलि ब्रेस्ट बढ़ाने की दवा oil के बारे में patanjali breast badhane ki dawa oil.

​पढ़े – बैधनाथ कंपनी की दवा shighrapatan.

लेडीज छाती बढ़ाने के तेल लगाने का तरीका एवं फायदे –

लेडीज की छाती यानी ब्रैस्ट बढ़ाने के लिए तेलो का इस्तेमाल करना काफी हद तक सुरक्षित है । क्योंकि यह तेल प्राकृतिक गुणों से भरपूर होते हैं । दूसरी बात इन तेल का इस्तेमाल स्तनों पर मसाज के रूप में किया जाता है । जिससे स्तनों में ब्लड फ्लो बढ़ता है । ऊतकों का पुनः निर्माण होता है और धीरे धीरे ब्रैस्ट का विकास होता है ।

यहां सबसे अहम बात यह है कि इन तेल का इस्तेमाल सही तरीके से करना चाहिए ताकि को नुकसान न हो । तो सबसे पहले इन तेल की 10 – 11 बूंदे अपने हाथों में लेकर 15 से 20 मिनट तक गोलाकार गति से हल्के हाथों से मालिश करें ।

इस बात का ध्यान रखें कि ब्रैस्ट के चारो तरफ लगाये । बस हल्की फुल्की मालिश करें । ज्यादा दबाव न लगाएं । उनके बाद किसी साफ कपड़े से पौछ ले । ऐसा करने से फिगर का ब्लड सर्कुलेशन बढ़ता है और स्तनों का धीरे धीरे विकास होता है ।

अब बात करते हैं कि इन तेल के नुकसान के बारे में तो हम आपको बता दें कि इनका कोई नुकसान नहीं है लेकिन यदि कोई तेल आपकी स्किन को सूट नहीं करते हैं तो कुछ स्किन पर एलर्जी जैसे प्रभाव देखने को मिल सकते है । चूँकि यह प्रभाव अस्थायी होते हैं जो कुछ समय बाद स्वत् ठीक हो जाते हैं ।

पतंजलि ब्रेस्ट बढ़ाने की दवा oil.

पतंजलि भारत का एक आयुर्वेदिक उत्पाद हैं जिसे स्वदेशी ब्रांड भी कहा जाता है । इनके प्रोडक्ट आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों द्वारा बनाए जाते है जिससे उनका दुष्प्रभाव न के बराबर होता है । इनसे पहले ब्रैस्ट बढ़ाने की दवा Himalaya के बारे में बता चुके हैं ।

पतंजलि ब्रैस्ट बढ़ाने की क्रीम एवं फिगर बढ़ाने की अंग्रेजी दवा के बारे में भी चर्चा कर चुके हैं ।
आज की कड़ी में स्तन बढ़ाने के तेल के बारे में चर्चा करने जा रहे है जो आपके लिए काफी लाभदायक हो सकते हैं । इस कड़ी में कुछ पतंजलि तेल एवं कुछ सामान्य तेल के बारे में बात करेंगे जो इस प्रकार है –

पढ़े – बेस्ट 9 महिलाओं के लिए टॉनिक Patanjali, आयुर्वेदिक

1. पतंजलि दिव्य बादाम का तेल – स्तन बढ़ाने का तेल

बादाम का तेल विटामिन ई नामक पोषक तत्व से भरपूर होता है । यह केवल ब्रैस्ट बढ़ाने के लिए उपयोगी हैं बल्कि स्किन के लिए भी लाभकारी है । इस तेल का नियमित रूप से मालिश करने स्किन सॉफ्ट एवं मुलायम होती हैं । वही स्तनों में वृद्धि होती है ।

इनके लिए अपने हाथों में 8 – 10 बून्द Badam oil लीजिए फिर हल्के अंदाज में स्तन के चारो तरफ लगाए । 10 से 15 मिनट तक मालिश करने के साथ तौलिये साफ कर लीजिए । यह तेल ऊतकों का पुनः निर्माण करने के लिए फायदेमंद है । जो ब्रैस्ट वृद्धि के लिए आवश्यक है ।

2. पतंजलि तेजस तेलम आयल । Patanjali Tejus Tailum Oil.

पतंजलि का तेजस तेल विभिन्न प्रकार के प्राकृतिक गुणों जैसे जैतून तेल, बादाम, नारियल, सरसो एवं तिल के तेल से मिलकर बनाया जाता है । यह तेल येलो कलर होता है । इनका उपयोग हेयर आयल, पेनिस तेल एवं मसाज तेल के रूप में किया जाता है । इसी प्रकार यह तेल लेडीज छाती बढ़ाने के लिए भी बहुत ही लाभकारी है ।

इनका नियमित रूप से इस्तेमाल करने पर स्किन कोमल एवं मुलायम होती है । इसी प्रकार स्तनों पर इस तेल की मालिश करने पर ऊतकों का निर्माण होता है । ब्लड सर्कुलेशन नियंत्रित होता है एवं हार्मोन लेवल रहता है । जिससे ब्रेस्ट का आकार बढ़ता है । ध्यान रखें कि ज्यादा समय तक मसाज न करें ।

3. जैतून का तेल । Oiive oil. – पतंजलि ब्रेस्ट बढ़ाने की दवा oil

यह तेल अनेकों पोषक तत्वों एवं आयुर्वेदिक गुणों से भरपूर होता है । यह पैन रिलीफ एवं हेयर प्रॉब्लम के लिए भी लाभकारी है । यह तेल ब्रैस्ट बढ़ाने के लिए भी कारगर होता है जो ब्लड फ्लो बढ़ाने में कारगर होता है ।

इसमें उपस्थित फाइटोएस्ट्रोजेंस नामक तत्व जो स्तनों का आकार बढ़ाने में उपयोगी होता है । यही कारण है रोजाना महीने भर मालिश करने से स्तनों के आकार बढ़ता है । ऊतकों का विकास होता है । ध्यान रखें कि ज्यादा मसाज न करें ।

4. लौंग का तेल – पतंजलि ब्रेस्ट बढ़ाने की दवा oil.

यह शक्तिदायक तेल हैं । जो स्तनों की वृद्धि करने में सहायक है । इस तेल की नियमित रूप से हल्की फुल्की ब्रैस्ट मसाज करने पर सुंदर, सुड़ौल एवं बढ़ते हैं । रोजाना मालिश करने पर रक्तवाहिनियों में रक्त संचार बढ़ता है एवं ऊतकों का विकास होता है ।

इनके लिए सबसे पहले 2 चम्मच लौंग का तेल लीजिए फिर उसमें चम्मच भर अदरक का रस लीजिए । अब इन दोनों को अच्छी तरह मिला लीजिए । इस मिश्रण को दिन में ही बार अपने स्तनों पर हल्के हाथों से गोलाकार तरीके से चारो तरफ लगाए । ध्यान रखें कि 15 – 20 मिनट से ज्यादा न करें । ऐसा करने से डेढ़ से दो महीने में लगभग 2 से 3 इंच तक ब्रैस्ट बढ़ सकते है ।

5. नारियल का तेल । Coconut oil. – छाती बढ़ाने का तेल

यह तेल प्राकृतिक गुणों से भरपूर होता है । जिसमें मॉइस्चराइजिंग एजेंट्स होते हैं जो स्किन को सॉफ्ट एवं मुलायम रखने में कारगर होते हैं । वही ये एजेंट्स स्किन को लचीलापन बनाने में भी लाभकारी है । यही कारण है कि यह तेल ब्रैस्ट ग्रोथ के लिए भी रामबाण औषधि है ।

यह तेल विभिन्न प्रकार के पोषक तत्वों से युक्त होने के कारण यह ब्रैस्ट ग्रोथ एवं स्ट्रेच मार्क्स एवं ड्रायनेस को रिमूव करने के भी उपयोगी हैं । ब्रैस्ट पर रोजाना मालिश करने पर ब्लड सर्कुलेशन बढ़ता है जिससे धीरे धीरे स्तनों का विकास होता है ।

6. सोयाबीन तेल – पतंजलि ब्रेस्ट बढ़ाने की दवा oil

यह तेल सोयाबीन से निकाला जाता हैं जो कि प्रोटीन का स्रोत होता है । इनके अलावा अन्य पोषक तत्व भी इसमें मौजूद हैं । जो महिलाओं में एस्ट्रोजन हार्मोन को बढ़ाने में सहायक है । यही कारण है कि यह तेल ब्रैस्ट ग्रोथ के लिए उपयोगी होता है ।

इस तेल का इस्तेमाल स्तनों पर दिन में एक बार किया जा सकता है । रोजाना इस तेल की मालिश करने से बूब्स का आकार बढ़ता है । वही अतिरिक्त चर्बी को कम करके सुडौल भी बनाता है । इस बात का ध्यान रखें कि 15 से 20 मिनट से ज्यादा मसाज न करें ।
​पढ़े – बैधनाथ शुगर की दवा । 7 बेस्ट आयुर्वेदिक व पतंजलि दवा

7. एसेंशियल ऑयल – फिगर बढ़ाने का आयल

यह तेल प्राकृतिक गुणों से भरपूर होने के कारण मसाज तेल के रूप में जाना जाता है । इनका उपयोग विभिन्न प्रकार के दर्द, स्किन प्रॉब्लम एवं हेयर प्रॉब्लम के लिए किया है । इसी प्रकार बूब्स की साइज बढ़ाने एवं शेप लाने में ट्री ट्री आयल एवं लेवेंडर आयल लाभदायक होते है ।

लेवेंडर एवं ट्री ट्री आयल को समान मात्रा में मिलाकर प्रतिदिन स्तनों पर मालिश करने से 1 महीने बाद बेहतर परिणाम मिल सकते है । यानी आपके स्तनों की ग्रोथ बढ़ सकती हैं । ध्यान रखें कि जल्दी जल्दी स्तन बढ़ाने के चक्कर में ज्यादा मसाज न करे ।​

8. ब्रेस्ट बढ़ाने का oil – मेथी के बीज का तेल

मेथी दाना प्राकृतिक गुणों से भरपूर होता है । इनका उपयोग रसोई में रोजाना किया जाता है । इनके अलावा मेथी की सब्जी बनाकर, लड्डू बनाकर भी किया जाता है । इसी प्रकार मेथी के तेल भी ब्रैस्ट का आकार बढ़ाने में सहायक होता है । इनका इस्तेमाल लेडीज छाती पर करने से 7 से 10 सप्ताह में वृद्धि होती है ।

इनके लिए मेथी के तेल को अपने हाथों में लेकर अपने स्तनों पर गोलाकार तरीके से चारो ओर 5 से 10 मिनट तक लगाकर मालिश करें । इससे बूब्स का ब्लड सर्कुलेशन बढ़ने के साथ साथ ऊतकों का विकास होगा ।

पतंजलि ब्रैस्ट बढ़ाने की टेबलेट । Patanjali Breast Tablet.

पतंजलि में विभिन्न प्रकार की दवाई उपलब्ध है उनमें से ब्रैस्ट बढ़ाने की भी टेबलेट हैं । इनमें से Patanjali Shatavari Tablet मुख्य हैं । शतावरी एक ऐसी आयुर्वेदिक औषधि है जो महिलाओं के लिए किसी रामबाण औषधि से कम नहीं है जिनके बारे में हम पिछले लेख ( महिलाओं के लिए शतावरी के फायदे ) में पढ़ चुके हैं ।

इसी प्रकार यह दवा कई ब्रांडो में जैसे – बैधनाथ, हिमालय आदि में उपलब्ध हैं । हिमालय शतावरी टेबलेट के फायदे नुकसान नामक लेख आप पहले पढ़ चुके हैं । इसी प्रकार पतंजलि शतावरी टेबलेट भी स्तन बढ़ाने के लिए भी बहुत ही लाभदायक है । इनका उपयोग रोजाना सुबह शाम या वैध की सलाह से कर सकते हैं ।

पतंजलि बादाम पाक – यह दवा विभिन्न प्रकार की आयुर्वेदिक जड़ी बूटी जैसे शतावरी, शिलाजीत, अश्वगंधा एवं बादाम से बनाई जाती हैं । इनका उपयोग ब्रैस्ट बढ़ाने के साथ साथ अन्य रोगों के उपचार हेतु किया जाता हैं ।

पढ़े – पतंजलि ब्रेस्ट बढ़ाने की क्रीम । फिगर बढ़ाने की 10 आयुर्वेदिक क्रीम

लेडीज छाती ( ब्रैस्ट ) बढ़ाने के लिए आयुर्वेदिक तेल (Oil ) पतंजलि

ब्रैस्ट बढ़ाने के लिए पतंजलि के अलावा बैधनाथ एवं अन्य आयुर्वेदिक तेल उपलब्ध हैं जो कि बुक्स को बढ़ाने के लिए बहुत ही लाभकारी है । इन तेल का उपयोग करके आप अपने स्तनों को टाइट, सुंदर एवं सुडौल बना सकते हैं तो चलिए जानते है – पतंजलि ब्रैस्ट बढ़ाने की दवा oil के बारे में –

9. बैधनाथ श्रीपर्णी आयल  – यह तेल बैधनाथ कंपनी द्वारा निर्मित एक आयुर्वेदिक तेल हैं । यह तेल स्तनों में शेप लाने, हार्मोन नियंत्रित करने एवं ऊतकों को बढ़ाने के लिए उपयोगी है ।

10. धूतपपेश्वर शतावरी कल्प – धूतपापेश्वर फार्मेसी द्वारा निर्मित यह तेल महिलाओं के लिए किसी रामबाण से कम नहीं है । क्योंकि यह शतावरी नामक औषधि से तैयार होता है । यह महिलाओं में दूध बढ़ाने, स्तनों की साइज बढ़ाने एवं सुडौल बनाने के लिए कारगर है ।

11. कैराली आयुर्वेदा कैर बॉसोम आयल – यह तेल कैराली आयुर्वेदिक कंपनी द्वारा तैयार किया जाता है । यह 16 से अधिक आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों से निर्मित होता है । इसमें – गाय, भैस का घी, दूध, मधुपर्णी, प्रियंगु एवं शतग्रन्ढी जैसे तत्वो का समिश्रण किया गया है जो ब्रैस्ट की साइज बढाने के साथ साथ सुंदर एवं सुडौल बनाते हैं ।

अंतिम शब्द – आज के लेख पतंजलि ब्रेस्ट बढ़ाने की दवा oil में दी गई समस्त जानकारी का उद्देश्य शैक्षणिक हैं । इन तेल के नुकसान से बचने के लिए अत्यधिक इस्तेमाल न करे एवं यदि स्किन पर कोई दुष्प्रभाव जैसे काले धब्बे, खुजली आदि नजर आता है तो तुरंत इस्तेमाल करना बंद करे एवं डॉक्टर से सम्पर्क करे।