बेस्ट 9 महिलाओं के लिए टॉनिक Patanjali. आयुर्वेदिक

Mahilaon ke liye tonic patanjali.

महिलाओं के लिए टॉनिक Patanjali. आयुर्वेद भारत की बहुत ही प्राचीन चिकित्सा पद्धति है, इसने हमें कई जीवन रक्षक औषधियाँ प्रदान की हैं जो हमारे लिए बेहद उपयोगी हैं। ये शक्ति और सेहत को प्रदान कर हमारी अंदरूनी ताकत बढ़ाती हैं । इन औषधियों का हमारे शरीर पर कोई भी दुष्प्रभाव नहीं होता है। ये दवाएं महिलाओं की विभिन्न प्रकार की फिज़िकल प्रॉब्लम जैसे थकान, कमजोरी, पीरियड्स प्रॉब्लम के लिए लाभदायक होती हैं ।

महिलाएं परिवार की धुरी होती हैं, एक महिला के स्वास्थ्य से पूरे परिवार का स्वास्थ्य जुड़ा होता है। वह स्वस्थ्य रहकर ही अपने परिवार की अच्छी तरह से देखभाल कर सकती है। एक अच्छे स्वस्थ जीवन के लिए खानपान एवं योग व्यायाम की आवश्यकता होती है । साथ ही साथ कुछ दवाओं का सेवन कर सकती हैं जिससे बॉडी में विटामिन एवं मिनरल्स का लेवल बना रहे तो चलिए जानते है – महिलाओं की कमजोरी के लिए बेस्ट टॉनिक पतंजलि के बारे में –

पढें – इज़ोल टॉनिक के फायदे । Eazol health tonic uses in hindi.

महिलाओं के शरीर में कमजोरी के कारण

महिलाओं के शरीर में कमजोरी के कई कारण हो सकते हैं जिनमें मुख्य है-

  • सही खानपान का अभाव – सही खानपान का अभाव भी महिलाओं में कमजोरी का मुख्य कारण होता है। सब के स्वास्थ्य का ख्याल रखते हुए कई बार अपने स्वास्थ्य के प्रति लापरवाह हो जाती हैं और यही कमजोरी का मुख्य कारण होता है।
  • अत्याधिक काम का बोझ – अत्याधिक काम का बोझ भी महिलाओं की कमजोरी का एक कारण है कई बार काम के ज्यादा होने से उन्हें अपनी भूख का एहसास नहीं होता।
  • स्त्री जनित बीमारी – स्त्री जनित बीमारी भी महिलाओं के शरीर की कमजोरी का मुख्य कारण है।इसके साथ ही रक्त रोग, हृदय रोग एवं मानसिक रोग भी महिलाओं के शरीर को कमजोर बनाते हैं ।

पढ़े – अश्वशक्ति पाउडर के फायदे । Ashwashakti powder ke fayde.

महिलाओं के लिए टॉनिक Patanjali.

पतंजलि आयुर्वेद में भी कई टॉनिक उपलब्ध हैं जो महिलाओं की शारीरिक कमजोरी को दूर करने में सहायक सिद्ध होते हैं । यह दवाएं पतंजलि ब्रांड द्वारा विभिन्न आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों द्वारा तैयार की जाती हैं । इन दवाओं का कोई साइड इफेक्ट्स नहीं है फिर भी डॉक्टर की सलाह से सेवन करें ।

पढ़े – सफेद पानी का रामबाण इलाज । Lokpriya ka gharelu ilaaj.

महिलाओं के लिए टॉनिक Patanjali. पतंजलि अशोकारिष्ट |

यह एक आयुर्वेदिक औषधि है जो शरीर में हार्मोन के स्तर को संतुलित करता है। यह पीरियड से होने वाले दर्द से छुटकारा दिलाता है। यह विभिन्न प्रकार की आयुर्वेदिक जड़ी बूटी जैसे – आंवल, बहेड़ा, अडूसा, हरड़, चन्दन, अशोक, अदरक, नागरमोथा, जीरा, धताकी आदि जो महिलाओं की विभिन्न रोगों के रोकथाम के लिए कारगर है ।

यह महिलाओं के लिए सबसे बेस्ट टॉनिक पतंजलि की दवा हैं जो मासिक धर्म की समस्या जैसे अनियमिता, अधिक रक्तस्राव, दर्द, ऐठन, श्रोणी दर्द के साथ साथ रजोनिवृत्ति के लिए लाभदायक होती है । इसके अलावा नाक में खून बहना एवं खूनी बवासीर के लिए भी उपयोगी है । इसमें मल्टीविटामिन होते हैं जो उनके स्वास्थ्य को तेजी से सुधारते और ताकतवर बनाते हैं।

पढ़े – गुड हेल्थ कैप्सूल के फायदे । Good health capsule in hindi.

महिलाओं के लिए टॉनिक Patanjali. नारी सुधा । Patanjali Naari sudha.

पतंजलि नारी सुधा सिरप महिलाओं के लिए बहुत प्रभावी है। यह पीठ दर्द, सिर दर्द एवं अन्य विकारों को दूर कर सेहत प्रदान करती है। यह सब से प्रभावी टॉनिकों में से एक है । यह टॉनिक विभिन्न प्रकार की आयुर्वेदिक औषधियों जैसे अश्वगंधा, लोध्र, शतावरी, अशोक, धातकी, नागकेसर, लाल सुपारी, नागरमोथा, सौठ, आंवला, दारू हल्दी आदि के समिश्रण से तैयार की जाती है ।

इनका नियमित रूप से सेवन करने पर महिलाओं में पीरियड्स प्रॉब्लम, हैवी ब्लीडिंग, सफेद प्रदर, मांशपेशियों का दर्द, ऐठन, पीठ दर्द, कमजोरी व थकान दूर होती हैं । यह एनीमिया जैसे प्रॉब्लम को दूर करने के लिए लाभदायक है । इनका कोई साइड इफेक्ट्स नहीं है फिर भी अनुशासित खुराक सेवन करें ।

पढ़े – पीसीओडी का घरेलू उपचार । PCOD ka gharelu upay.

महिलाओं के लिए टॉनिक Patanjali.  Nutrela Women’s Superfood.

पतंजलि न्यूट्रेल वीमेन सुपरफूड एक ऐसा टॉनिक हैं जिसमे कैल्शियन एवं विटामिन डी की मात्रा भरपूर पाई जाती है । इनके अलावा विटामिन ए, ई, बी12 सहित कुल 19 प्रकार की विटामिन पाई जाती है । यह महिलाओ के लिए सबसे अच्छा टॉनिक हैं जो 13 भारतीय जड़ी बूटियों के समिश्रण से बनाया गया है जिसमे अगाथी, अश्वगंधा एवं मोरिंगा मुख्य हैं ।

इनका नियमित रूप से सेवन करने पर बॉडी में विटामिन एवं मिनरल्स की कमी पूरी होने के साथ साथ नई एनर्जी का संचार होता है । यह डिप्रेशन, स्विंग मूड, दिल की प्रॉब्लम के साथ साथ हार्मोन असन्तुलन की समस्या दूर होती है ।

यह कामकाजी महिलाओं के लिए रामबाण औषधि के रूप में कारगर सप्पलीमेंट हैं जो सेहत का ख्याल रखने के साथ साथ सुंदर बनाने में भी कारगर है ।

महिलाओं की कमजोरी के लिए आयुर्वेदिक टॉनिक ।

आज बाजार में महिलाओं की कमजोरी दूर करने के लिए कई आयुर्वेदिक टॉनिक उपलब्ध हैं और जो काफी हद तक असरकारक भी होते हैं। जिनमें मुख्य है –

1. सच्ची सहेली आयुर्वेदिक सिरप | Sachchai saheli Ayurvedic syrup.

महिलाओं की कमजोरी को दूर करने के लिए सच्ची सहेली आयुर्वेदिक टॉनिक भी काफी असरदार होता है। स्त्री रोग से संबंधित सभी विकारों को दूर कर उनकी आंतरिक सुरक्षा प्रणाली मजबूत बनाता है। यह शरीर की अंदरूनी सफाई भी करता है ।

Sachi Saheli Syrup में मौजूद आयुर्वेदिक गुणों से भरपूर घटक जैसे अशोक, आंवला, शतावर, दशमूल, शंखपुष्पी, अश्वगंधा, हरीतकी एवं अर्जुन आदि जो शारीरिक कमजोरी दूर करके एक नई ऊर्जा का संचार करते हैं ।

इस टॉनिक का नियम रूप से सेवन करने पर कमजोरी दूर होने के साथ साथ पेड़ू दर्द, पीरियड्स प्रॉब्लम, चिड़चिड़ापन, कमर दर्द के साथ साथ महिलाओ बाझपन की प्रॉब्लम दूर होती हैं । इनका सेवन अधिकतम 3 महीने तक रोजाना एक – एक छोटी चम्मच सुबह शाम कर सकते है । इनका कोई साइड इफेक्ट्स नहीं है फिर डॉक्टर की सलाह अवश्य ले ।

2. दिव्य नारी सिरप । Divya Nari Tonic.

यह टॉनिक लाल रक्त कोशिकाओं एवं हीमोग्लोबिन को बढ़ाता है। शक्ति को भी बढ़ाता है। यह पाचन शक्ति में सुधार कर भूख को बढ़ाता है । इसमें कोई रासायनिक पदार्थ नहीं होता है। पेट दर्द एवं दुर्बलता से भी मुक्ति दिलाता है।

Divya Naari tonic विभिन्न प्रकार की आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों के समिश्रण से तैयार किया जाता हैं जो बॉडी में एनर्जी लेवल को बढ़ाकर स्फूर्ति बनाये रखने में कारगर है । यह महिलाओं में सफेद पानी ( लिकोरिया ) को रोकने के लिए उपयोगी दवा है । यह पाचन शक्ति को सुधार कर भूख बढ़ाने में उपयोगी है । इसमें उपस्थित विटामिन एवं मिनरल्स हमेशा स्वस्थ रखने में मददगार होते है ।

पढ़े – डिलीवरी के बाद खानपान । Pregnancy ke baad kya khaye.

महिलाओं के लिए आयुर्वेदिक टॉनिक – चहक वीमेन सिरप | Chahak women syrup.

वूमनसेरा महिलाओं के स्वास्थ्य की अच्छी तरह देखभाल कर उनकी कमजोरी दूर करता है। इसमें ज्यादातर प्राकृतिक अवयव का मिश्रण होता है जो हार्मोन को संतुलित रखता है ।

Charak Alka 5 Syrup प्राकृतिक गुणों से भरपूर विभिन्न आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों जैसे धनिया, जीरा, गोखरू आदि के समिश्रण से तैयार किया जाता हैं । जो महिलाओं में होने वाली यूरिन इंफेक्शन, चोट, सूजन एवं पथरी के इलाज के लिए कारगर है । इनका नियमित रूप से सेवन करने पर प्रजजन क्षमता के विकारों से भी राहत मिलती हैं ।

महिलाओं के लिए सिरप – हेमपुष्पा | Hempushpa syrup.

यह एक प्रसिद्ध आयुर्वेदिक टॉनिक है, जो महिलाओं के लिए अत्यंत आवश्यक है। यह अंदरूनी विकार, कष्ट, स्त्री रोग एवं हार्मोन असंतुलन को दूर करके स्वास्थ्य शक्ति व सेहत प्रदान करती है। यह बेकार के अंदरूनी रक्तस्राव को भी दूर करती है ।

Hempushpa आयुर्वेदिक मुख्य रूप से विभिन्न जड़ी बूटियों जैसे अश्वगंधा, शतावरी, शंखपुष्पी, लोध्र, बाला, अनन्तमूल, पुनर्नवा, गमभारी, मंजिष्ठा आदि जो महिलाओं की कमजोरी दूर करने के लिए कारगर है । इनका नियमित रूप से सेवन करने से हार्मोन असन्तुलन जैसी प्रॉब्लम दूर होती हैं ।

महिलाओं की कमजोरी की दवा – मुल्तानी सुंदरी जीवन | Multani Sundari Jiwan.

मुल्तानी सुंदरी जीवन में सभी प्राकृतिक अवयवों का मिश्रण होता है जैसे अश्वगंधा, शतावरी, सफेद मूसली, अशोक छाल, गोक्षुर, अनन्तमूल, गंभीर भूरी, शंखपुष्पी आदि । जो महिलाओं में कमजोरी, एनीमिया, भूख न लगना, मतली इत्यादि की शिकायत को दूर करती है।

यह ( महिलाओं के लिए टॉनिक Patanjali. ) प्राकृतिक गुणों से भरपूर होने के कारण किसी भी प्रकार के दुष्प्रभाव देखने को मिले । इनका नियमित रूप से सेवन करने पर शारीरिक कमजोरी दूर करके नई ऊर्जा का संचार करती है । इनका सेवन भोजन के उपरांत अनुशासित खुराक के रूप में सेवन की जा सकती हैं ।

पढ़े – केएमसी के फायदे । kangaroo mother care benefits in hindi.

औरत की कमजोरी की दवा घरेलू उपाय

महिलाओं के शरीर की कमजोरी दूर करने के लिए कई घरेलू उपाय भी होते हैं जो तेजी से असर दिखाते हैं-

  • दूध का सेवन – शारीरिक कमजोरी के लिए दूध का सेवन सबसे अधिक फायदेमंद होता है, इसमें कैल्शियम, प्रोटीन, विटामिन बी होता है जो हड्डियों को मजबूत रखता है। दूध में शहद, अंजीर या बारीक कटे मेवे डालकर सेवन करने से अत्याधिक आराम मिलता है। पानी का भी अधिक से अधिक सेवन करें।
  • आंवला का सेवन – आंवले में विटामिन सी, कैल्शियम, आयरन, प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट प्रचुर मात्रा में होता है अतः इसके सेवन से कमजोरी जल्दी ही दूर हो जाती है।
  • हरी सब्जियों का सेवन – हरी सब्जियां जैसे पालक, लौकी एवं समस्त प्रकार की भाजी का सेवन महिलाओं की कमजोरी को दूर करने में अत्याधिक सहायक होता है । पालक, लौकी, टमाटर का सूप बनाकर गरमा गरम सेवन करने से अत्याधिक फायदा मिलता है।
  • सुबह शाम की सैर – अपनी शक्ति एवं सेहत अनुसार सुबह शाम की सैर से भी शारीरिक कमजोरी में फायदा होता है इससे भूख भी खुलती है।
  • फलों का सेवन – सभी प्रकार के फल शरीर की कमजोरी दूर करने में सहायक होते हैं। केले का मुख्य रूप से सेवन करना चाहिए। यह हमारे शरीर को दुगनी ताकत प्रदान करता है। गर्मी में फलों के रस एवं गन्ने के रस का सेवन अधिक फायदेमंद होता है।

महिलाओं में कमजोरी के लक्षण –

महिलाओं में कमजोरी के निम्नांकित लक्षण हो सकते हैं –

  • चक्कर आना,
  • भूख न लगना,
  • लगातार वजन गिरना,
  • शरीर की त्वचा का क्षीण होना,
  • आंख की नजर कमजोर होना,
  • पीरियड्स का अनियमित होना,
  • स्वभाव में चिड़चिड़ापन आदि ।

निष्कर्ष – ऊपर दिए गए आयुर्वेदिक टॉनिकों ( Mahilaon ke liye tonic Patanjali. )  का प्रयोग कर महिलाएं अपने शरीर की कमजोरी को जल्द से जल्द ठीक कर सकती हैं और अपने साथ परिवार के स्वास्थ्य का भी ध्यान रख सकतीं हैं ।। साधना छिरोल्या, दमोह (म.प्र.) ।।

Leave a Comment