जल्दी मुक्ति के लिए हिमालय दवा – 7 आयुर्वेदिक दवा himalaya

Jaldi mukti ke liye himalaya ki dawa.

जल्दी मुक्ति के लिए हिमालय दवा ( Jaldi mukti ke liye himalaya ki dawa. ) जल्दी मुक्ति की प्रॉब्लम आजकल तेजी से बढ़ रही है । असल मे गलत खानपान एवं हेल्थ केयर के वगैरह यह समस्या ज्यादा बढ़ रही है । जल्दी मुक्ति का मतलब फिज़िकल रिलेशन बनाने के दौरान स्पर्म 1 से 2 मिनट की अवधि में निकल जाता है । कुछ लोगों में डालते ही गिर जाता है की प्रॉब्लम होती है ।

चिकित्सा की भाषा इसे शीघ्रपतन या शीघ्र स्खलन ( Premature ejaculation ) भी कहा जाता है । लेकिन यह कोई बड़ी बीमारी या रोग नहीं है बल्कि एक प्रॉब्लम है जो फिज़िकल रिलेशन बनाने के दौरान होती है । इस प्रॉब्लम की वजह से शारिरिक कई लोगों को मानसिक रूप से परेशानी उठानी पड़ती है । एक शोध के अनुसार दुनियाभर के लगभग 30 से 40 फीसदी पुरुषों में पाई जाती है । इस जल्दी मुक्ति ( शीघ्रपतन ) को रोकने के लिए उचित खानपान एवं दवाओं की आवश्यकता होती है । तो चलिए जानते – जल्दी मुक्ति के बारे में – Jaldi mukti ke liye himalaya ki dawa.

पढ़े – ईडी बूस्टर कैप्सूल । ED booster capsule uses in hindi.

जल्दी मुक्ति के कारण । Shighrapatan kyo hota hai.

बदलते हुए वक्त ने न केवल हमारी संस्कृति बल्कि खानपान को भी बदलकर रख दिया है । जिससे अनेको बीमारियों ने पाव पसार रही हैं । वही व्यवस्थित जीवनशैली ने आग में घी जैसा कार्य किया है । शीघ्र पतन की समस्या भी इनमें से एक है । एक्सपर्ट के अनुसार शीघ्र स्खलन ( जल्दी मुक्ति ) के अनुसार निम्न कारण हो सकते है –

  • अत्यधिक तनाव
  • अति उत्तेजना
  • शारिरिक कमजोरी
  • अश्लीलता

किसी तरह की गम्भीर बीमारी जैसे हार्ट अटैक, उच्च कोलेस्ट्रॉल, उच्च रक्तचाप एवं डाइबिटीज की बीमारी के कारण जल्दी मुक्ति की समस्या होती हैं ।

पढ़े – अश्वशक्ति पाउडर के फायदे नुकसान । Ashwashakti powder ke fayde.

जल्दी मुक्ति के लिए हिमालय दवा ।

शीघ्रपतन की दवा के रूप में अनेकों ब्रांड मार्केट में उपलब्ध है । उनमें से हिमालय नामक ब्रांड भी एक है । इनकी दवाएं काफी इफेक्टिव मानी जाती है । शीघ्रपतन या शीघ्रस्खलन के रामबाण इलाज के रूप में विभिन्न प्रकार की आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों को चिकित्सा पद्धति से उपयोग किया जाता है । तो चलिए जानते है – जल्दी मुक्ति के लिए हिमालय की दवा के बारे में –

जल्दी मुक्ति के लिए हिमालय की दवा । Himalaya Cofido tablet.

जल्दी मुक्ति के लिए हिमालय कोंफिड़ो टैबलेट एक रामबाण दवा है । यह विभिन्न प्रकार की आयुर्वेदिक औषधियों द्वारा निर्मित होती है । जो लैंगिक प्रॉब्लम के लिए उपयोगी होती है । कामेच्छा की कमी, जल्दी झड़ना एवं शीघ्रपतन जैसी प्राइवेट प्रॉब्लम के इलाज के रूप में इनका उपयोग किया जाता है ।

हिमालय कॉफिडो टेबलेट का उपयोग नियमित रूप से अधिकतम 3 माह तक सेवन करना लाभकारी होता है । इन टेबलेट को डॉक्टर की सलाह से या सुबह शाम एक – एक टेबलेट सेवन कर सकते हैं । अधिक खुराक लेने से इनके साइड इफेक्ट्स हो सकते है ।

पढ़े – इज़ोल टॉनिक के फायदे । Eazol health tonic uses in hindi.

जल्दी मुक्ति के लिए हिमालय दवा । Himalaya Ashwagandha tablet.

हिमालय ब्रांड की यह अश्वगंधा टेबलेट शारीरिक दुर्बलता दूर करने के लिए उपयोगी हैं । इसमे उपस्थित अश्वगंधा सफेद रक्त कोशिकाओं ( WBC ) के लिए उपयोगी होता है । यह रोग प्रतिरोधी क्षमता को बढ़ाता है । इस मौजूद अश्वगंधा आपकी नींद पैर्टन को निरन्तर बनाये रखता है । एक्सपर्ट के अनुसार अश्वगंधा अधिक कोर्टिसोल स्राव को कंट्रोल करता है ।

इसी गुणों के आधार पर यह टेबलेट न केवल शारीरिक दुर्बलता दूर करके थकान एवं कमजोरी दूर करने में सहायक है । एक वयस्क व्यक्ति इनका सेवन सुबह शाम या डॉक्टर के परामर्श के अनुसार कर सकता है ।

Himalaya Herbal Gokshura tablet. | हिमालय हर्बल गोक्षुरा टेबलेट – शीघ्रपतन की दवा

गोक्षुर आयुर्वेद की सबसे प्रभावशाली जड़ी बूटियों में से एक है । इस जड़ी बूटी का उपयोग यौन दुर्बलता के लिए किया जाता है । हिमालय हर्बल गोक्षुरा टेबलेट में शत प्रतिशत गोक्षुरा अर्क से तैयार की जाती हैं । यह स्तम्भ दोष या नपुंसकता या नामर्द को मर्द बनाने वाली रामबाण दवा में से एक है ।

इस टेबलेट का उपयोग डॉक्टर से परामर्श के उपरांत ही करना चाहिए अन्यथा नुकसानदेह हो सकती है । इसी प्रकार प्रेग्नेंसी एवं स्तनपान के दौरान इनका सेवन करने से परहेज करें । क्योंकि इनके प्रत्येक टेबलेट/ कैप्सूल में 250mg का गोक्षुरादि अर्क पाया जाता है । इनकी अधिक डोज़ लेना भी नुकसानदेह हो सकता है ।

पढ़े – डालते ही गिर जाता हैं घरेलू उपाय । 2 घण्टे तक पानी नहीं निकलेगा

Himalaya Tentex Forte Tablet. हिमालय टेंटेक्स फोर्ट टैबलेट – शीघ्रपतन की दवा –

यह टेबलेट पुरुषों में कामोत्तेजना बढ़ाने वाली हिमालय दवा है । टेंटेक्स फोर्ट टैबलेट यौन क्रिया को बेहतर बनाने के लिए यौन विकारो की दूर करती हैं । यह लिंग के ऊतकों को मजबूत करने के साथ साथ नसों की कमजोरी को दूर करने में सहायक होती हैं । यह टेस्टोस्टेरोन लेवल को बेहतर बनाकर नपुंसकता जैसे रोगों के लिए भी लाभकारी दवा है ।

इस टेबलेट की खुराक ज्यादातर फिज़िकल स्थिति पर निर्भर करती हैं लेकिन सामान्य रूप से 3 से 4 सप्ताह तक सुबह शाम एक एक टेबलेट सेवन कर सकते है । उसके बाद रोजाना एक टेबलेट की खुराक लेना उचित है । इनकी ओवरडोज नुकसान पहुंचा सकती हैं । इनके नुकसान नींद की कमी, बीपी, चक्कर आना जैसे हो सकते है ।

Himalaya हिमकोलिन जेल – शीघ्रपतन की दवा हिमालय –

यह हिमालय द्वारा निर्मित लिंग मसाज जेल हैं । इसमे अनेक प्रकार की आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों जैसे जातिफलम, करपासा, लवंगा, ताजा, मुकुलका, जातिपात्री, ज्योतिष्माती, लतखस्तुरी, निर्गंडी एवं बठदा आदि के मिश्रण से तैयार की जाती हैं । जो सेक्स क्षमता को बेहतर बनाता है । यह लिंग की नसों को उत्तेजित करने में मददगार होता है ।

इनका उपयोग फिज़िकल रिलेशन बनाने के करीब 20 मिनट पहले लिंग पर 1 से 2 मिनट तक हल्के हाथों से मसाज करें । यह पेनिस की नसों को आराम देकर उनमें खोई हुई शक्ति को पुनः लौटाता हैं । इनके पैकेट पर पूरी जानकारी को पढ़कर इस्तेमाल करें ।

हिमालय speman । Himalaya Speman Tablet. शीघ्रस्खलन की दवा –

हिमालय कंपनी द्वारा निर्मित बेहतरीन आयुर्वेदिक दवा है । इनका उपयोग विभिन्न प्रकार के यौन विकारो जैसे शुक्राणुओं की कमी, कामेच्छा की कमी, नपुंसकता के लिए किया जाता है । यह पुरुषों के लिए रामबाण औषधि है । इसमें आयुर्वेदिक औषधियों जैसे कौच, कोकिलक्षा, गोखरू आदि से तैयार की जाती हैं ।

इनकी खुराक लिंग, आयु के आधार पर अलग अलग हो सकती हैं । सामान्य रूप से एक वयस्क व्यक्ति दिन 2 बार सुबह शाम एक एक टेबलेट सेवन कर सकता है । इस दवा की अवधि अधिकतम 6 माह या डॉक्टर की सलाह के अनुसार ले सकते है ।

जल्दी मुक्ति समस्या के लिए आयुर्वेदिक दवा Himalaya.

आयुर्वेद में जल्दी मुक्ति की समस्या का रामबाण इलाज हैं । आयुर्वेद चिकित्सा पद्धति के अनुसार मरीज़ को कुछ आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों का सेवन करने के हेतु दी जाती हैं जो इस प्रकार है –

  1. जातिफल – यह एक आयुर्वेदिक तीखी जड़ी बूटी हैं । इनके तेल में हवा से उड़ने वाले एवं न उड़ने वाले दोनों ही तत्व पाए जाते है । इनका उपयोग कफ वात के साथ साथ अतिसार एवं शुक्रघात नामक रोगों के लिए उपयोग किया जाता हैं ।
  2. एरंड – यह वात रोग के लिए रामबाण औषधि है । यह मूत्राशय एवं प्रजजन प्रणाली के सुधार का कार्य करती हैं । यह शीघ्रपतन, मूत्राशय में पथरी, पीलिया एवं कब्ज के इलाज के लिए लाभकारी है । महिलाओं में मासिक धर्म चक्र को बढ़ाती है ।
  3. शतावरी – आयुर्वेद के अनुसार यह कामोउत्तेजक गुणों से भरपूर होती हैं । यह प्रजजन से सम्बंधित समस्याओ के लिए रामबाण औषधि के रूप में कार्य करती हैं । यह लिकोरिया, नपुंसकता, बाझपन के साथ साथ यौन विकारो को दूर करने में सहायक होती है । यह खून साफ करने में उपयोगी औषधि है ।
  4. ब्राह्मी – आयुर्वेद के अनुसार यह प्रजजन एवं पाचन क्षमता बढ़ाने की रामबाण औषधि है । यह नसों के विकार को दूर करती है । यह गठिया, आंत्र विकार, स्किन प्रॉब्लम, शीघ्र स्खलन, लिवर एवं तंत्रिका विकारो को दूर करने के लिए लाभकारी औषधि है । इनका सेवन चूर्ण, अर्क एवं काढ़े के रूप में कर सकते है ।

शीघ्रस्खलन के आयुर्वेदिक दवा Himalaya.

नरसिम्हा चूर्ण – शीघ्रपतन या जल्दी मुक्ति की दवा के रूप में नरसिम्हा चूर्ण एक रामबाण औषधि है । इसे शतावरी, पिपली, चित्रक की जड़, गोक्षुरादि, सौठ, शहद, चीनी, गुडूची एवं तिल जैसी कई आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों के मिश्रण से तैयार किया जाता है । यह चूर्ण शीघ्र स्खलन एवं यौन विकारो को दूर करता है ।

वानरी कल्प – यह विभिन्न प्रकार की औषधियों जैसे कौंच, चीनी, गाय का दूध व घी से बनाया जाता है । इसमें उपस्थित तत्व उत्तेजना, नपुंसकता, पेनिस की नसों की कमजोरी को दूर करता हैं । वही जल्दी मुक्ति या शीघ्रपतन की प्रॉब्लम से राहत मिलती है ।

पढ़े – जिसका खड़ा नहीं होता उसकी दवा ।

अंतिम शब्द – आज के लेख में जल्दी मुक्ति के लिए हिमालय की दवा के रूप में बताई गई औषधियों व दवाओं का सेवन चिकित्सा दिशा निर्देश के अनुसार सेवन करें । अधिक तर दवाएं मार्केट पैकेट के रूप में उपलब्ध हो जाएगी । जिस सेवन करने की विधि के बारे में बताया गया है । किसी प्रकार साइड इफेक्ट्स होने पर तुरंत डॉक्टर से परामर्श करें ।