एचआईवी के लक्षण, कारण व इलाज । HIV symptoms in hindi.

HIV symptoms in hindi.

HIV symptoms in hindi. HIV / AIDS का नाम सुनकर अधिकतर लोग सकते में पड़ जाते है । क्योंकि यह एक ऐसा रोग है जिनका अभी तक कोई इलाज नहीं है । HIV का संक्रमण बॉडी के तरल पदार्थ जैसे खून, वीर्य, स्तनपान से एक से दूसरे लोगों में फैलता है । HIV के कुल चार चरण होते है जैसे उष्मायन काल, तीव्र संक्रमण, विलंब चरण और अंत मे एड्स ।


शुरुआती दिनों में यानी संक्रमित होने के 2 से 6 हप्ते में फ्लू जैसे सामान्य लक्षण ( HIV symptoms in hindi. ) नजर आते है जैसे फीवर, सर्दी जुकाम, थकान, लिंफ नॉड्स में सूजन, दर्द आदि । इसलिए आवश्यक है इनके शुरुआती लक्षण HIV Symptoms in Hindi. को ध्यान में रखकर टेस्ट करके बचा जा सकता है ।

एच आई वी दिवस । WORLD AIDS DAY in hindi.

HIV AIDS एक ऐसा संक्रमण है जो शरीर के इम्मयून सिस्टम को कमजोर करता है । और धीरे धीरे शरीर को अनेकों बीमारियां घेर लेती है । इस रोग का आम कारण असुरक्षित यौन संबंध है । HIV 1 और HIV 2 के बाद यूएनएड्स के अध्ययन में एचआईवी वेरिएंट सामने आया है जिनका नाम subtype है जो तेजी से इम्मयून सिस्टम पर हमला करता है ।

पिछले 2 दर्शकों से HIV संक्रमण की दर में इजाफा हुआ है । यूएनएड्स के अनुसार वर्तमान में करीब 3 करोड़ 80 लाख लोग एड्स के साथ जीवन व्यतीत कर रहे है । वही अब तक 3 करोड़ 60 लाख लोग मौत की चपेट में आ चुके हैं । जन जागरूकता लाने के उद्देश्य से प्रति वर्ष 1 दिसम्बर को WORLD AIDS DAY मनाया जाता है हालांकि इसे घबराने की आवश्यकता नहीं है एच आई वी से संक्रमित व्यक्ति अपनी जीवन शैली में बदलाव करके लंबा जीवन जिया जा सकता है तो चलिए जानते है – HIV symptoms in Hindi.

Also read

ऑटिज्म के कारण, लक्षण व बचाव । Autism meaning in hindi.

ईजॉल हेल्थ टॉनिक के फायदे नुकसान । Eazol health tonic uses


एचआईवी क्या है ? What is HIV in hindi.


HIV यानी Human Immunodeficiency Virus । एचआईवी एक प्रकार का वायरस होता है जो इम्यून सिस्टम को कमजोर कर देता है। एचआईवी शरीर में मौजूबद cd4 कोशिकाओं को नष्ट करने का कार्य करता है cd4 कोशिकाओं को T सैल या T कोशिका भी कहा जाता है । ये एक प्रकार की प्रतिरक्षा कोशिकाएं होती हैं । समय बीतने के साथ साथ एचआईवी वायरस जैसे cd4 या प्रतिरक्षा कोशिकाओं को नष्ट करता जाता है वैसे वैसे शरीर कई बीमारियों की चपेट में आना शुरू हो जाता है।


शोध के अनुसार इस बात का खुलासा किया है कि एक स्वस्थ बेशक के शरीर में लगभग 500-1600 पर क्यूबिक मिली मीटर cd4 कोशिकाएं पाई जाती है । एचआईवी पीड़ित ऐसा व्यक्ति जिसके शरीर में cd4 कोशिकाओं का स्तर 200 पर क्यूबिक मिलीमीटर हो जाता है तो उसे एड्स से पीड़ित माना जाता है एड्स का कारण सिर्फ एचआईवी ही नहीं होता बल्कि अनेको बीमारियों में AIDS की स्थिति पैदा हो सकती है।


एड्स क्या है ? AIDS full form in hindi.


एड्स का मतलब Acquired Immuno Deficiency Syndrome ( AIDS ) होता है । एड्स एक प्रकार की स्थिति है जिसमें शरीर का इम्यून सिस्टम कमजोर हो जाता है । जिससे कि शरीर बीमारियों से लड़ने में असमर्थ हो जाता है यदि कोई व्यक्ति कैंसर जैसी भयानक बीमारी से पीड़ित है तो उसके शरीर में भी एड्स हो सकता है अर्थात उसका प्रतिरक्षा तंत्र कमजोर हो सकता है लेकिन यह एक दुर्लभ खेती होती है।


एच आई वी एड्स के जोखिम । Side effects of HIV AIDS in Hindi.

● न्युमोनिया

● टयुबरकलोसिस या टी बी

● कैंसर

● क्रिप्टोस्पोरिडियोसिस (आँतों में पाया जाने वाले परजीवी के कारण होने वाली समस्या)

● टोक्सोप्लाज्मोसिस (मस्तिष्क से सम्बधित समस्या जो एक परजीवी से होती है)

● क्रिप्टोकोकस मेनिनजाइटिस (मस्तिष्क को होने वाला एक प्रकार का फंगल इन्फैक्शन)

● ओरल थरस (मुंह और गले में होने वाला एक प्रकार का फंगल इन्फैक्शन)

एचआईवी एड्स कैसे फैलता है ? Causes of HIV AIDS in Hindi.

खून के द्वारा – यदि कोई व्यक्ति एचआईवी पीड़ित है और वह किसी स्वस्थ व्यक्ति को खून डोनेट करता है या किसी एचआईवी पीड़ित व्यक्ति का खून चढ़ाया जाता है तो उस स्वस्थ व्यक्ति के शरीर में एचआईवी वायरस प्रवेश कर जाता है।

स्तनपान के द्वारा – HIV पीड़ित माता के दूध मे HIV वायरस मौजूद होता है। यदि एचआईवी पीड़ित माता अपने शिशु को स्तनपान कराती है तो शिशु को एचआईवी का संक्रमण हो सकता है।

सीमेन या वीर्य के द्वारा – यदि किसी एचआईवी पीड़ित व्यक्ति का सीमेन किसी नॉर्मल अथवा स्वस्थ स्त्री के शरीर में जाता है तो ऐसे में एचआईवी का संक्रमण हो सकता है। HIV symptoms in hindi.

योनि या वैजाइनल तरल के द्वारा – स्त्रियों की योनि में एक चिपचिपा तरल पदार्थ पाया जाता है यदि वह महिला एचआईवी पीड़ित है तो इस तरल पदार्थ में एचआईवी वायरस मौजूद होता है ।ऐसे में यदि महिला किसी पुरुष के साथ संबंध बनाती है तो उस पुरुष को भी एचआईवी होने का खतरा बढ़ जाता है।

असुरक्षित यौन संबंधों के द्वारा – असुरक्षित यौन संबंधों के द्वारा एचआईवी संक्रमण का खतरा बहुत बढ़ जाता है क्योंकि एचआईवी से पीड़ित व्यक्ति के खून में, सीमेन में और वेजाइनल फ्लुड में एचआईवी वायरस होता है ऐसे में यदि असुरक्षित यौन संबंध स्थापित किए जाए तो एचआईवी संक्रमण का खतरा बढ़ जाता हैं।

नशीली दवाओं और इन्जैक्शन के द्वारा – एचआईवी संक्रमित सीरिंज या सूई का दूसरों के द्वारा प्रयोग करने से भी एचआईवी वायरस का खतरा बढ़ जाता है। अतः बचना चाहिए।

एचआईवी पॉजिटिव संक्रमण के लक्षण । HIV symptoms in Hindi.


एचआईवी पॉजिटिव व्यक्ति में प्रमुख रूप लक्षण कुछ इस प्रकार है – HIV symptoms in hindi.

● गले या बगल में सूजन भरे गिल्टियों का हो जाना ।

● लगातार कई कई हफ्ते अतिसार घटते जाना ।

● लगातार कई कई हफ्ते बुखार रहना ।

● कई दिनों तक खांसी रहना ।

● बिना किसी कारण वजन घटते जाना।

● मुंह में घाव हो जाना ।

● त्वचा पर दर्द भरे और खुजली वाले चकते हो जाना।


महिलाओं में एच आई वी के लक्षण । HIV symptoms in woman.


पुरुषों की तुलना में महिलाओं में HIV symptoms in hindi. कुछ अलग होते है । एक बार पॉजिटिव होने के बाद ये लक्षण महिलाओं में जल्दी ही नजर आते हैं तो चलिए जानते है – HIV Symptoms in hindi. –
पीरियड में बदलाव – एच आई वी पॉजिटिव होने के बाद महिलाओं के पीरियड्स में बदलाव हो जाता है । जैसे कभी कभी महीने में 2 बार पीरियड आना, या कभी समय पर या कभी समय से पहले आदि । इसी प्रकार पीरियड के दौरान ब्लीडिंग कम या अधिक होना जैसे प्रॉब्लम भी शामिल है । कुछ महिलाओं में पीरियड्स बंद होने की संभावना रहती है ।


● भूख कम लगना एवं वजन घटना – HIV से ग्रसित होने पर इस वायरस के प्रभाव से आपके खानपान पर इफेक्ट्स पड़ता है । यानी भूख बहुत कम लगेगी । पोषक तत्वों के अवशोषण में बाधा उत्पन्न होती है और आपका वजन कम होने लगता है । यह कॉमन HIV symptoms in Hindi. लक्षण है ।
पेट की प्रॉब्लम – एच आई वी पॉजिटिव व्यक्ति में पेट मे कोई न कोई प्रॉब्लम बनी रहती है जैसे कोई दर्द, उल्टी की प्रॉब्लम आदि ।

HIV ke Lakshan in hindi.


लिंफ नोड्स में सूजन – यह HIV symptoms in hindi में से एक है । लिंफ नोड्स हमारे शरीर के इम्मयून सिस्टम का हिस्सा होता है । क्योंकि इसमें इम्मयून सेल्स संग्रहित होते हैं । ये हमारे शरीर में सिर के पीछे यानी गर्दन में, कमर में एवं आर्मपिट्स में स्थित होते है । जब कोई व्यक्ति HIV पॉजिटिव होता है तो इन लिंफ नोड्स को प्रभावित करता है जिसमें सूजन या कोई बदलाव हो जाता है ।
लम्बे समय तक बुखार रहना – हमेशा बुखार जैसी स्थिति HIV पॉजिटिव हो यह जरूरी नहीं है । मगर जब संक्रमण होता हैं तो शुरुआती दौर में हल्का बुखार रहता है क्योंकि बॉडी का इम्मयून सिस्टम संक्रमण से लड़ती है ।


थकान एवं नींद आना – HIV पॉजिटिव होने थकान महसूस होती है । हरपल नींद आने जैसा लगता है । हालांकि यह लक्षण एचआईवी संक्रमण के लिए पर्याप्त नहीं है क्योंकि आज के भागदौड़ भरी जिंदगी में यह सब कॉमन है । HIV symptoms in Hindi.
शरीर में रैशेज होना – HIV पॉजिटिव होने पर शरीर में लाल रैशेज नजर आने लगते है और उन पर खुजली होना यह एक कॉमन लक्षण है । इस प्रकार के कोई भी लक्षण नजर आने पर डॉक्टर से अनिवार्य रूप से सम्पर्क करें ।

पुरुषों में एचआईवी के लक्षण । HIV symptoms in man.


महिलाओं की तरह पुरुषों में HIV/AIDS के लक्षणों में कुछ भिन्नता पाई जाती है । हालांकि कुछ लक्षण में कॉमन होते है मगर कुछ भिन्नता इस प्रकार से है – HIV symptoms in hindi.
तनाव – हर वक़्त अनावश्यक रूप से तनाव से ग्रसित होना भी HIV संक्रमण की ओर इशारा करता है । हालांकि ये लक्षण काफी नहीं है । मगर बिना रोना, अनावश्यक तनाव लेना या माइग्रेन जैसी स्थिति दिखाई देती है ।


सूखी खांसी एवं जुकाम – HIV संक्रमण होने पर हमेशा सूखी खांसी एवं जुकाम जैसे स्थिति बनी रहती है । मौसम चाहे कोई भी हो यह स्थितियां सामान्य नहीं होती है जैसे सूखी खांसी, मुह का स्वाद बिगड़ना, उल्टी होना, बलगम में खून आना एवं सर्दी जुकाम आदि लक्षण दिखाई देते है । HIV symptoms in Hindi.
सर दर्द एवं गले का पकना – एच आई वी से ग्रसित व्यक्ति के सर दर्द की प्रॉब्लम बनी रहती है । बिना किसी कारण या बेमौसम भी गले में खराश या पकन होती है ।


मांशपेशियों में खिंचाव एवं जोड़ो में दर्द व सूजन – HIV से ग्रसित होने पर व्यक्ति के शरीर की मांशपेशियों में खिंचाव महसूस होता है । बिना किसी शारिरिक परिश्रम से मांशपेशियों में अकड़न महसूस होती है । जोड़ो में दर्द होता है । कभी कभी तो सूजन भी नजर आती है ।


अन्य लक्षण – महिलाओं की तुलना में कुछ अन्य लक्षणों ( HIV symptoms in hindi ) में थकान, वजन कम होना, लाल रेशेज होना, न्यूमोनिया या टीबी आदि । इस प्रकार के लक्षण दिखाई देने पर तुरंत डॉक्टर से परामर्श ले ।


बच्चों में एचआईवी के लक्षण । HIV symptoms in kids.


महिला पुरुषों की तरह बच्चों में भी HIV symptoms in hindi में कुछ भिन्नता पाई जाती है । unicef की रिपोर्ट के मुताबिक प्रति मिनट एक बच्चा HIV पॉजिटिव होता है । एक अनुमान के अनुसार साल 2020 में लगभग 1.94 मिलियन बच्चे इस बीमारी से संक्रमित हुए । इसमे 20 साल की उम्र तक बच्चे शामिल है ।


बच्चों में HIV के लक्षण कभी कभी नार्मल फ्लू जैसे नजर आते हैं जैसे पेट की प्रॉब्लम, किडनी डिजीज, डायरिया, निमोनिया, कमर व लिंफ नोड्स में सूजन, किसी चीज़ को उठाने व फेंकने में परेशानी, कान में संक्रमण आदि । हालांकि कुछ लक्षणों को HIV AIDS के साथ जोड़कर देखना जल्दबाजी होगी । इसलिए डॉक्टर से परामर्श जरूरी समझे ।

HIV test in hindi.


एचआईवी टेस्ट price । HIV test in hindi.


एच आई वी के शुरुआती लक्षणों HIV symptoms in hindi. को ध्यान में रखकर कुछ टेस्ट करवाने की आवश्यकता होती है ताकि यह पता लग जाए कि क्या वाकई में HIV पॉजिटिव है । क्योंकि कुछ लक्षण सामान्य है जो अन्य बीमारियों में भी पाए जाते है । अगर हम HIV test kit price की बात करे तो सरकारी अस्पतालों में सभी टेस्ट निःशुल्क है और लगभग मामलों की जांच सरकारी अस्पतालों में गोपनीयता के साथ फ्री की जाती है । HIV test निम्न प्रकार के पाए जाते है –


रैपिड टेस्ट किट – यह एक ऐसा HIV test kit है जो प्रायः सभी स्वास्थ्य एवं आंगनवाड़ी केंद्रों पर निशुल्क उपलब्ध कराया जाता है । यह केवल 15 – 20 मिनट में HIV का परिणाम दे देता है । यह प्राइमरी टेस्ट किट है । यदि इस टेस्ट में व्यक्ति पॉजिटिव पाया जाता है तो आगे के टेस्ट किए जाते हैं ।


एलिसा टेस्ट – जब पहले टेस्ट में पॉजिटिव आने के बाद फिर से पुष्टि करने के लिए एलिसा टेस्ट किया जाता है । इस टेस्ट का परिणाम 2 से 3 घण्टो में प्राप्त होता है । इस एचआईवी एंटीबॉडी टेस्ट में यदि कोई मरीज़ नेगेटिव आता है तो आगे के टेस्ट करने की आवश्यकता नहीं होती है । मगर पॉजिटिव की स्थिति में अगले टेस्ट की ओर बढ़ना होगा । निजी अस्पताल में इस टेस्ट की कीमत 1500 से 2000 रुपए है ।

HIV test in hindi.


वेस्टर्न ब्लॉट – यह भी एक और HIV पुष्टिकरण टेस्ट है । वेस्टर्न ब्लॉट में HIV नाइट्रोसेल्यूलोज पेपर पर अवशोषित हो जाते हैं जिस पर मौजूद एंटीबॉडी स्ट्रिप पर मौजूद एंटीजन से जोड़कर एंटीजन-एंटीबॉडी कॉम्प्लेक्स का पता लगाया जाता है ।


एचआईवी वायरल लोड टेस्ट – जब पॉजिटिव होने की पुष्टि होने बाद HIV Viral Load के लिए एक टेस्ट भी करने की आवश्यकता होती है । यह टेस्ट रक्त में HIV की मात्रा को मापता है जिसे संक्रमण के ट्रीटमेंट की स्थिति को आंका जा सकता है ।


सीडी4 सेल काउंट टेस्ट – इस टेस्ट के माध्यम से CD4 cell काउंट किए जाते है । यानी मरीज़ के इम्मयून सिस्टम के बारे में बताता है । यदि मरीज़ की बॉडी में CD4 cell की संख्या 500 स्व भी कम है तो संक्रमण अधिक ही सकता है । डॉक्टर्स के अनुसार क्लस्टर ऑफ डिफरेंशियल 4 की संख्या जितनी अधिक होगी उतना ही मरीज हेल्थी होगा । निजी अस्पताल में इस टेस्ट की कीमत 3000 से 5000 रुपये है ।

एचआईवी एड्स का इलाज | Treatments of HIV AIDS in Hindi.


एचआईवी धीरे-धीरे प्रतिरक्षा प्रणाली को नष्ट कर सकता है और पूर्ण विकसित एड्स में परिवर्तित हो सकता है क्योंकि एड्स संक्रमण का अंतिम चरण है एचआईवी होने का मतलब यह नहीं है कि आपको एड्स है कभी-कभी यह प्रारंभिक अवस्था में भी हो सकता है और उचित उपचार के साथ इसे शीघ्र रोका भी जा सकता है दवाओं के साथ एचआईवी एड्स के इलाज की प्रक्रिया को एंटी रेट्रोवायरल थेरेपी कहा जाता है ।

यहां एचआईवी के साथ हर किसी के लिए एक अनुशंसित उपचार पद्धति है हालांकि एचआईवी के लिए कोई इलाज नहीं है यह दवाएं दूसरों में फैलने वाले वायरस के जोखिम को प्रबंधित करने में मदद करते हैं और एचआईवी से जुड़ी जटिलताओं के जोखिम को भी कम करती हैं। HIV symptoms in Hindi.


वैज्ञानिकों ने अब एक ऐसा इंजेक्शन बनाया है जिसे लेने से एड्स के मरीजों को 2 महीनों तक दवा खाने की जरूरत नहीं होगी इस इंजेक्शन का नाम केवेनुआवा है । जिसका इस्तेमाल ब्रिटेन में किया जाने लगा है। यह दवा दो दबाओं कोबोटेग्रेवियर के साथ रिलपिवरिन से बनी है।

HIV ka ilaaj in hindi.

जब आप एचआईवी पॉजिटिव को जान लेते हैं तो जीवन पहले के जैसा नहीं हो सकता है आप जीवन में कई कठिन अनुभवों से गुजर सकते हैं डरने उदास या क्रोधित होने की भावना दिमाग पर हावी हो सकती है बस यही याद रखें यह ठीक है और इस तरह के जीवन को बदलने वाले स्थिति के साथ मुकाबला करने का एक पूरी तरह से प्राकृतिक हिस्सा है ।

सही सहयोग और उपचार के साथ HIV के बाद भी एक लंबा सुखी और पूरा जीवन जी आज आ सकता है प्रौद्योगिकी में उन्नति ने एचआईवी पॉजिटिव लोगों के लिए औसत व्यक्ति के रूप में लंबे समय तक जीवित रहना संभव बना दिया है एचआईवी के बारे में बहुत सारी गलतफहमी ओं के कारण निदान और उपचार का तरीका एक प्रमुख कारक है कि कोई कैसे आगे बढ़ता है।


एचआईवी पॉजिटिव होने के बाद क्या करें | HIV positive life style in hindi.


एचआईवी पॉजिटिव ( HIV symptoms in Hindi ) होने के बाद भी लंबा जीवन जिया जा सकता है । मगर आपको काफी सावधानिया रखने की आवश्यकता होगी जैसे –
नियमित व्यायाम व संतुलित आहार – HIV पॉजिटिव होने के बाद मरीज के सबसे पहले आवश्यक है कि रोजाना व्यायाम करें एवं साथ ही साथ संतुलित आहार ग्रहण करे ताकि आपके शरीर में इम्युनिटी पॉवर का संतुलन बना रहे ।
नशे से परहेज़ करें – पॉजिटिव होने के बाद मरीज को धुम्रपान एवं नशे से दूर रहना चाहिए ताकि आपके शरीर में कोई अन्य बीमारी न पनपे ।


डॉक्टरों के मार्गदर्शन का पालन करें – एचआईवी दवाएं प्रतिरक्षा प्रणाली को प्रभावित करने के लिए वायरस की शक्ति को कम करती हैं । डॉक्टरों के आदेश के अनुसार दबाओं को जारी रखना महत्वपूर्ण है ।
सुनिश्चित करें कि किसी भी दिन ना छूटे क्योंकि वायरस कुछ ही समय में दवा प्रतिरोधी बन सकता है दवाइयों लेने का एक ही शेड्यूल रखें, प्रत्येक दिन एक ही समय पर दवा लें।

HIV ke baad kya kare.

सुरक्षित सेक्स का अभ्यास – यह सबसे महत्वपूर्ण है कि अपने और अपने साथी के प्रति ईमानदारी बरतें।
एसटीडी के लिए परीक्षण करवाएं – यदि आपको एसटीडी है तो यह अधिक संभावना है कि आपके एचआईवी और एसटीडी दोनों किसी को प्रेषित हो सकते हैं एसटीडी एचआईवी के उपचार को और भी कठिन बना सकता है इसलिए यह जरूरी है कि आपको एसटीडी की जांच के लिए अवश्य तैयार रहना चाहिए।


संक्रमण और बीमारी को रोके – जैसा कि एचआईवी के कारण आपके प्रतिरक्षा प्रणाली कमजोर हो जाती है वायरस रोगाणु और संक्रमण से संक्रमित होने की संभावना बहुत अधिक होती है । हमेशा हाथ धोएं । बीमार लोगों से दूर रहें और जितना संभव हो सके स्वस्थ रहें अन्य बीमारियों के जोखिम को कम करने के लिए टीकाकरण कार्यक्रमों पर अवश्य ध्यान दें।


तनाव और भावनाओं को प्रतिबंधित करें – एचआईवी से पीड़ित लोगों के लिए सामान्य कमियों में से एक अवसाद है । एचआईवी के संयुक्त तनाव से अवसाद के लक्षण बिगड़ जाते हैं । एचआईवी पीड़ित व्यक्ति के प्रति घृणा ना हो हमें रोग से घृणा होनी चाहिए रोगी से नहीं। HIV symptoms in Hindi. ।। शीला सिंह बिलासपुर हिमाचल प्रदेश

Leave a Comment